अपना शहर चुनें

States

IMF ने कहा, China समेत कई देशों को पीछे छोड़ेगी Indian Economy! दर्ज करेगी रिकॉर्ड 11.50 फीसदी विकास दर

आईएमएफ ने 2021 में ग्‍लोबल इकोनॉमी में 5.5 फीसदी ग्रोथ का अनुमान जताया है.
आईएमएफ ने 2021 में ग्‍लोबल इकोनॉमी में 5.5 फीसदी ग्रोथ का अनुमान जताया है.

अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की ओर से जारी वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक में भारतीय अर्थव्यव्स्था (Indian Economy) में तेजी से सुधार का अनुमान लगाया गया है, जबकि 2020 में कोरोना संकट के कारण देश की अर्थव्यवस्था में रिकॉर्ड गिरावट आई. साथ ही कहा कि बीते तीन महीनों में कुछ देशों में कोरोना वैक्‍सीन को लेकर अप्रत्याशित सफलता मिली है. कुछ देशों ने तो वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम (Vaccination Program) भी शुरू कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2021, 9:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था (Indian Economy) को लेकर अच्‍छे संकेत दिए हैं. आईएमएफ ने कहा है कि वित्त वर्ष 2021-22 में इंडियन इकोनॉमी दोहरे अंकों की जोरदार छलांग (Double Digit Growth) लगाएगी. अनुमान लगाया गया है कि भारत की विकास दर (Growth Rate) रिकॉर्ड 11.5 फीसदी की रफ्तार से बढ़ेगी. मुद्रा कोष ने कहा है कि कोरोना संकट के बीच बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में भारत अकेला देश होगा जो इतनी तेज आर्थिक वृद्धि हासिल करेगा. साथ ही कहा कि अगले वित्‍त वर्ष के दौरान भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था चीन (China) समेत दुनिया के बड़े देशों की आर्थिक वृद्धि को पीछे छोड़ देगी.

चीन 8.1 तो स्‍पेन 5.9 फीसदी की ग्रोथ हासिल करेंगे
आईएमएफ की ओर से जारी वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक में भारतीय अर्थव्यव्स्था में तेजी से सुधार का अनुमान लगाया गया है, जबकि 2020 में कोरोना संकट के कारण देश की अर्थव्यवस्था में रिकॉर्ड गिरावट आई. इस दौरान भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में 8 फीसदी गिरावट का अनुमान है. आईएमएफ की ओर से कहा गया है कि चीन 8.1 फीसदी की रफ्तार से आर्थिक वृद्धि हासिल कर सकती है. वहीं, स्पेन (Spain) 5.9 फीसदी और फ्रांस (France) 5.5 फीसदी की इकोनॉमिक ग्रोथ हासिल करेगी.

ये भी पढ़ें- 27 स्‍टॉक्‍स ने पिछले गणतंत्र दिवस से अब तक दिया 800% तक मुनाफा, देखें आपके पास भी है इनमें कोई शेयर
'तेजी से बढ़ती इकोनॉमी में एक माना जा सकता है भारत'


अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष ने मंगलवार को कहा कि भारत को तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था में एक माना जा सकता है. साथ ही कहा कि बीते तीन महीनों में कुछ देशों में कोरोना वैक्‍सीन को लेकर अप्रत्याशित सफलता मिली है. वहीं, कुछ देशों ने वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम भी शुरू कर दिया है. आईएमएफ ने 2021 के लिए ग्‍लोबल इकोनॉमी का अनुमान 5.5 फीसदी रखा है, जो अक्टूबर 2020 के अनुमान से 0.3 फीसदी ज्‍यादा है. कोष ने कहा कि 2021 के लिए हमारा नया अनुमान कुछ देशों में वैक्‍सीनेशन की शुरुआत के अच्‍छे असर को दर्शाता है. वहीं, संयुक्त राज्य अमेरिका और जापान जैसी अर्थव्यवस्थाओं में 2020 के अंत में आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज