लाइव टीवी

कभी एयर टिकट के लिए लेना पड़ा था कर्ज़, अब सुंदर पिचाई बन गए हैं Google & Alphabet के CEO

News18Hindi
Updated: December 4, 2019, 11:32 AM IST
कभी एयर टिकट के लिए लेना पड़ा था कर्ज़, अब सुंदर पिचाई बन गए हैं Google & Alphabet के CEO
सुंदर पिचाई अब गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के CEO बन गए हैं

दुनियाभर में फेमस सर्च इंजन गूगल (Google Search Engine) के भारतीय मूल के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) का प्रमोशन हो गया है. सुंदर पिचाई अब गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के CEO बन गए हैं. आइए आपको बताते हैं कौन है सुंदर पिचाई और कैसे तय किया उन्होंने ये मुश्किल सफ़र..

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2019, 11:32 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. गूगल (Google Search Engine) के भारतीय मूल के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) का प्रमोशन हो गया है. सुंदर पिचाई अब गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के CEO बन गए हैं. बता दें कि अभी तक यह जिम्मेदारी गूगल के सह संस्थापक सर्गेई ब्रिन के पास थी. नए बदलाव के बाद सर्गेई ब्रिन और गूगल के दूसरे सहसंस्थापक लैरी पेज कंपनी में सहसंस्थापक, शेयरधारक और अल्फाबेट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में बने रहेंगे. दूसरी ओर पिचाई अब गूगल और अल्फाबेट दोनों के सीईओ की जिम्मेदारी देखेंगे. पिचाई इसके साथ ही अल्फाबेट के बोर्ड आफ डायरेक्टर भी बने रहेंगे.

2015 में हुई थी अल्फाबेट की स्थापना
गूगल ने 2015 में अपने कंपनी स्वरूप में बड़ा बदलाव करते हुए अल्फाबेट की स्थापना की थी. अल्फाबेट विभिन्न कंपनियों का एक समूह है. अल्फाबेट गूगल को वायमो (स्वचालित कार) वेरिली (जैव विज्ञान) कैलिको (बायोटेक आर एंड डी) साइडवॉक लैब (शहरी नवोन्मेष) और लून (गुब्बारे की सहायता से ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट उपलब्धता) जैसे दूसरे संस्थानों से अलग करती है. ये सभी गूगल के मूल व्यवसाय नहीं हैं.

आइए आपको बताते हैं कौन है सुंदर पिचाई और कैसे तय किया उन्होंने ये मुश्किल सफ़र..

(1) कौन है पिचाई- सुंदर पिचाई का पूरा नाम सुंदरराजन पिचाई है. उनका जन्म तमिलनाडु के मदुरै में 12 जुलाई 1972 को हुआ था. भारत में आईआईटी खड़गपुर से बीटेक और स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से एम एस करने के बाद इन्होंने अमेरिका की पेन्सिलवेनिया यूनिवर्सिटी से एमबीए की डिग्री हासिल की. सुंदर पिचाई लंबे समय से बतौर गूगल कर्मचारी काम कर रहे थे. साल 2015 में उन्हें गूगल का सीईओ बनाया गया.

ये भी पढ़ें: 50 हजार में शुरू करें ये खास बिजनेस, पैसा जुटाने में सरकार करेगी आपकी मदद

google 21st birthday today sundar pichai success story earn 2 crore rupee a day as salary big stock award after lavish payouts
Loading...

(2) नहीं था घर में टीवी- सुंदर पिचाई चेन्नई में दो कमरों वाले घर में रहते थे. उनके परिवार में टीवी, टेलीफोन, कार कुछ भी नहीं था. मेहनत के बूते उन्हें IIT खड़गपुर में एडमिशन लिया. यहां से इंजीनियरिंग करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए उन्हें स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी की स्कॉलरशिप मिली थी. उस समय उनके घर की माली हालत इतनी खराब थी कि सुंदर के एयर टिकट के लिए उनके पिता को कर्ज लेना पड़ा था.

(3) ऐसे पहुंचे गूगल- आईआईटी से निकलने के बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा. विभिन्न कंपनियों में काम करते हुए उन्होंने करीब 11 साल पहले गूगल में नौकरी शुरू की थी. सुंदर ने एक इंटरव्यू में बताया था कि गूगल में जॉब के लिए मेरा इंटरव्यू 1 अप्रैल, 2004 को हुआ था.

>>इस इंटरव्यू में सुंदर पिचाई ने बताया, 'तब जीमेल लॉन्च हुआ था और मुझे इसके बारे में कुछ खास जानकारी नहीं थी. जब मुझसे जीमेल के बारे में पूछा गया, तो मुझे लगा कि ये अप्रैल फूल को लेकर मजाक किया गया है.'



>>पिचाई आगे बताते हैं,' पहले तीन इंटरव्यू में मैं इस बारे में जवाब नहीं दे पाया. चौथे इंटरव्यू में जब दोबारा पूछा गया तो मैंने कहा कि नहीं, मैं जीमेल के बारे में नहीं जानता. इसके बाद मुझे इस बारे में बताया गया.'

>> सुंदर पिचाई ने पहले मेकैंजी और फिर बतौर प्रोडक्ट मैनेजर गूगल को ज्वॉइन किया था. पहले उन्हें गूगल टूलबार, डेस्कटॉप सर्च, गूगल गीयर जैसे प्रोडक्ट की जिम्मेदारी दी गई.

ये भी पढ़ें: अगले साल 1 जून से देश में कहीं भी ले सकेंगे राशन, शुरू होगी ये स्कीम

>> इसके बाद क्रोम आया और वे कंपनी की अगली पंक्ति में आ खड़े हुए. 2011 में जीमेल की जिम्मेदारी मिली.

>> उसी साल सुंदर गूगल छोड़कर टि्वटर ज्वॉइन करने का मन बना चुके थे. तब गूगल ने करीब 305 करोड़ रुपये देकर उन्हें रोक लिया था. सुंदर को जब ट्विटर से जॉब ऑफर किया था, तो उनकी वाइफ ने ही उन्हें गूगल नहीं छोड़ने की सलाह दी थी.

(4) हर घंटे करोड़ों में कमाते हैं- गूगल सीईओ के तौर पर उन्हें साल 2018 में 47 करोड़ डॉलर (करीब 3,337 करोड़ रुपये) मिले थे. इसमें उनके सभी तरह के भत्ते शामिल है. फोक्स न्यूज के मुताबिक, हफ्ते में सुंदर पिचाई अगर 40 घंटे काम करते है, तो ऐसे में उनकी हर घंटे सैलरी 2,25,961 डॉलर (करीब 1.60 करोड़ रुपये ) बैठती है.



(5) कौन-कौन है फैमली में... सुंदर पिचाई ने अपनी लव स्टोरी के बारे में एक इंटरव्यू में बताया था. उन्होंने कहा था, 'उन दिनों स्मार्टफोन नहीं थे. इसीलिए किसी लड़की को उसके हॉस्टल से बुलाना बेहद मुश्किल था.' पिचाई आगे बताते हैं, 'अंजलि को बुलाने के लिए मैं गर्ल्स हॉस्टल के गेट पर जाता था और किसी से उसे बुलाने को कहता था.'

सुंदर पिचाई आगे बताते हें, 'जो लड़की अंजलि को आवाज देती वो जोर से कहती थी- अंजलि सुंदर आया है. ये आवाज सभी सुनते और इस तरह हमारी लव स्टोरी सभी को पता चल गई थी. मैंने अंजलि को फाइनल ईयर में प्रपोज किया था.' बता दें कि सुंदर पिचाई और अंजलि के अब दो बच्चे भी हैं.

ये भी पढ़ें: पेट्रोल पंप पर मुफ्त में मिलती है ये 9 सर्विस, नहीं देने पर लगेगा जुर्माना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 8:38 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...