लाइव टीवी

कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए भारत ने बैन किया इस दवा का निर्यात

News18Hindi
Updated: March 25, 2020, 10:34 AM IST
कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए भारत ने बैन किया इस दवा का निर्यात
कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों के इलाज में सहायक

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से लोगों को बचाने के लिए सरकार सभी तरह के संभव प्रयास कर रही है. कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों के इलाज में सहायक दिखे हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन केमिकल का निर्यात अब भारत सरकार ने बंद कर दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2020, 10:34 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी से लोगों को बचाने के लिए सरकार सभी तरह के संभव प्रयास कर रही है. कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों के इलाज में सहायक दिखे हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन केमिकल का निर्यात (Hydroxychlorine Export) अब सरकार ने बंद कर दिया गया है. यही नहीं, इस रसायन से बने अन्य फॉर्मूलेशन के निर्यात पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है. केंद्रीय उद्योग एवं वाणिज्य मंत्रालय के तहत काम करने वाले महानिदेशक, विदेश व्यापार (डीजीएफटी) से इस बारे में जरूरी अधिसूचना जारी हो चुकी है. डीजीएफटी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक कुछ शर्तों के आधार पर इस रसायन के निर्यात की छूट भी है.

3 शर्तों के आधार पर छूट देने का प्रावधान
सरकार ने इस रसायन के निर्यात के लिए 3 शर्तों के आधार पर छूट देने का प्रावधान किया है.

>> पहला- किसी ऐसे एसईजेड या एक्सपोर्ट ओरिएंटेड यूनिट से इसका निर्यात हो सकता है जबकि उसे पहले से तय हुए अडवांस लाइसेंस के दायित्व को पूरा करना हो.



ये भी पढ़ें: 3.5 करोड़ लोगों के खाते में DBT स्कीम के जरिये सीधे पैसे डालने की तैयारी!

>> दूसरा- इस अधिसूचना के जारी होने से पहले ही इरीवोकेबल लेटर ऑफ क्रेडिट या आईसीएलसी जारी हो गया हो या निर्यातक को इसका पूरा भुगतान पहले ही प्राप्त हो गया हो.

>> तीसरा- यदि भारत सरकार मानवीय आधार पर किसी देश को इस रसायन का निर्यात करने चाहती है तो फिर उस पर प्रतिबंध मान्य नहीं होगा.

देश में किल्लत ना हो इसलिए लगाया गया प्रतिबंध
वैसे तो कोरोना वायरस के इलाज के लिए अभी तक किसी दवा का इजाद नहीं हुआ है, लेकिन कई मामलों में इस रसायन से बनी दवा का उपयोग इस रोग से लड़ने में सहायक दिखा है. इसीलिए डॉक्टरों को आशा की एक नई किरण दिखी है. सरकार ने इस रसायन का निर्यात इसलिए प्रतिबंधित किया है ताकि इसकी देश में किल्लत ना हो.

ये भी पढ़ें: IndiGo ने अपने कर्मचारियों को दिया तोहफा, मिलेगी पूरी सैलरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 9:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर