लाइव टीवी

प्याज के बढ़ते दाम पर लगाम के लिए सरकार का बड़ा फैसला, निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाई रोक

News18Hindi
Updated: September 29, 2019, 6:35 PM IST
प्याज के बढ़ते दाम पर लगाम के लिए सरकार का बड़ा फैसला, निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाई रोक
प्याज के निर्यात पर रोक

देशभर के प्याज की कीमतों में तेजी से निपटने के लिए प्याज के निर्यात पर अगले आदेश तक रोक लगा दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2019, 6:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देशभर में प्याज (Onion Prices) की बढ़ती मांग और कीमतों में आई तेजी से निपटने के लिए केंद्र सरकार (Central Government) ने एक बड़ा फैसला लिया है. केंद्र सरकार ने भारत से होने वाले प्याज की निर्यात (Ban on Onion Export ) पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया है. इसके पहले प्याज की बढ़ती कीमतों से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने मिस्र (Egypt) और अफगानिस्तान (Afghanistan) से प्याज के आयात (Onion Import) करने का फैसला लिया है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि अफगानिस्तान और मिस्र से आयात होने वाले प्याज की खेप अक्टूबर माह के मध्य तक भारत पहुंच जाएगी, जिसके बाद आम आदमी को प्याज की कीमतों से राहत मिल सकती है.

डायरेक्टर जनरल ऑफ फॉरेन ट्रेड (Director General of Foreign Trade) ने रविवार को जानकारी दी है कि प्याज के एक्सपोर्ट पॉलिसी (Onion Export Policy) में बदलाव किया गया है. अगले आदेश तक प्याज के निर्यात पर पूरी तरह से रोक लगाया जाता है. बता दें कि राजधानी दिल्ली में प्याज की कीमतें 70 - 80 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर हैं.



प्याज के निर्यात पर रोकये भी पढ़ें: आपने भी की है होटल कमरे की एडवांस बुकिंग तो हो जाइए खुश, 1 अक्टूबर के बाद मिलेगा रिफंड!


अफगानिस्तान और मिस्र से प्याज आयात करेगी सरकार
बता दें कि बाजार में प्याज की कमी से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने पहले ही इजिप्ट और अफगानिस्तान से प्याज आयात करने का फैसला ​लिया है. इसी सिलसिले में सरकार पाकिस्तान के रास्ते अफगानिस्तान से प्याज आयात कर रही है. आने वाले कुछ दिन में यह स्टॉक भारत में आ जाएगा. Egypt से भारत में प्याज आयात किया जाएगा जोकि 15 अक्टूबर तक यहां पहुंच जाएगा. बताते चलें कि अंतिम बार प्याज की कीमतों में इतनी तेजी साल 2015 में दर्ज की गई थी. उस दौरान बाढ़ से फसल बर्बाद होने के बाद प्याज की कीमतें 100 रुपये ​प्रति किलोग्राम के पार पहुंच गई थीं.
Loading...

क्या हैं प्याज की कीमतों में तेजी के कारण
मार्केट एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी कंवरपाल सिंह दुआ ने NEWS 18 इंग्लि​श को कुछ दिन पहले बताया था कि प्याज के आवक की कमी होने का सबसे बड़ा कारण दक्षिण भारत और मध्य प्रदेश में जोरदार बारिश है. उन्होंने कहा, 'भारी बारिश और नमी के कारण मध्यम प्रदेश में प्याज की स्टॉकिंग जरूरी स्तर तक नहीं पूरी हुई. दक्षिण भारत में भारी बारिश की वजह से फसल बर्बाद हो चुकी है. नासिक क्षेत्र जो सबसे बेहतर क्वालिटी के प्याज के लिए जाना जाता है, वहां पर बारिश की वजह से प्याज की फसल करीब दो सप्ताह की देरी से लगी. पहले हमें यह प्याज की यह फसल दिवाली से पहले मिलती थी, लेकिन अब यह फसल दिवाली के बाद या फिर उसके ठीक बाद तक मिल सकेगी. इसमें करीब एक माह की देरी होगी.'

ये भी पढ़ें:  आपके पास है आधार तो महीने में बुक कर सकते हैं 10 से ज्यादा ट्रेन टिकट, जानें इसके बारे में सबकुछ

स्टॉक होल्ड करने से भी प्याज की कीमतों में तेजी
एक अन्य विक्रेता ने कहा कि कई किसान आने वाले दिनों में प्याज की कीमतों में बढ़ोतरी के आसार देखते हुए प्याज के स्टॉक को बाजार में नहीं ला रहे हैं. हर साल यही हाल रहता है. बेहतर मुनाफा कमाने के लिए प्याज के स्टॉक को होल्ड किया जाता है और जब भाव बढ़ जाता है तो इसका फायदा उठाया जाता है.

केंद्र सरकार ने प्याज के निर्यात पर रोक लगाया


अक्टूबर माह के दूसरे सप्ताह तक मिल सकती है राहत

अग्रेज़ी अख़बार टाइम्स ऑफ इंडिया ने हाल ही में एक रिपोर्ट में खुदरा दकानदारों से बात करने के बाद लिखा था कि प्याज उत्पादन करने वाले राज्यों में भारी बारिश और बाढ़ की स्थिति की वजह से प्याज की कीमतों में इतनी तेजी देखने को मिल रही. भारी बारिश के कारण महाराष्ट्र, कर्नाटक और अन्य दक्षिण भारतीय राज्यों से उत्तर भारत में प्याज की नई फसल की सप्लाई नहीं हो पा रही है.

ये भी पढ़ें: कल खुलेगा IRCTC का आईपीओ, रिटेल निवेशकों को मिलेगी ₹10/शेयर की छूट

राजधानी में बेहद सस्ते दर प्याज बेच रही दिल्ली सरकार

राजधानी दिल्ली में आसमान छूती प्याज की कीमतों के बीच दिल्ली सरकार ने लोगों को राहत देते हुए शनिवार को ऐलान किया कि सरकार प्याज बेचने का काम करेगी. इस दौरान भाव 23.90 रुपये प्रति किलोग्राम होगा. इस योजना के तहत एक व्यक्ति अपने परिवार के लिए इस कीमत पर अधिकतम 5 किलोग्राम प्याज खरीद सकता है.

चंडीगढ़ में सस्ता प्याज बिक रहा

प्याज की आसमान छूती कीमतों के बीच अब चंडीगढ़ में खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने लोगों को राहत देने की पहल की है. यहां पर विभाग ने कई जगहों पर स्टाॅल लगा कर प्याज बेचना शुरू किया है. बताया जा रहा है कि यहां पर प्याज के भाव 75 रुपये तक पहुंचने के बाद अब खाद्य एवं आपूर्ति विभाग 30 से 35 रुपये प्रति किलो के भाव से लोगों को प्याज उपलब्‍ध करवा रहा है. इसको लेने के लिए लोगों की लंबी कतारें भी लगी हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 2:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...