लाइव टीवी

सरकार ने दवाइयों की ऑनलाइन बिक्री पर लगाई रोक, जानें क्या है वजह?

News18Hindi
Updated: December 4, 2019, 6:22 PM IST
सरकार ने दवाइयों की ऑनलाइन बिक्री पर लगाई रोक, जानें क्या है वजह?
सरकार ने ऑनलाइन दवाइयों की बिक्री पर लगाया रोक

DCGI ने ऑनलाइन दवाइयां बेचने वाले ऐसे प्लेटफॉर्म, जिनके पास लाइसेंस नहीं है, उनके दवाइयां बेचने पर रोक लगा दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2019, 6:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ऑनलाइन दवा खरीदने वालों के लिए महत्वपूर्ण खबर है. ड्रग कंट्रोलर जेनरल ऑफ इंडिया (Drugs Controller General of India, DCGI) ने ऑनलाइन दवाइयां बेचने वाले ऐसे प्लेटफॉर्म, जिनके पास लाइसेंस नहीं है, उनके दवाइयां बेचने पर रोक लगा दी है. बिक्री पर बैन का आदेश सभी राज्यों में सर्कुलेट कर दिया गया है.

लाइव मिंट की रिपोर्ट के अनुसार, जब तक नियामक एजेंसी ई-फार्मेसीज को लेकर नियम-कानून का ड्राफ्ट तैयार और जारी नहीं हो जाता. नियमन को लेकर प्रस्ताव है कि ई-फार्मेसीज का सरकार के साथ रजिस्ट्रेशन किया जाए और उनकी डॉक्टरों और मरीजों को दी जाने वाली प्रिस्क्रिप्शन्स का रिकॉर्ड रखा जाए. वेबसाइट ने सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन (Central Drugs Standard Control Organisation, CDSCO) के सूत्र के हवाले से कहा है कि ई-फार्मेसीज से जुड़े नियम-कानून पर अभी काम चल रहा है.

ये भी पढ़ें: अब इस देश में भी चलेगा भारत का ATM कार्ड, मुफ्त में मिलेगा ₹10 लाख का बीमा और ये सुविधाएं

DCGI के हेड वी.जी सोमानी ने 28 नवंबर को एक खत लिखकर यह आदेश दिया है, उनके इस आदेश के बाद इस बिजनेस में पैसा लगा चुके कई प्लेटफॉर्म्स अब मुश्किल में हैं. DCGI ने अपने लेटर में 12 दिसंबर, 2018 को आए दिल्ली हाईकोर्ट के एक आदेश का हवाला दिया है, यह केस एक डर्मेटोलॉजिस्ट डा. ज़हीर अहमद ने दाखिल किया था. इस आदेश में कहा गया था कि दवाइयों की ऑनलाइन बिक्री पर रोक लगना चाहिए क्योंकि ई-फॉर्मेसीज के पास इसके लिए कोई लाइसेंस नहीं होता, जिससे Drugs and Cosmetics (D&C) Act का उल्लंघन होता है.

ये भी पढ़ें:
2,000 रुपये के नोट को बंद करने पर सरकार ने दिया ये जवाब!
15 दिसंबर से इस बैंक में बदल जाएंगे पैसों के लेनदेन के नियम, जान लें नहीं तो होगा नुकसानसरकार की नई स्कीम में पैसा लगाकर आप भी कर सकेंगे कमाई, कैबिनेट ने दी मंजूरी

(सोर्स- हिंदी मनीकंट्रोल)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 3:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर