केंद्र सरकार ने की बड़ी घोषणा! ESLGS योजना का किया विस्तार, अब कम ब्याज दर पर मिलेगा 2 करोड़ तक का लोन

सरकार ने आपातकालीन क्रेडिट लाइन गारंटी योजना का किया विस्तार

सरकार ने आपातकालीन क्रेडिट लाइन गारंटी योजना का किया विस्तार

ECLGS 4.0: ईसीएलजीएस 4.0 (ECLGS 4.0) के तहत, अस्पतालों, नर्सिंग होम, क्लीनिक, मेडिकल कॉलेजों को ऑन साइट ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र स्थापित करने के लिए दिए गए 2 करोड़ तक के लोन पर 100% गारंटी कवर दिया जाएगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना की दूसरी लहर के कारण हुए आर्थिक घाटे को देखते हुए वित्त मंत्रालय ने रविवार को बड़ी घोषणा की है. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आपातकालीन क्रेडिट लाइन गारंटी योजना (Emergency Credit Line Guarantee Scheme ECLGS) का विस्तार किया है. ईसीएलजीएस 4.0 (ECLGS 4.0) के तहत, अस्पतालों, नर्सिंग होम, क्लीनिक, मेडिकल कॉलेजों को ऑन साइट ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र स्थापित करने के लिए दिए गए 2 करोड़ तक के लोन पर 100% गारंटी कवर दिया जाएगा. बता दें कि इस पर 7.5 फीसदी की ब्याज दर तय की गई है.

इसके अलावा सरकार ने ECLGS 1.0 स्कीम की अवधि भी बढ़ाने का फैसला किया है. इस स्कीम की वैलिडिटी बढ़ाकर 30 सितंबर 2021 तक या फिर जब तक 3 लाख करोड़ का लोन नहीं बांट दिया जाता है, तब तक करने का फैसला किया है. इस स्कीम के तहत 31 दिसंबर 2021 तक लोन डिस्बर्समेंट करना होगा.


मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, जिन लोगों ने 'ईसीएलजीएस 1.0' के तहत लोन लिया है, उन्हें चार साल की बजाय अब लोन चुकाने के लिए पांच साल का समय मिलेगा. अर्थात उन्हें अब 24 महीने के लिए ब्याज देना होगा और मूलधन और ब्याज को कुल 36 महीनों में अदा करना होगा.
ये भी पढ़ें: सरकार ने किया बड़ा ऐलान! 21 हजार तक सैलरी वालों को मिलेगी पेंशन, ESIC की पारिवारिक पेंशन योजना का इन लोगों को होगा लाभ

जानिए क्या है ECLGS

इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी स्कीम (ECLGS) की शुरुआत वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन के कारण कारोबारों पर पैदा हुए संकट को कम करने के लिये मई 2020 में की थी. इस योजना का उद्देश्य सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs), व्यावसायिक उद्यमों, तथा मुद्रा योजना (MUDRA Yojana) के उधारकर्त्ताओं को पूरी तरह से गारंटी व गारंटी फ्री लोन प्रदान करना है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज