• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • नितिन गडकरी बोले- साल 2030 तक प्राइवेट कारों में EV की बिक्री हिस्सेदारी 30% करने का है लक्ष्य

नितिन गडकरी बोले- साल 2030 तक प्राइवेट कारों में EV की बिक्री हिस्सेदारी 30% करने का है लक्ष्य

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा कि सरकार का इरादा 2030 तक प्राइवेट कारों में इलेक्ट्रिक वाहनों (EV) की बिक्री हिस्सेदारी 30 फीसदी करने का है

  • Share this:

    नई दिल्ली. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने शुक्रवार को कहा कि सरकार का इरादा 2030 तक प्राइवेट कारों में इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicle) की बिक्री हिस्सेदारी 30 फीसदी, कमर्शियल वाहनों (Commercial Vehicles) में 70 फीसदी और टू-व्हीलर एवं थ्री-व्हीलर वाहनों में 80 फीसदी करने का है क्योंकि ट्रांसपोर्ट सेक्टर में कार्बन उत्सर्जन कम करने की तत्काल जरूरत है.

    गडकरी ने कहा कि अगर इलेक्ट्रिक वाहन बिक्री 2030 तक दोपहिया और कारों के खंड में 40 प्रतिशत और बसों के लिए 100 प्रतिशत के करीब पहुंच जाती है, तो भारत कच्चे तेल की खपत को 15.6 करोड़ टन कम करने में सक्षम होगा जिसकी कीमत 3.5 लाख करोड़ रुपये है.

    ये भी पढ़ें- Mutual Fund- इस कंपनी ने लॉन्च किया निफ्टी हेल्थकेयर ETF, सिर्फ 500 रुपए से करें निवेश, 20 अक्टूबर को होगा बंद

    इंडस्ट्री बॉडी फिक्की (FICCI) की ओर से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा, ”ट्रांसपोर्ट सेक्टर में कार्बन उत्सर्जन कम करने और इकोनॉमी, इकोलॉजी और पर्यावरण के दृष्टिकोण से इसे सस्टैनबल बनाने की तत्काल जरूरत है.”

    ये भी पढ़ें- पैसों की है जरूरत तो घर बैठे निकालें PF का पैसा, 1 घंटे में मिल जाएंगे 1 लाख रुपये, जानिए क्या है प्रोसेस?

    सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने कहा, ”सरकार का इरादा 2030 तक निजी कारों में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री हिस्सेदारी 30 फीसदी, कमर्शियल वाहनों में 70 फीसदी, बसों में 40 फीसदी और टू-व्हीलर एवं थ्री-व्हीलर वाहनों में 80 फीसदी करना है.”

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज