होम /न्यूज /व्यवसाय /क्या देश के सभी छात्रों को मुफ्त लैपटॉप दे रही है मोदी सरकार! जानिए सच्चाई

क्या देश के सभी छात्रों को मुफ्त लैपटॉप दे रही है मोदी सरकार! जानिए सच्चाई

पीआईबी फैक्ट चेक ने जब इस वायरल मैसेज की पड़ताल की. तो पाया कि यह मैसेज पूरी तरह से फर्जी है.

पीआईबी फैक्ट चेक ने जब इस वायरल मैसेज की पड़ताल की. तो पाया कि यह मैसेज पूरी तरह से फर्जी है.

साइबर फ्रॉड (Cyber fraud) करने वाले लोगों ने वॉट्सऐप (Whatsapp) पर वायरल हुए मैसेज में एक लिंक भी दिया है. जिसमें इस सु ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. कोरोना महामारी के दौरान ज्यादातर लोग घर से ही काम कर रहे है. इसके साथ ही देश के सभी स्कूल ऑनलाइन माध्यम से छात्रों की पढ़ाई करा रहे है. ऐसे में साइबर फ्रॉड करने वाले लोग इसका फायदा उठाने के लिए रोज नए तरीके ईजाद कर रहे है और लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं. आपको बता दें इन दिनों साइबर फ्रॉड करने वाले अपराधियों की ओर से वॉट्सऐप पर एक मैसेज वायरल किया जा रहा है. जिसमें उनकी ओर से दावा किया जा रहा है कि सरकार ऑनलाइन पढ़ाई के लिए छात्रों को फ्री में लैपटॉप, टेबलेट और स्मार्टफोन दे रही है.

    इस मैसेज के साथ साइबर फ्रॉड करने वाले लोगों  ने एक लिंक भी दिया है. जिसमें इस सुविधा का लाभ पाने के लिए अपनी निजी डिटेल भरने के लिए कहा जा रहा है. ऐसे में यदि आपने इस लिंक पर अपनी निजी डिटेल भरते हैं तो आप साइबर फ्रॉड का शिकार हो सकते है. आइए जानते है इस मैसेज की पूरी सच्चाई.

    यह भी पढ़ें: बड़ी खबर! दिल्ली में सब्जियों के दामों में हो सकती है भारी बढ़ोतरी, जानिए पूरा मामला

    मैसेज को शेयर करने के लिए किया निवेदन- वॉट्सऐप पर वायरल हुए इस मैसेज में साइबर ठगों ने लोगों से मैसेज को शेयर करने की अपील की है. जिसमें साइबर ठगों की ओर से कहा गया है कि 'इस मैसेज को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें. ताकि जिन लोगों को लैपटॉप की आवश्यकता हो, वे इसे प्राप्त कर सकें और हमारे देश की साक्षरता दर में सुधार हो सके'. आपको बता दें इसी तरह के निवेदन से साइबर ठग ऐसे मैसेजों को वायरल कराते हैं.





    PIB Fact Check में वायल मैसेज निकला फर्जी- भारत सरकार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पीआईबी फैक्ट चेक ने जब इस वायरल मैसेज की पड़ताल की. तो पाया कि यह मैसेज पूरी तरह से फर्जी है. अपनी पड़ताल में पीआईबी फैक्ट चेक ने पाया कि. सरकार की ओर से ऑनलाइन शिक्षा के लिए फ्री में लैपटॉप, टैबलेट और स्मार्टफोन इत्यादि देने का कोई वादा नहीं किया गया. ऐसे में भारत सरकार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पीआईबी फैक्ट चेक पर लोगों से अपील की गई है कि, वो इस तरह के फर्जी वायरल मैसेज पर विश्वास नहीं करें. इसके साथ ही अपनी निजी जानकारी मैसेज में दिए गए लिंक पर साझा न करें.

    Tags: Fake Message, Modi Govt, PIB fact Check, Twitter, Viral, Whatsapp

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें