हवाई सफर करने वालों के लिए जरूरी खबर, सरकार किराए समेत इन पाबंदियों को करेगी खत्म

Aviation Industry

Aviation Industry

सिविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी (Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri) ने कहा है कि गर्मियों के मौसम में घरेलू हवाई यातायात में और वृद्धि की उम्मीद के साथ सरकार उड़ानों के संबंध में अन्य पाबंदियों के साथ किरायों पर सीमा की पाबंदी को हटा सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2021, 9:44 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सिविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी (Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri) ने कहा है कि गर्मियों के मौसम में घरेलू हवाई यातायात में और वृद्धि की उम्मीद के साथ सरकार उड़ानों के संबंध में अन्य पाबंदियों के साथ किरायों पर सीमा की पाबंदी को हटा सकती है. शुक्रवार को जारी आधिकारिक बयान के अनुसार नागर विमानन मंत्रालय की परामर्श समिति की गुरुवार को हुई बैठक में सवालों के जवाब में पुरी ने यह भी कहा कि घरेलू हवाई यातायात दिन-ब-दिन बढ़ रहा है और अब यह करीब 3 लाख यात्री प्रतिदिन पहुंच गया है.

पुरी ने संसद सदस्यों को कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों के साथ विमानन क्षेत्र के लाभ के लिए मंत्रालय द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में भी बताया. बयान के अनुसार उन्होंने किराये की न्यूनतम और अधिकतम सीमा के बारे में जानकारी दी. बयान के अनुसार, उन्होंने किराए की न्यूनतम और अधिकतम सीमा के बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि गर्मियों के दौरान जैस-जैसे घरेलू यातायात और बढ़ेगा, इसके साथ ही किराया सीमा और अन्य पाबंदियों को समाप्त किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें- रिजर्व बैंक ने अब इस बैंक पर लगाई पाबंदी, ग्राहक नहीं निकाल पाएंगे 1 हजार से ज्यादा रुपये

बता दें कि उड़ान योजना के तहत सरकार ने 1000 हवाई मार्गों को शुरू करने का लक्ष्य तय किया है. हाल ही में पूरी ने कहा था कि हमारा लक्ष्य है कि 100 बंद या आंशिक रूप से संचालित हवाई अड्डों को शुरू किया जाए और उड़ान योजना के तहत कम से कम एक हजार हवाई मार्गों को शुरू किया जाएगा. हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि 56 हवाई अड्डों का बेहतर किया जा चुका है, इसके अलावा 2017 में उडान योजना शुरू होने के बाद 4500 करोड़ रुपये की लागत से 311 मार्गों पर हवाई सेवा शुरू हो चुकी है. बता दें कि कोरोनाकाल में एविएशन इंडस्ट्री सबसे ज्यादा प्रभावित रही है. लगभग सभी एयरलाइन कंपनी घाटे में चल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज