Home /News /business /

LTCG Tax खत्म करने की सरकार की कोई योजना नहीं, जानें क्या है ये टैक्स

LTCG Tax खत्म करने की सरकार की कोई योजना नहीं, जानें क्या है ये टैक्स

finance ministry ने संसद में साफ कर दिया कि वह लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स को नहीं हटाने जा रही है.

finance ministry ने संसद में साफ कर दिया कि वह लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स को नहीं हटाने जा रही है.

पूंजीगत संपत्ति के ट्रांसफर होने पर होने वाले प्रॉफिट पर कैपिटल गेन (पूंजीगत फायदा) के तहत टैक्स लगाया जाता है. इस टैक्स को लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (long term capital gain) टैक्स कहते हैं. कैपिटल गेन्स से हुई इनकम को शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन (STCG) और लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स (LTCG) में रखा जाता है. इन दोनों के लिए टैक्स की दरें भी अलग होती हैं.

अधिक पढ़ें ...

    LTCG Tax News: लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स (long term capital gains tax) को लेकर चर्चाओं का बाजार है कि सरकार इस टैक्स को खत्म कर सकती है. लेकिन ऐसा कुछ नहीं होने जा रहा है. सरकार की LTCG tax खत्म करने की फिलहाल तो कोई योजना नहीं है. वित्त मंत्रालय (finance ministry) ने संसद में इस बारे में साफ कर दिया कि वह लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स को नहीं हटाने जा रहा है. संसद की शीतकालीन सत्र में एक सवाल के जवाब में वित्त मंत्रालय ने यह बात कही.

    सरकार ने यह भी कहा है कि म्यूचुअल फंड (mutual funds) और इक्विटी के लिए एलटीसीजी (LTCG) की अवधि को एक साल से बढ़ाकर 2 साल करने की उसकी कोई योजना नहीं है.

    सरकारी की आमदनी
    सरकार ने वर्ष 2018-19 से 2020-21 के लिए एलटीसीजी से मिले राजस्व का भी खुलासा किया है. वित्त मंत्रालय ने संसद में बताया कि वर्ष 2018-19 में सरकार को लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स से 1,222 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल किया. इसी तरह वर्ष 2019-20 में 3,460 करोड़ और 2020-21 में 5,311 करोड़ रुपये जुटाए हैं.

    भारत की खुद की डिजिटल करेंसी, संसद में अगले हफ्ते पारित हो सकता है Cryptocurrency Bill

    स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टिड इक्विटी शेयरों की बिक्री पर लंबी अवधि के पूंजीगत लाभ को अप्रैल, 2018 से कर योग्य बना दिया गया है. इक्विटी निवेश के मामले में, लंबी अवधि का मतलब खरीद की तारीख से एक वर्ष से अधिक की होल्डिंग अवधि है. लंबी अवधि के पूंजीगत लाभ सूचीबद्ध इक्विटी शेयरों की बिक्री पर कमाया मुनाफा होता है.

    इक्विटी निवेश में एक शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन टैक्स भी है, जिस पर 12 महीने की अवधि के भीतर इक्विटी शेयरों की बिक्री के लिए आयकर स्लैब के बावजूद 15 फीसदी टैक्स लगाया जाता है.

    फटाफट चार्ज होंगे Electric Vehicle, पेट्रोल पंपों पर मिलेगी कार-स्कूटर चार्जिंग की सुविधा

    क्या है एलटीसीजी (What is LTCG Tax)
    पूंजीगत संपत्ति के ट्रांसफर होने पर होने वाले प्रॉफिट पर कैपिटल गेन (पूंजीगत फायदा) के तहत टैक्स लगाया जाता है. इस टैक्स को लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (long term capital gain) टैक्स कहते हैं. कैपिटल गेन्स से हुई इनकम को शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन (STCG) और लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स (LTCG) में रखा जाता है. इन दोनों के लिए टैक्स की दरें भी अलग होती हैं.

    लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स शेयर मार्केट, घर, संपत्ति, जेवर, कार, बैंक एफडी, एनपीएस और बॉन्ड की बिक्री से होने वाले मुनाफे पर कैपिटल गेन टैक्‍स (Capital Gain Tax) वसूलती है.

    Tags: Mutual funds, Share market

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर