• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • दिहाड़ी मजदूरों और नौकरी करने वालों के लिए सरकार कर सकती है बड़ा ऐलान, जल्द होगी FM की प्रेस कॉन्फ्रेस

दिहाड़ी मजदूरों और नौकरी करने वालों के लिए सरकार कर सकती है बड़ा ऐलान, जल्द होगी FM की प्रेस कॉन्फ्रेस

मजदूरों करने वालों के लिए खबर

मजदूरों करने वालों के लिए खबर

CNBC आवाज़ को सूूत्रोें से मिली जानकारी के मुताबिक, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister of India) 1 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी. इसमें 1.5 लाख करोड़ रुपये के राहत पैैकेज का ऐलान हो सकता है. इस पैकेज के तहत देश के 10 करोड़ गरीब लोगों के खाते में सीधे पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश की अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को कोरोना वायरस (Coronavirus) से हो रहे नुकसान से उबराने के लिए केंद्र की मोदी सरकार 1.50 लाख करोड़ रुपये (19.6 अरब डॉलर) के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज (Relief Package for Industry) की घोषणा कर सकती है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार ने राहत पैकेज को अंतिम रूप दे दिया है. सूत्रों के मुताबिक इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) और रिजर्व बैंक (RBI) के बीच सहमति बन गई है. प्रोत्साहन पैकेज 2.3 लाख करोड़ रुपये तक का हो सकता है, लेकिन प्रोत्साहन पैकेज कितने का होगा, इस पर अभी विचार-विमर्श जारी है. इस पैकेज की घोषणा हफ्ते के आखिर हो सकती है.

    क्या होगी घोषणा- सूूत्रों के मुताबिक, सरकार एविएशन इंडस्ट्री को 12 हजार करोड़ रुपये का राहत पैकेज दे सकती है. इसके अलावा 1 अप्रैल से शुरू हो रही वित्त वर्ष 2020-21 के लिए कर्ज में इजाफा कर सकती है. सरकार ने आगामी वित्त वर्ष के लिए 7.8 लाख करोड़ रुपये का कर्ज लेने की योजना बनाई है.

    ये भी पढ़ें-कर्मचारियों के लिए हैंड सैनेटाइजर बना रही है Railway, इतनी है कीमत

    उन्होंने कहा कि केंद्रीय बैंक से सरकारी प्रतिभूतियों को खरीदने के लिए कहा गया था, हालांकि महंगाई बढ़ने के डर से पिछले एक दशक से आरबीआई ने ऐसा नहीं किया है. अधिकारी ने कहा, आरबीआई को दुनिया के अन्य केंद्रीय बैंकों की तरह ही बॉन्ड खरीदना पड़ेगा.

    भारत ने मंगलवार रात 12 बजे से 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है. इसके बाद देश की 130 करोड़ आबादी अपने घर से नहीं निकल पा रही है. कोरोना वायरस के संकट से मुकाबले के लिए यह दुनिया का सबसे महत्वाकांक्षी प्रयास है.

    ये भी पढ़ें-नोटों से फ़ैल सकता है कोरोना! सरकार ने कहा डिजिटल लेन-देन करें लोग

    सरकार ने पिछले 48 घंटे में किए कई बड़े ऐलान
    बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्यक्षता में हुई बैठक में कैबिनेट ने 80 करोड़ लोगों को सस्ती दर पर अनाज देने का फैसला किया. कैबिनेट बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि सरकार ने 80 करोड़ लोगों को 27 रुपये किलोग्राम वाला गेहूं मात्र 2 रुपये प्रति किलोग्राम में और 37 रुपये किलोग्राम वाला चावल 3 रुपये प्रति किलोग्राम में मिलेंगे. केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'सरकार ने राज्य सरकारों को 3 महीने का एडवांस सामान खरीदने को कहा है.'

    इससे पहले मंगलवार को वित्त मंत्री ने बिलेटेड इनकम टैक्स रिटर्न को लेकर राहत देने का ऐलान किया. अगर किसी व्यक्ति ने फाइनेंशियल ईयर 2018-19 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल (ITR) नहीं किया तो अब 10,000 रुपये की लेट फीस के साथ 30 जून 2020 तक फाइल कर सकते हैं.

    वित्त मंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के असर से निपटने के लिए वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने ये फैसला लिया है. आपको बता दें कि मौजूदा समय में वित्त वर्ष 2019-20 के लिए इनकम टैक्स भरा जाना है. जिसकी आखिरी तारीख 31 अगस्त 2020 है.

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने सेविंग बैंक खाते (Saving Bank Account) के लिए मिनिमम बैलेंस (Minimum Balance in Saving Account) चार्ज से पूरी तरह छूट देने का ऐलान किया. यानी अब बैंक खाते में मिनिमम बैलेंस मेंटेन करने की जरुरत नहीं है.

    अगले तीन महीने तक किसी भी बैंक के डेबिट कार्ड (Bank Debt Card) से किसी भी अन्य बैंक के एटीएम से पैसे निकालने पर कोई चार्ज नहीं देना होगा.

    सरकार ने लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए यह कदम उठाया है. सरकार की मंशा है कि कैश निकालने के लिए लोगों को अपने घरों से ज्यादा दूर नहीं जाना पड़े और पास के ही उपलब्ध एटीएम से पैसे निकाल सकें.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन