दवा और मेडिकल उपकरण बनाने के लिए सरकार ने 14 हजार करोड़ की स्कीम को मंजूदी दी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में बल्क ड्रग औऱ मेडिकल डिवाइस का घरेलू उत्पादन बढ़ाने के लिए विशेष पैकेज को मंजूरी दे दी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में बल्क ड्रग औऱ मेडिकल डिवाइस का घरेलू उत्पादन बढ़ाने के लिए विशेष पैकेज को मंजूरी दे दी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. आर्थिक मोर्चे पर कोरोना से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में बल्क ड्रग और मेडिकल डिवाइस का घरेलू उत्पादन बढ़ाने के लिए विशेष पैकेज को मंजूरी दे दी है. इसके अलावा नए प्लांट लगाने औऱ उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए इंसेटिव्स मिलेगा. मेडिकल डिवाइस का उत्पादन बढ़ाने के लिए भी इंसेंटिव पैकेज मिलेगा.

    कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि ड्रग पार्क बनाने पर 3000 करोड़ रुपये खर्च होंगे. एपीआई को बढ़ावा देने के लिए 6900 करोड़ रुपये खर्च होंगे. देश के 4 राज्यों में मेडिकल डिवाइस पार्क बनाए जाएंगे. 3420 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

    ये भी पढ़ें- पानी से सस्ता हुआ कच्चा तेल, आई 29 साल की सबसे बड़ी गिरावट
    प्राइवेट कारोबारियों को विशेष छूट मिलेगी. कैंसर, रेडियोलॉजी से जुड़े बड़े मेडिकल इक्विपमेंट भारत में बनाने वालों को 5 फीसदी अतिरिक्त छूट मिलेगी.




    प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि भारत में दवा बनाने के लिए 80 फीसदी एपीआई विदेशों से मंगाए जाते है. फार्मा में इस पैकेज में सरकार कुल 14 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी. आपको बता दें कि कैबिनेट की प्रेस कॉन्फ्रेंस पहली बार डिजिटल आधरित थी. इसमें सभी रिपोटर्स व्हाट्स के जरिए सवाल पूछ रहे थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.