भारत सरकार कभी भी कर सकती है दूसरे राहत पैकेज की घोषणा, जानिए किसके लिए क्या होगा खास

वित्त मंत्री निर्मला सीताारमण (Finance Minister of India)
वित्त मंत्री निर्मला सीताारमण (Finance Minister of India)

केंद्र सरकार (Government of India) फेस्टिव सीजन (दशहरा और दिवाली) से पहले राहत पैकेज (Second Stimulus Package for Indian Economy) देने की तैयारी कर रही है. पिछले कुछ दिनों में पीएमओ और अलग-अलग मंत्रालयों के बीच इस पर कई बैठकें हो चुकी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 2:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना की वजह से अर्थव्यवस्था (Indian Economy) में छाई मंदी को दूर करने के लिए अगले राहत पैकेज की तैयारियां अंतिम चरण (Second Stimulus Package for Indian Economy) में है. सीएनबीसी आवाज को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अगला राहत पैकेज पहले के मुकाबले छोटा रह सकता है. इसमें कोरोना और लॉकडाउन से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए सेक्टरों जैसे होटल, टूरिज्म, एविएशन और हॉस्पिटैलिटी पर सबसे ज्यादा जोर होगा. इस खबर के बाद से स्पाइस जेट, डेल्टाकॉर्प जैसे शेयरों में जोरदार तेजी आई है.

कैसा होगा अगला राहत पैकेज- सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिकअगले राहत पैकेज की तैयारियां अंतिम चरण में पहुंच गई है. इसकी घोषणा कभी भी की जा सकती है. पहले के पैकेज के मुकाबले ये काफी छोटा अगला पैकेज होगा. आने वाले राहत पैकेज में होटल, टूरिज्म, एविशएशन जैसे सेक्टर पर खास जोर रहने की उम्मीद है. प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) और वित्त मंत्रालवय के बीच इस पर 3-4 दौर की बैठक हो चुकी है.

VIDEO- सरकार ला रही है दूसरा राहत पैकेज, जानिए किस सेक्टर के लिए क्या होगा ऐलान

क्या होगा दूसरे राहत पैकेज में खास- सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, दूसरे राहत पैकेज में टैक्स इन्सेंटिव यानी टैक्स छूट पर ज्यादा जोर रह सकता है. कई सेक्टर्स के लिए टैक्स राहत का ऐलान हो सकता है.



ये भी पढ़ें-आज से लागू हुआ नया टैक्स TCS- जानिए किस पर और कैसे होगा लागू,आम आदमी पर क्या होगा असर

कर्ज चुकाने की समय-सीमा बढ़ाई जा सकती है. इसके अलावा कई और अन्य राहत भरे कदम उठाने की तैयारी है. इस पैकेज में लोगों की खरीद क्षमता बढ़ाने पर फोकस होगा. इसमें कोरोना और लॉकडाउन से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए सेक्टरों जैसे होटल, टूरिज्म, एविएशन और हॉस्पिटैलिटी पर सबसे ज्यादा जोर होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज