सरकार का बड़ा ऐलान- लाखों कर्मचारियों को राहत देने के लिए बदले ये नियम

सरकार का बड़ा ऐलान- लाखों कर्मचारियों को राहत देने के लिए बदले ये नियम
सरकार ने बीपीओ, केपीओ और मेडिकल ट्रांसक्रिप्ट सर्विस देने वाली कंपनियों को राहत देने का ऐलान किया है. इस फैसले से इन कंपनियों में काम करने वाले लाखों कर्मचारी अब घर बैठकर (Work from Home) भी काम कर सकते है.

सरकार ने बीपीओ, केपीओ और मेडिकल ट्रांसक्रिप्ट सर्विस देने वाली कंपनियों को राहत देने का ऐलान किया है. इस फैसले से इन कंपनियों में काम करने वाले लाखों कर्मचारी अब घर बैठकर (Work from Home) भी काम कर सकते है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 14, 2020, 3:54 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम्युनिकेशंस (DoT) ने बीपीओ, केपीओ और मेडिकल ट्रांसक्रिप्ट सर्विस देने वाली कंपनियों को राहत देने का ऐलान किया है. अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक, इस फैसले से इन कंपनियों में काम करने वाले लाखों कर्मचारी अब घर बैठकर (Work from Home) भी ऑफिस के लिए काम कर सकते है. इन कंपनियों को ये छूट 30 अप्रैल 2020 तक के लिए मिली है. आपको बता दें कि सरकार कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए एहतियातन तौर पर वर्क फ्रॉर्म होम को बढ़ावा दे रही है.

कौन सी कंपनियों को मिलेगी छूट- डीओटी की ओर से मिली छूट एक ऐसी केटेगिरी के लिए है जिसे अन्य सेवा प्रदाताओं (ओएसपी) के रूप में वर्णित किया गया है, जिसमें बीपीओ, बिलिंग सेवा केंद्र, ई-प्रकाशन केंद्र, वित्तीय सेवा, केपीओ, मेडिकल ट्रांसक्रिप्ट सेवा, नेटवर्क ऑपरेटिंग सेंटर, टेली-मेडिसिन और टेली जैसी सर्विस देने वाली कंपनियां शामिल हैं.

नैसकॉम चेयरमैन केशव मुरुगेश (Keshav Murugesh, chairman of Nasscom) का कहना है कि ये कदम कोरोना वायरस से लड़ने में मदद करेगा.



ये भी पढ़ें-कोरोना वायरस की वजह से Infosys ने बेंगलुरु की बिल्डिंग को कराया खाली
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज