• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • डकैतों ने 3 साल में बैंकों के लूटे 180 करोड़, SBI में हुई सबसे ज्यादा 344 डकैती

डकैतों ने 3 साल में बैंकों के लूटे 180 करोड़, SBI में हुई सबसे ज्यादा 344 डकैती

डकैतों ने 3 साल बैंकों के लूटे 180 करोड़ रुपए, SBI में हुई सबसे ज्यादा 344 डकैती

डकैतों ने 3 साल बैंकों के लूटे 180 करोड़ रुपए, SBI में हुई सबसे ज्यादा 344 डकैती

डकैतों ने 3 साल बैंकों के लूटे 180 करोड़ रुपए, SBI में हुई सबसे ज्यादा 344 डकैती

  • Share this:
    बैंकों में पिछले तीन साल के दौरान डकैतों ने करीब 180 करोड़ रुपए लूटे. सबसे अधिक डकैती एसबीआई की शाखाओं में हुई है. इस मामले में पहली बार बोलते हुए वित्त राज्यमंत्री गंगवार ने राज्यसभा में एक लिखित जबाव में कहा कि वित्तवर्ष 2014-15 से लेकर वित्तवर्ष 2016-17 के दौरान डकैतों ने बैंकों में 2632 डकैतियां की हैं और 180 करोड़ लूटा है.

    किस बैंक में हुई कितने की लूट
    वित्त राज्यमंत्री की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 3 साल के दौरान 344 डकैतियां दर्ज की गई हैं जिनमें 30 करोड़ रुपए लूटे गए. इसके बाद बैंक ऑफ बड़ौदा में हुई 188 डकैतियों में 13 करोड़ रुपए, आईसीआईसीआई बैंक से 17.25 करोड़ रुपए, एक्सिस बैंक से 37.34 करोड़ रुपए और एचडीएफसी बैंक से 10.21 करोड़ रुपए की लूट हुई है.

    सरकार ने कहा- बैंकों को दिए गए हैं सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश
    वित्त राज्यमंत्री ने बताया की सरकार ने पहले ही रिजर्व बैंक को कह दिया है कि वह बैंकों को अपनी शाखाओं और एटीएम की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए निर्देश जारी करे. बैंकों को लूट की हर घटना की जानकारी रिजर्व बैंक को देने का निर्देश है. साथ ही, अब बैंकों के लॉकर में होने वाली चोरियों की जानकारी भी रिजर्व बैंक को देना जरूरी है. बैंक के लॉकर्स में होने वाली चोरियां रोकने के लिए बैंक अपने ग्राहकों से अधिक चार्ज भी नहीं वसूल सकते हैं.

    यह भी पढ़े: SBI जैसे 3-4 बड़े बैंक बनाएगी सरकार, घटकर 12 रह जाएंगे सरकारी बैंक

    यह भी पढ़े:  जन-धन खातों में रिकॉर्ड पैसा जमा, 64,500 करोड़ से ज्यादा का टोटल डिपॉजिट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज