Home /News /business /

चिंताजनक : हर तीन में से एक कंपनी नहीं कर पाती सरवाइव, 35 हजार ने और बांधा बोरिया-बिस्‍तरा

चिंताजनक : हर तीन में से एक कंपनी नहीं कर पाती सरवाइव, 35 हजार ने और बांधा बोरिया-बिस्‍तरा

बोगस कंपनियों के जरिये मनी लॉड्रिंग और फाइनेंशियल क्राइम के कई मामले सामने आ चुके हैं.

बोगस कंपनियों के जरिये मनी लॉड्रिंग और फाइनेंशियल क्राइम के कई मामले सामने आ चुके हैं.

कॉरपोरेट मंत्रालय जल्‍द नया पोर्टल MCA21 लागू करने वाला है. AI आधारित यह पोर्टल कंप्‍लायंस का पालन नहीं करने वाली कंपनियों की पहचान करेगा और उसकी जानकारी सरकार तक पहुंचेगी.

नई दिल्‍ली. कोरोना महामारी से प्रभावित साल 2021 कामकाज के लिहाज से कंपनियों के लिए भी कष्‍टकारी साबित हुआ. दिसंबर की समाप्ति तक 35 हजार कंपनियों को अपना बोरिया-बिस्‍तरा बांधना पड़ा है. कॉरपोरेट मंत्रालय ने बताया है कि देश में रजिस्‍टर होने वाली हर 3 में से एक कंपनी सरवाइव नहीं कर पाती.

मंत्रालय के मुताबिक, दिसंबर में सालाना रिटर्न नहीं भरने वाली 35,000 और कंपनियों को रजिस्‍ट्रार ऑफ कंपनीज के रिकॉर्ड से हटा दिया गया है. विभिन्‍न चरणों में अब तक कुल 7.27 लाख कंपनियों को रिकॉर्ड से बाहर किया जा चुका है. ऐसी कंपनियां जिनका कामकाज ठप हो चुका है और वे सालाना रिटर्न भरने में फेल हो जाती हैं, उन्‍हें ऑफिशियल रिकॉर्ड से बाहर कर दिया जाता है. कुछ कंपनियों सरकार की स्‍ट्राइक के खिलाफ ट्रिब्‍यूनल में अपील की थी, जिस पर उन्‍हें नए सिरे से सालाना रिटर्न भरने का मौका दिया गया था. इनमें से अधिकतर लगातार दो साल से रिटर्न दाखिल करने में फेल रहीं.

ये भी पढ़ें – नौकरीपेशा के लिए खुशखबरी! इस साल 10 फीसदी से ज्‍यादा बढ़ेगी सैलरी, जानें क्‍या कह रहीं कंपनियां

अब 14 लाख कंपनियां रिकॉर्ड में बचीं
कॉरपोरेट मंत्रालय के मुताबिक, निष्क्रिय चल रही कंपनियों को रजिस्‍ट्रार ऑफ कंपनीज के रिकॉर्ड से हटाए जाने के बाद देश में कुल 14 लाख एक्टिव कंपनियां बची हैं. निष्क्रिय कंपनियों के खिलाफ यह स्‍ट्राइक अगले कुछ महीने में नया पोर्टल MCA21 लागू करने के लिए कई गई है. Artificial intelligence (AI) पर आधारित यह पोर्टल कंप्‍लायंस का पालन न करने वाली कंपनियों की पहचान करने में सक्षम होगा और रेगुलेटरी फाइलिंग में चूक करने वाली कंपनियों का उजागर करेगा.

ये भी पढ़ें – Budget 2022 : ओमिक्रॉन खा गया सरकार का ‘हलवा’, संक्रमण के डर से पहली बार टूटी परंपरा

दिल्‍ली, यूपी और महाराष्‍ट्र में सबसे ज्‍यादा कंपनियां रजिस्‍टर्ड
सरकार ने बताया कि बिजनेस करने में फेल होने वाली कंपनियों में सबसे ज्‍यादा संख्‍या नई रजिस्‍टर्ड कंपनियों की है. महाराष्‍ट्र, दिल्‍ली और यूपी में हर महीने 13,000-16,000 कंपनियां और एलएलपी रजिस्‍टर होती हैं. नए बिजनेस शुरू करने में इन तीन राज्‍यों की भूमिका सबसे ज्‍यादा रहती है.

Tags: Company, Modi government

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर