Home /News /business /

सरकार इस तारीख से MSP पर खरीदेगी सरसों और चना, रजिस्‍ट्रेशन है अनिवार्य, नहीं कराया है तो 15 फरवरी तक करा लें

सरकार इस तारीख से MSP पर खरीदेगी सरसों और चना, रजिस्‍ट्रेशन है अनिवार्य, नहीं कराया है तो 15 फरवरी तक करा लें

हरियाणा सरकार सरसों 5050 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (Mustard MSP) पर खरीदेगी.

हरियाणा सरकार सरसों 5050 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (Mustard MSP) पर खरीदेगी.

सरसों, चना और सूरजमुखी की कटाई मार्च में शुरू हो जाएगी. सरकार ने भी इन फसलों को न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर खरीदने के लिए तैयारी शुरू कर दी है. हरियाणा सरकार सरसों, चना और सूरजमुखी की सरकारी खरीद (Mustard, gram and sunflower Purchase On Msp ) 28 मार्च से शुरू करेगी. पंजीकृत किसानों से ही सरकार एमएसपी पर फसल खरीदेगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. रबी सीजन (Rabi Season) की प्रमुख फसल सरसों, चना और सूरजमुखी अब पकाव की ओर है. मार्च की शुरूआत से ही इनकी कटाई भी शुरू हो जाएगी. हरियाणा सरकार ने इसी को देखते हुए न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (MSP) पर फसल खरीदने के लिए कमर कस ली है. सरकार ने ऐलान किया है कि वह 28 मार्च, 2022 से सरसों, चना और सूरजमुखी की फसल न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर खरीदेगी.

    हरियाणा सरकार सरसों 5050 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (Mustard MSP) पर खरीदेगी और इसी तरह चना  चना 5230 रुपये प्रति क्विंटल (Chana MSP) और सूरजमुखी 6015 रुपये प्रति क्विंटल (Sunflower MSP) की दर से खरीदी जाएगी. रबी फसलों की सुचारू खरीद के लिए हरियाणा के चीफ सेक्रेटरी संजीव कौशल की अध्‍यक्षता में हुई बैठक में खरीद प्रबंधों का जायजा लिया गया और खरीद के लिए मंडियों का निर्धारण करने के आदेश हरियाणा राज्य भंडारण निगम, हैफेड और खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग को दिए गए. यही सरकारी एजेंसियां खरीद कार्य करती है.

    ये भी पढ़ें : हर महीने चाहते हैं 2 लाख तक की कमाई तो शुरू कर दें ये सुपरहिट बिजनेस, सरकार देगी 90% तक सब्सिडी

    पंजीकृत किसानों से ही होगी खरीद

    हरियाणा में सरकार उन्‍हीं किसानों से न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर फसलें खरीदती है, जिन्‍होंने मेरा फसल मेरा ब्‍यौरा पोर्टल (Meri Fasal Mera Byora) पर अपनी फसल का पंजीकरण कराया हो. हरियाणा के किसान मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रबी फसलों का रजिस्ट्रेशन 15 फरवरी (Meri Fasal Mera Byora Last Date) तक करवा सकते हैं. जो किसान अपना इस पोर्टल पर अपनी फसल का पंजीकरण नहीं कराएंगे उनकी सरसों, चना, सूरजमुखी और गेहूं की फसल सरकार नहीं खरीदेगी.

    सरसों की MSP में 400 रुपए का इजाफा

    केंद्र सरकार ने इस बार सरसों के न्‍यूनतम समर्थन (Mustard MSP Hike) मूल्‍य में 400 रुपए की बढोतरी की है. पिछले साल सरसों का रेट 4650 रुपए प्रति क्विंटल था जिसे इस साल 5050 रुपए प्रति क्विंटल कर दिया गया है. वहीं चने के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में भी 130 रुपए की बढ़ोतरी की है. पिछले साल सरकार ने इसे 5100 रुपए क्विंटल खरीदा था और इस बार सरकार ने इसका एमएसपी 5230 रुपए रखा है.

    सरसों का मार्केट रेट ज्‍यादा

    पिछला सीजन निकलते ही सरसों के रेट बहुत बढ़ गए थे. अब भी सरसों का आम भाव 7000 रुपए प्रति क्विंटल है जो, सरकार द्वारा घोषित रेट 5050 से बहुत ज्‍यादा है. वहीं, चना का भाव फिलहाल सरकार द्वारा घोषित एमएसपी 5230 से नीचे चल रहे हैं. अगर सरसों के भाव इसी स्‍तर पर रहे तो इस बार हरियाणा सरकार को सरसों मिलनी मुश्किल हो जाएगी. वर्ष 2020-21 के दौरान 15.98 लाख एकड़ भूमि पर 13.13 लाख मीट्रिक टन सरसों का उत्पादन हुआ था. जबकि वर्ष 2021-22 के दौरान 18.67 लाख एकड़ भूमि पर 14.82 लाख मीट्रिक टन सरसों के उत्पादन की संभावना है.

    ये भी पढ़ें :  Drone से खेतों के डिजिटल नक्‍शे बनाने का काम शुरू, पैमाइश में नहीं होगी हेरफेर, फसल की भी मिलेगी सटीक जानकारी

    इसी तरह वर्ष 2020-21 के दौरान 88 हजार एकड़ भूमि पर 36 हजार मीट्रिक टन चने के उत्पादन हुआ, जबकि वर्ष 2021-22 के दौरान 89 हजार एकड़ भूमि पर 40 हजार मीट्रिक टन चने के उत्पादन होने की संभावना है. इसके अलावा, वर्ष 2020-21 के दौरान 30 हजार एकड़ भूमि पर 25 हजार मीट्रिक टन सूरजमुखी का उत्पादन हुआ, जबकि वर्ष 2021-22 के दौरान 37 हजार एकड़ भूमि पर 30 हजार मीट्रिक टन सूरजमुखी के उत्पादन की संभावना है.

    Tags: Agriculture, Crop MSP, MSP

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर