GST काउंसिल की बैठक: बड़ी संख्‍या में चीजें हो सकती हैं सस्‍ती

GST काउंसिल की बैठक: बड़ी संख्‍या में चीजें हो सकती हैं सस्‍ती
अरुण जेटली(file photo)

GST काउंसिल की बैठक शुरू, इन फैसलों पर नजर

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2017, 12:50 PM IST
  • Share this:
वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में जीएसटी काउंसिल की 22वीं बैठक शुरू हो गई है. ये बैठक काफी अहम है. इसमें हर 3 महीने पर रिटर्न फाइल करने की व्यवस्था शुरू करने पर विचार होगा. ये सुविधा सालाना 20 लाख टर्नओवर वाले कारोबारियों को मिल सकती है. फिलहाल हर महीने रिटर्न फाइल करना जरूरी होता है. साथ ही कई आइटम्‍स पर टैक्स दरें भी घटाई जा सकती है. एक्सपोर्टस के लिए रिफंड के नए नियम को मंजूरी मिलने की संभावना है. बड़ी संख्‍या में चीजों पर टैक्‍स कम होने की संभावना है, जिससे आम लोगों को बड़ी राहत मिल सकती है.

इन फैसलों पर नजर
> 20 लाख तक के टर्नओवर वाले कारोबारियों के लिए सरल रिटर्न फॉर्म की व्यवस्था की जा सकती है. वहीं बड़े, कारोबारियों को पहले की तरह हर महीने रिटर्न फाइल करने का नियम जारी रह सकता है.
> एक्सपोर्टर्स को रिफंड तुरंत दिए जाने के लिए नियम में बदलाव किया जा सकता है, जिसके तहत शुरुआती रिटर्न (फॉर्म 3 बी) फाइल करने के तुरंत बाद रिफंड मिलने का प्रावधान हो सकता है.



> नए नियमों के तहत रिफंड के लिए कच्चे माल और दूसरी खरीद की जानकारी देने तक इंतजार नहीं करना होगा.
> जीएसटी नेटवर्क की मौजूदा व्यवस्था में भी जरूरी बदलाव मुमकिन है. सरकारी योजना में कॉन्ट्रैक्ट लेबर पर जीएसटी 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी किया जा सकता है.


> इसके अलावा टेक्सटाइल, प्लाइवुड सहित 70 सेक्टरों में दरों में कटौती भी संभव है.



बैैैैठक में होने वाले संभावित निर्णय - 

टेक्सटाइल समेत 70 सेक्टर्स की Tax rates होंगी कम
60 से अधिक वस्‍तुओं-सेवाओं पर GST 18% से घटाकर 12%
28 फीसदी वाले टैक्‍स स्‍लैब में आने वाली बड़ी संख्‍या में चीजों को कम टैक्‍स स्‍लैब में रखा जा सकता है.
हर महीने के बदले तीन महीने में रिटर्न की सुविधा
एक्सपोर्टस के लिए रिफंड के नए नियम
रिटर्न फाइल के लिए आएगा सरल ‘फॉर्म’
कॉन्ट्रैक्ट लेबर पर GST 12% से घटाकर 5%
60 वस्‍तुएं और सेवाएं होंगी सस्ती
3.6 करोड़ छोटी कंपनियों को होगा फायदा
8 करोड़ से अधिक कर्मचारियों को फायदा
कुल मैन्युफैक्चरिंग में से एक तिहाई इन कंपनियों के पास
1 करोड़ से कम इनकम वाली कंपनियों को बड़ा फायदा
वस्‍तुओं और सेवाओं पर टैक्‍स कम करने से खर्च के लिए उत्‍साहित होंगे लोग
राज्‍यों को वैट, चुंगी ओर नई कर व्‍यवस्‍था लागू होने से होने वाले राजस्‍व नुकसान मामले में तुरंत मुआवजा मिलेगा
एसी रेस्‍टॉरेंट्स में खाने पर 18 फीसदी के बदले 12 फीसदी टैक्‍स
बिना ब्रांडेड वाले अनाज पर 12 फीसदी के बदले 5 फीसदी टैक्‍स
कृत्रिम ज्‍वैलरी पर 12 फीसदी के बदले 5 फीसदी टैक्‍स
कई सारे लग्‍जरी सामान पर 28 के बदले 18 फीसदी टैक्‍स
9 सितंबर को सरकार ने भूने चने, कस्‍टर्ड पाउडर, धूप, अगरबत्‍ती, रेनकोट और रबर बैंड समेत डेली उपयोग की 40 वस्‍तुओं पर टैक्‍स कम करके सस्‍ता करने का फैसला लिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading