मार्च में जीएसटी कलेक्शन रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा, जानें सरकार को कितने पैसे मिले?

नतीजतन मार्च माह में भी जीएसटी कलेक्शन रिकॉर्ड 1 लाख 24 हजार  करोड़ रुपये हुआ

नतीजतन मार्च माह में भी जीएसटी कलेक्शन रिकॉर्ड 1 लाख 24 हजार करोड़ रुपये हुआ

GST collection in march 2021: मार्च माह में भी जीएसटी कलेक्शन रिकॉर्ड 1 लाख 24 हजार करोड़ रुपये हुआ. केंद्र सरकार द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक मार्च 2021 में 1,23,902 करोड़ रुपये जीएसटी संग्रह किया गया. मार्च 2020 के मुकाबले मार्च 2021 में जीएसटी रेवेन्यू में 27 फीसदी का ग्रोथ दर्ज किया गया.

  • Share this:
नई दिल्ली. अर्थव्यवस्था (Economy) का तेजी से पटरी पर लौटने के संकेत मिलने लगे है। पिछले छह माह से जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक हो रहा है। कोरोना काल में मंद हुई आर्थिक गतिविधियां तेजी से चलने लगी है. नतीजतन मार्च माह में भी जीएसटी कलेक्शन रिकॉर्ड 1 लाख 24 हजार करोड़ रुपये हुआ. केंद्र सरकार द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक मार्च 2021 में 1,23,902 करोड़ रुपये जीएसटी संग्रह किया गया. जिसमें से सीजीएसटी 22,973 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 29,329 करोड़ रुपये और आईजीएसटी 62,842 करोड़ रुपये संग्रह किया गया. 62,842 करोड़ रुपये आईजीएसटी में से 31,097 करोड़ रुपये आयातित वस्तुओं से कलेक्ट किया गया. वहीं, सरकार ने 8757 करोड़ रुपये सेस यानी उपकर भी कलेक्ट किया गया है. जिसमें से 935 करोड़ रुपये आयातित वस्तुओं से उपकर संग्रह किया गया.

मार्च 2020 के मुकाबले 27 फीसदी अधिक जीएसटी संग्रह

वित्त वर्ष 2020-21 के शुरूआती 7 महिनों में जीएसटी कलेक्शन काफी कम हुआ. मार्च 2020 के मुकाबले मार्च 2021 में जीएसटी रेवेन्यू में 27 फीसदी का ग्रोथ दर्ज किया गया. सरकार ने आईजीएसटी से 21,879 करोड़ रुपये एसजीएसटी और 17,230 करोड़ रुपये सीजीएसटी में सेटल किया गया. इसके अलावा सरकार ने 28 हजार करोड़ रुपये आईजीएसटी एड हॉक सेटलमेंट भी किया. सेटलमेंट के बाद सीजीएसटी 58,852 करोड़ रुपये और एसजीएसटी 60,559 करोड़ रुपये रहा.इन आंकड़ों के बीच एक और अच्छा संकेत यह रहा कि आयातित वस्तुओं से भी 70 फीसदी अधिक जीएसटी कलेक्ट किया गया. केंद्र सरकार ने जीएसटी क्षतिपूर्ति के तौर पर राज्यों को मार्च माह में 30 हजार करोड़ रुपये भी जारी किए.तिमाही स्तर पर आंकड़ों पर गौर करे तो पिछले वित्त वर्ष के पहले तिमाही में जीएसटी कलेक्शन में (-)41 फीसदी,दूसरे तिमाही में 8 फीसदी,तीसरे तिमाही में 8 फीसदी और चौथे तिमाही में 14 फीसदी का ग्रोथ देखने को मिला.

ये भी पढ़ें- कभी नोटबंदी से नाखुश होकर उर्जित पटेल ने दिया था RBI गवर्नर पोस्ट से इस्तीफा! अब संभालेंगे ये कंपनी
माह           साल 2019 (जीएसटी करोड़ रुपये में)    साल 2020

दिसंबर           1,03,184                                              1,15,174

नवंबर            1,03,491                                                1,04,963



अक्टूबर         95,379                                                    1,05,155

सितंबर          91,916                                                     95,480

अगस्त         98,202                                                       86,449

जुलाई         1,02,083                                                      87,422

जून            99,939                                                         90,917

मई           1,00,289                                                        62,151

अप्रैल        1,13,865                                                         32172

माह                 साल 2020 (करोड़ रु में)                     साल 2021

जनवरी           1,10,818                                                  1,19,875

फरवरी          1,05,361                                                  1,13,143

ये भी पढ़ें- Bank Holidays: बैंक 4 अप्रैल तक रहेंगे बंद! इस महीने 15 दिनों की रहेगी छुट्टी, घर से निकलने से पहले चेक करें पूरी लिस्ट

मार्च 2021 में राज्यों में जीएसटी कलेक्शन इस तरह रहा

मार्च माह में सबसे अधिक जीएसटी कलेक्शन महाराष्ट्र में 14 फीसदी की ग्रोथ के साथ 17038.49 करोड़ रुपये रहा.जबकि दूसरे पायदान पर गुजरात रहा जहां 20 फीसदी की बढ़ोत्तरी के साथ 8197.04 करोड़ रुपये रहा वहीं कर्नाटक इस मामले में तीसरे स्थान पर रहा जहां 7914.98 करोड़ रुपये जीएसटी कलेक्शन रहा.इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में 351.61 करोड़ रुपये, हिमाचल प्रदेश में 686.88 करोड़ रुपये,पंजाब में 1361.85 करोड़ रुपये,चंडीगढ़ में 165.27 करोड़ रुपये,उत्तराखंड में 1303.57 करोड़ रुपये,हरियाणा में 5709.60 करोड़ रुपये,दिल्ली में 3925.97 करोड़ रुपये,राजस्थान में 3351.79 करोड़ रुपये,उत्तर प्रदेश में 6265.01 करोड़ रुपये,बिहार में 1195.75 करोड़ रुपये,सिक्किम में 213.66 करोड़ रुपये,असम में 1004.65 करोड़ रुपये,पश्चिम बंगाल में 4386.79 करोड़ रुपये,झारखंड में 2416.13 करोड़ रुपये,ओडिसा में 3285.29 करोड़ रुपये,छत्तीसगढ़ में 2544.13 करोड़ रुपये,मध्य प्रदेश में 2728.49 करोड़ रुपये,तमिलनाडु में 7579.18 और केरल में 1827.94 करोड़ रुपये जीएसटी कलेक्शन रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज