लाइव टीवी

सरकार के लिए बड़ी राहत! जनवरी में रिकॉर्ड ₹1.15 लाख करोड़ हो सकता है GST कलेक्शन

News18Hindi
Updated: January 28, 2020, 1:56 PM IST
सरकार के लिए बड़ी राहत! जनवरी में रिकॉर्ड ₹1.15 लाख करोड़ हो सकता है GST कलेक्शन
जनवरी में रिकॉर्ड GST कलेक्शन

जनवरी में जीएसटी कलेक्शन (GST Collection) रिकॉर्ड हाई 1.15 लाख करोड़ रुपये रह सकता है. पिछले दो महीने (नवंबर व दिसंबर) में जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के पार रहा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2020, 1:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) कलेक्शन के मोर्चे पर सरकार को बड़ी मिल सकती है. जनवरी में जीएसटी कलेक्शन (GST Collection) रिकॉर्ड हाई 1.15 लाख करोड़ रुपये रह सकता है. पिछले दो महीने (नवंबर व दिसंबर) में जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के पार रहा था. नवंबर महीने में जीएसटी वसूली 1,03,492 करोड़ रुपये जबकि दिसंबर में ये आंकड़ा 1,03,184 करोड़ रुपये रहा. बता दें कि जुलाई 2017 में जीएसटी लागू होने के बाद अप्रैल 2019 में जीएसटी कलेक्शन सबसे ज्यादा 1,13,865 करोड़ रुपये रहा था.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, जनवरी में जीएसटी कलेक्शन का संशोधित लक्ष्य 1.15 लाख करोड़ रुपये है. एक अधिकारी ने बताया कि यह लक्ष्य प्राप्त करने योग्य हैं, क्योंकि हमने प्रौद्योगिकी और डेटा एनालिटिक्स का उपयोग करके लगभग 40,000 करोड़ रुपये के रेवेन्यू लिकेज को रोकने में सक्षम है. ये भी पढ़ें-1 फरवरी से बदल जाएंगी ये चीजें, आपकी जेब पर होगा सीधा असर



अप्रैल 2019 में हुआ रिकॉर्ड कलेक्शन

जुलाई 2017 में जीएसटी लागू होने के बाद से अप्रैल 2019 में अब तक सबसे ज्यादा जीएसटी कलेक्शन हुआ है. अप्रैल 2019 में 1.13 लाख करोड़ रुपये जीएसटी वसूली हुई थी. इसके अलावा नवंबर और दिसंबर 2019 में जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के पार रहा है. मौजूदा वित्त वर्ष में अप्रैल से लेकर दिसंबर तक के आंकड़ों को देखें तो अगस्त, सितंबर और अक्टूबर तीन ऐसे महीने रहे हैं जब जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के नीचे रहा.  ये भी पढ़ें: FD नहीं बल्कि यहां करें निवेश, हर महीने होगी मोटी कमाई, टैक्स भी है बेहद कम



मार्च के लिए जीएसटी कलेक्शन लक्ष्य 1.25 लाख करोड़रिपोर्ट के मुताबिक, राजस्व विभाग (Department of Revenue) ने जनवरी और फरवरी में जीएसटी कलेक्शन का लक्ष्य 1 लाख करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1.15 लाख करोड़ रुपये कर दिया है. वहीं, मार्च के लिए यह लक्ष्य 1.25 लाख करोड़ रुपये तय किया गया है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के लिए आई एक और बुरी खबर, इमरान खान की टेंशन हुई डबल

डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में गिरावट
रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष 2020 में अप्रैल से जनवरी के बीच डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में 11,000 करोड़ रुपये की कमी रह सकती है. वित्त वर्ष 2020 के पहले 10 महीने में ग्रॉस डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 9.01 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान है. पिछले साल इस दौरान डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 9.12 लाख करोड़ रुपये रहा था. केंद्र ने वित्त वर्ष 2020 के लिए नेट टैक्स रेवेन्यू में 25 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 16.5 लाख करोड़ रुपये के अनुमान लगाया है.

ये भी पढ़ें:-

अब पोस्‍ट ऑफिस से ही हो जाएंगे आपके ये सारे काम, मोबाइल और डीटीएच रिचार्ज भी होगा
नहीं है कोई प्रूफ तो ऐसे करें आधार के लिए आवेदन, बेहद आसान है प्रोसेस

(सोर्स- मनीकंट्रोल डॉट कॉम)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 28, 2020, 1:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर