लाइव टीवी

GST काउंसिल बैठक: इन चीजों पर फिर से लग सकता है टैक्स, 15 दिसंबर की बैठक में फैसला संभव

News18Hindi
Updated: December 3, 2019, 7:31 PM IST
GST काउंसिल बैठक: इन चीजों पर फिर से लग सकता है टैक्स, 15 दिसंबर की बैठक में फैसला संभव
केंद्र सरकार ने राज्यों को चिट्ठी लिखकर जीएसटी वसूली बढ़ाने और टैक्स चोरी रोकने के लिए सुझाव मांगे है.

CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कमाई बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने जीएसटी से छूट हासिल वस्तुओं और सेवाओं पर भी टैक्स लगाने का संकेत दिया है. केंद्र सरकार ने राज्यों को चिट्ठी लिखकर जीएसटी वसूली बढ़ाने और टैक्स चोरी रोकने के लिए सुझाव मांगे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 3, 2019, 7:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. GST काउंसिल (GST Council Meeting) की अगली बैठक में बड़े फैसले हो सकते हैं.  CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कमाई बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार (Government of India) ने जीएसटी से मुक्त वस्तुओं और सेवाओं (GST Rate List) पर भी टैक्स लगाने का संकेत दिया है. केंद्र सरकार (Government) ने राज्यों को चिट्ठी लिखकर जीएसटी वसूली बढ़ाने और टैक्स चोरी रोकने के लिए सुझाव मांगे है. आपको बता दें कि तीन महीने बाद नवंबर महीने में जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा है.

अगली जीएसटी काउंसिल की बैठक में होगा फैसला- जीएसटी काउंसिल की बैठक 15 दिसंबर के बाद प्रस्तावित है. सूत्रों की मानें तो जीएसटी से छूट वाली वस्तुओं और सेवाओं की सरकार समीक्षा करेगी.

>> जीरो फीसदी वाले स्लैब में अनब्रांडेड अनाज, फ्रेश मीट और दूध जैसे आइटम्स की समीक्षा होगी. इसके अलावा इनवर्टेड ड्यूटी स्ट्रक्चर वाले उत्पादों की विसंगतियां को दूर किया जाएगा.

>> जीएसटी वसूली बढ़ाने और टैक्स चोरी रोकने के कदमों की समीक्षा भी होगी. सरकार की सबसे बड़ी परेशानी जीएसटी से घटती कमाई है.

>> इसीलिए सरकार बड़े कदम उठाने की तैयारी में है. केंद्र सरकार ने से सभी राज्यों को चिट्ठी लिखकर रेवेन्यू बढ़ाने को लेकर सुझाव मांगे है. राज्यों के अधिकारियों को 6 दिसंबर तक सुझाव देने होंगे.

ये भी पढ़ें-3000 रुपए की पेंशन स्कीम का 19 लाख किसानों ने उठाया फायदा, आप भी ऐसे करें अप्लाई 

3 महीने बाद नवंबर में पहली बार जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ हुआ- वित्त मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों में बताया गया है कि नवंबर महीने में जीएसटी वसूली बढ़कर 1,03,492 करोड़ रुपये हो गई है. यह अक्टूबर महीने के मुकाबले 8 हजार करोड़ रुपये ज्यादा है.>> अक्टूबर में जीएसटी कलेक्शन 95,380 करोड़ रुपये रहा था. वित्त मंत्रालय के अनुसार नवंबर में 19,592 करोड़ रुपये सीजीएसटी, 27,144 करोड़ रुपये एसजीएसटी, 49,028 करोड़ रुपये आईजीएसटी (आयात से प्राप्त 20,948 करोड़ रुपये भी शामिल) प्राप्त हुआ है.

>> इस अवधि में सरकार को सेस से 7727 करोड़ रुपये प्राप्त हुए हैं जिसमें 869 करोड़ रुपये आयात से मिले हैं. नवंबर महीने में जीएसटी कलेक्शन का एक लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचना सरकार के लिए राहत की बात मानी जा रही है.

ये भी पढ़ें-GST चोरी रोकने के लिए सरकार का बड़ा फैसला, 11 लाख से ज्यादा लोगों के GST रजिस्ट्रेशन करेगी कैंसिल! 

>> कई तरह की कटौतियों के बावजूद लगातार तीन महीने से जीएसटी कलेक्शन एक लाख करोड़ रुपये से नीचे ही चल रहा था. अगस्त में यह 98,202 करोड़ रुपये, अक्टूबर में 95,380 करोड़ रुपये और सितंबर में 91,916 करोड़ रुपये रहा था.

(आलोक प्रियदर्शी, संवाददाता, CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 6:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर