अपना शहर चुनें

States

GST काउंसिल की अहम बैठक जारी, TV-फ्रिज सहित ये चीजें हो सकती हैं सस्ती

अरुण जेटली, वित्त मंत्री (फाइल फोटो)
अरुण जेटली, वित्त मंत्री (फाइल फोटो)

CNBC आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, गाड़ियों के टायर, सीमेंट जैसी करीब आधा दर्जन चीजें सस्ती हो सकती है.

  • News18.com
  • Last Updated: December 22, 2018, 11:13 AM IST
  • Share this:
जीएसटी काउंसिल की आज चल रही बैठक में आधा दर्जन चीजों पर टैक्स घटाने का फैसला लिया जा सकता है. CNBC आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, गाड़ियों के टायर, सीमेंट जैसी चीजों पर दरें 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी तक आ सकती है. आपको बता दें कि इस हफ्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि जल्द ही 99% सामान को जीएसटी के 18 फीसदी वाले दायरे में लाने की योजना है. उन्होंने कहा कि कुछ चीजें ही 28% GST दायरे में रहेंगी, बाकी चीजें 18% या उससे कम GST दायरे में रहेंगी.

फूड प्रोसेसिंग मंत्रालय ने अचार, टमाटर प्यूरी जैसी चीजों पर जीएसटी हटाने का प्रस्ताव रखा है. मंत्रालय का कहना है कि उन चीजों पर जीएसटी नहीं लगाया जाएगा जो खाने के सीधे इस्तेमाल में नहीं आती हैं. प्राइमरी प्रोसेस्ड फूड को फार्म प्रोडक्ट माना जाएगा. अब कटे आम, टमाटर पल्प, आइस्ड फिश, डीहाइड्रेटेड प्याज, लहसुन पर जीएसटी हट सकता है. अभी इन प्रोडेक्ट पर 12-18 फीसदी टैक्स लगता है.

ये भी पढ़ें-PM मोदी ने दिए संकेत! 99% सामान होंगे सस्ते, 28% की जगह लगेगा 18% GST



क्या होगा सस्ता-
>>
 गाड़ियों के टायर समेत करीब आधा दर्जन सामानों पर जीएसटी की दरें घट सकती हैं.
>> अभी साइकिल छोड़ सभी टायर पर 28 फीसदी लागू है.
>> सूत्रों के मुताबिक टायर पर जीएसटी 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी किया जा सकता है.
>> ई-रिक्शा के टायर पर जीएसटी 5 फीसदी हो सकता है.
>> एसी और सीमेंट पर भी जीएसटी की दर घट सकती है.
>> सीमेंट पर जीएसटी दरें 28 फीसदी से घटकर 18 फीसदी पर आ सकती है.
>> इस बैठक में घरों पर भी जीएसटी घटाने पर चर्चा हो सकती है.
>> इसके अलावा टीवी, कंप्यूटर पर भी जीएसटी घट सकता है
>> सूत्रों के मुताबिक जीएसटी की दरें घटाने वाले आइटम की लिस्ट को अंतिम रूप दिया जा रहा है.

ये भी पढ़ें-नौकरियां गईं, छोटे उद्योगों का मुनाफा घटा, नोटबंदी और GST जिम्मेदार: सर्वे रिपोर्ट

ये भी पढ़ें: 99 फीसदी चीजों को 18 प्रतिशत या उससे कम GST के दायरे लाया जाएगा: PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा था, 'शुरुआती दिनों में जीएसटी अलग-अलग राज्यों में मौजूद वैट या उत्पाद शुल्क के आधार पर तैयार किया गया था. हालांकि समय-समय पर बातचीत के बाद कर व्यवस्था में सुधार हो रहा है.' प्रधानमंत्री ने मंगलवार को संकेत दिया था कि 1,200 से अधिक वस्तुओं और सेवाओं में से 99 प्रतिशत पर 18 प्रतिशत या उससे कम जीएसटी लगेगा.

फिलहाल 28 प्रतिशत के ऊंचे कर स्लैब में 34 वस्तुएं हैं. इनमें वाहन टायर, डिजिटल कैमरा, एयर कंडीशनर, डिश वॉशिंग मशीन, सेट टॉपबॉक्स, मॉनिटर और प्रोजेक्टर के अलावा कुछ निर्माण उत्पाद मसलन सीमेंट शामिल हैं. सीमेंट पर कर की दर को घटाकर 18 प्रतिशत करने से सरकार पर करीब 20,000 करोड़ रुपये का सालाना बोझ पड़ेगा, इसके बावजूद परिषद यह कदम उठा सकती है.

ये भी पढ़ें: PM मोदी ने दिए संकेत! 99% सामान होंगे सस्ते, 28% की जगह लगेगा 18% GST

जो उत्पाद 28 प्रतिशत कर स्लैब में ही रहेंगे उनमें शीतल पेय, सिगरेट, बीड़ी, तंबाकू उत्पाद, पान मसाला, धूम्रपान पाइप, वाहन, विमान, याट, रिवाल्वर और पिस्तौल तथा गैंबलिंग लॉटरी शामिल हैं. जीएसटी के पांच कर स्लैब शून्य, 8, 12, 18 और 28 प्रतिशत हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज