Home /News /business /

GST परिषद की बैठक आज, वित्त मंत्री के पिटारे ने निकल सकते हैं नए साल के तोहफे?

GST परिषद की बैठक आज, वित्त मंत्री के पिटारे ने निकल सकते हैं नए साल के तोहफे?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में होने जा रही है GST Council बैठक को काफी अहम माना जा रहा है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में होने जा रही है GST Council बैठक को काफी अहम माना जा रहा है.

जीएसटी काउंसिल की बैठक (GST Council Meet) कपड़ा उद्योग को लेकर भी अहम मानी जा रही है. इस बैठक में एक हजार से नीचे के रेडीमेड कपड़े और जूते पर टैक्स बढ़ाने का फैसला वापस लिया जा सकता है.

    GST Council Meeting Today: नए साल से एक दिन पहले जीएसटी परिषद की बैठक होने जा रही है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) की अध्यक्षता में होने जा रही है बैठक को काफी अहम माना जा रहा है. क्योंकि एक तो नया साल शुरू होने जा रहा है, दूसरा सरकार बजट (Budget 2022) पूर्व की तैयारियों में जुटी हुई है और सबसे अहम कि अगले साल कई प्रदेशों में विधान सभा चुनाव होने जा रहे हैं. इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए जानकारों का मानना है कि सरकार टैक्स स्लैब में बदलाव कर करके कारोबारियों को कुछ राहत दे सकती है.

    जीएसटी काउंसिल की बैठक (GST Council Meet) कपड़ा उद्योग को लेकर भी अहम मानी जा रही है. इस बैठक में एक हजार से नीचे के रेडीमेड कपड़े और जूते पर टैक्स बढ़ाने का फैसला वापस लिया जा सकता है. साथ ही उद्योग जगत और व्यापार संगठनों को स्लैब (GST Tax Slab) की संख्या को घटाकर तीन किया जा सकता है.

    यह भी पढ़ें- बुढ़ापे की लाठी है प्रधानमंत्री वय वंदना योजना, हर महीने मिलेगी 9,250 रुपये पेंशन

    टैक्स स्लैब में बदलाव
    वर्तमान में चार टैक्स स्लैब हैं. अभी जीएसटी की दर 5, 12, 18 और 28 फीसदी हैं. बताया जा रहा है कि जीएसटी की 12 और 18 फीसदी की दरों का विलय कर एक दर बनाई जा सकती है. काफी समय से दोनों टैक्स स्लैब को एक करने की मांग उठ रही है.

    केंद्रीय मंत्री समूह ने भी जीएसटी दरें घटाने को लेकर जीएसटी परिषद को अपनी रिपोर्ट को सौंपी है. रिपोर्ट में टैक्स स्लैब को मिलाने के साथ बिना जीएसटी वाले कुछ उत्पादों को कर के दायरे में लाने का सुझाव दिया गया है. राज्यों और केंद्र के कर अधिकारियों की फिटमेंट कमेटी ने भी स्लैब और दरों में बदलाव की सिफारिशें की हैं.

    यह भी पढ़ें- Aadhaar Card के जरिए घर बैठे ऑनलाइन कर सकते हैं KYC, जानें क्या है तरीका

    टैक्सटाइटल सेक्टर विरोध में
    जानकार बताते हैं कि जीएसटी परिषद की बैठक में कपड़ों पर जीएसटी दर बढ़ाने का मुद्दा प्रमुखता से रहेगा. सरकार ने एक जनवरी 2022 से टेक्सटाइल और जूतों पर पांच फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी जीएसटी लगने का फैसला किया है. परिषद की 17 सितंबर को हुई पिछली बैठक में फुटवियर एवं कपड़ों पर जीएसटी दर संशोधित करने का फैसला लिया गया था. पूरे देश से सरकार के इस कदम का विरोध हो रहा है. बढ़ते विरोध को देखते हुए जीएसटी दर बढ़ाने का फैसला टल सकता है.

    कई राज्यों ने जताया विरोध
    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ कल हुई बजट-पूर्व बैठक में भी कई राज्यों ने कपड़ा उत्पादों पर जीएसटी दर बढ़ाए जाने का विरोध जताया. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि इससे पूरे टेक्सटाइल इंडस्ट्री को भारी नुकसान होगा. गुजरात ने कपड़ा उत्पादों पर बढ़ी हुई दर को स्थगित करने की मांग रखी. पश्चिम बंगाल, राजस्थान और तमिलनाडु ने भी बढ़ी दरों का विरोध किया है.

    Tags: Budget, GST council meeting, Nirmala sitharaman

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर