GST ने दिया झटका, सितंबर में कलेक्शन गिरकर 91,916 लाख करोड़ रुपये रहा

GST ने दिया झटका, सितंबर में कलेक्शन गिरकर 91,916 लाख करोड़ रुपये रहा
GST ने दिया झटका, सितंबर में कलेक्शन गिरकर 91,916 लाख करोड़ रुपये रहा

राजस्व विभाग (Department of Revenue) की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक सितंबर में कुल 91916 करोड़ रुपये का जीएसटी कलेक्शन हुआ है. वहीं, इससे पहले अगस्त महीने में जीएसटी कलेक्शन 98,202 करोड़ रुपये था. यानी अगस्त के मुकाबले में सितंबर में कुल 6287 करोड़ रुपये जीएसटी कम आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2019, 5:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST Revenue Collection) कलेक्शन के मोर्चे पर सरकार को एक बार फिर झटका लगा है. सितंबर महीने में GST कलेक्शन फिर 1 लाख करोड़ रुपये ने नीचे रहा है. राजस्व विभाग (Department of Revenue) की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक सितंबर में कुल 91916 करोड़ रुपये का जीएसटी कलेक्शन हुआ है.

जीएसटीआंकड़ों पर एक नज़र- सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक कुल जीएसटी कलेक्शन 91,916 करोड़ रुपये रहा है.

>> राजस्व विभाग के मुताबिक इससे पहले अगस्त महीने में जीएसटी कलेक्शन 98,202 करोड़ रुपये था. यानी अगस्त के मुकाबले में सितंबर में कुल 6287 करोड़ रुपये जीएसटी कम आया है.



>> इसमें 16,630 करोड़ से अधिक की राशि केंद्र सरकार की है, जबकि 22,598 करोड़ राशि राज्यों को मिली है, जबकि 45,069 करोड़ रुपये आईजीएसटी से मिले हैं.
>> वहीं अगस्त में कुल 98,202 करोड़ रुपये जीएसटी कलेक्शन हुआ था, जिसमें से 17,733 करोड़ रुपये केंद्र की राशि थी. जबकि 24,239 करोड़ राशि राज्यों को मिली थी, जबकि 48,958 करोड़ रुपये आईजीएसटी से मिले थे.

ये भी पढ़ें-सरकार ने नौकरी से पहले होने वाली ट्रेनिंग नियमों को बदला, दोगुना मिलेगा पैसा
GST Collection Graph GST collection slips Rs 1 lakh crore mark Rs 91916 crore in September

>> आपको बता दें कि जुलाई-2019 में यह राशि 1,02,083 करोड़ रुपये रही थी. जून में यह राशि 99,939 करोड़ रुपये रही थी. इस तरह से जून और जुलाई की तुलना में अगस्त में गिरावट दर्ज की गई है.

जीएसटी काउंसिल के फैसले 1 अक्टूबर से हुए लागू- सितंबर की 20 तारीख को हुई GST काउंसिल की बैठक में कई बड़े फैसले हुए है. इसमें सबसे बड़ी राहत होटल इंडस्ट्री (Hotel Industry) को दी गई है. अब 1000 रुपये तक के किराए वाले कमरे पर टैक्स नहीं लगेगा.

>> वहीं इसके बाद 7500 रुपये तक टैरिफ वाले रूम के किराए पर अब 18 फीसदी की जगह 12 फीसदी ही GST लगेगा. इसी प्रकार 7,500 रुपये से ज्याटा टैरिफ वाले होटल रूम के किराए पर जीएसटी 18 फीसदी कर दिया गया है.

>> जबकि इससे पहले होटल रूम पर 28 फीसदी की दर से टैक्‍स लगता था. GST की नई दरें आज से यानी 1 अक्टूबर से लागू होंगी.

>> जीएसटी काउंसिल ने 28 फीसदी के जीएसटी के दायरे में आने वाले 10 से 13 सीटों तक के पेट्रोल-डीजल वाहनों पर सेस को घटा दिया गया है.

>> 1200 सीसी के पेट्रोल वाहनों पर सेस की दर 1 फीसदी और 1,500 सीसी के डीजल वाहनों पर 3 फीसदी कर दिया गया है.

>> दोनों तरह के वाहनों पर सेस की मौजूदा दर 15 फीसदी है. वहीं जीएसटी की दर 28 फीसदी है.

>> GST काउंसिल की बैठक में सूखी इमली पर GST दर 0 हो गई है. इससे पहले 5 फीसदी GST लगता था. काउंसिल ने स्लाइड फास्टनर्स (जिप) पर जीएसटी को 18 से घटाकर 12 फीसदी कर दिया है.

ये भी पढ़ें-PPF, सुकन्या, NSC पर सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज