अपना शहर चुनें

States

150 मैन्युफैक्चरर्स ने चीन के खिलाफ छेड़ी जंग! गुजरात की ये कम्पनियां देगी चीनी प्रोडक्ट्स को टक्कर

गुजरात का मोरबी, सिरेमिक की मैन्युफैक्चरिंग के लिए देश भर में जानी जाती है.
गुजरात का मोरबी, सिरेमिक की मैन्युफैक्चरिंग के लिए देश भर में जानी जाती है.

चीन से आयात होने वाले प्रोडक्ट को कम करने के लिए गुजरात (Gujarat) के मोरबी (Morbi) शहर के करीब 150 मैन्युफैक्चरर्स चीनी प्रोडक्ट्स (Chinese Products) के खिलाफ लड़ने के लिए तैयार हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 27, 2020, 10:18 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और चीन के बीच लद्दाख में सीमा तनाव (Indo-China border dispute) और मोदी सरकार के 'आत्मनिर्भर भारत' के नारे के बाद चीनी उत्पादों के खिलाफ लड़ाई और तेज होती जा रही है. जहां एक और केंद्र सरकार चीन से आयात होने वाले प्रोडक्ट को कम करने के लिए शिकंजा कास रही है वहीं दूसरी और गुजरात (Gujarat) के मोरबी (Morbi) शहर के करीब 150 मैन्युफैक्चरर्स चीनी प्रोडक्ट्स (Chinese Products) के खिलाफ लड़ने के लिए तैयार हैं. देश में चीन कई प्लास्टिक वस्तुओं के अलावा  इलेक्ट्रिकल गुड्स और अन्य पार्ट्स आयात किए जाते हैं.

300 से ज्यादा कंपनियां हैं यहां- देश का गुजरात राज्य एक ऐसा राज्य है जो उद्योग के लिए पहचाना जाता है. यहां पर कपड़ा, इलेक्ट्रिकल गुड्स, टैक्टाइल आदि के क्षेत्र में कई बड़ी कम्पनियां हैं. गुजरात का मोरबी, सिरेमिक की मैन्युफैक्चरिंग के लिए देशभर में जानी जाती है. यहां घड़ियों के साथ प्लास्टिक गुड्स और इलेक्ट्रिकल प्रोडक्ट्स की करीब 300 से ज्यादा कंपनियां हैं.

150 कंपनियों ने छेड़ी जंग- भारत में चीन से कच्चे माल का आयात कर देश में उसका प्रोडक्शन किया जाता है. लेकिन मोरबी की करीब 150 कंपनियों ने अब चीनी प्रोडक्ट्स के खिलाफ जंग छेड़ दी है. मोरबी के इन मैन्युफैक्चरर्स ने कच्चे माल को वियतनाम, कम्बोडिया, ताइवान जैसे देशों से इंपोर्ट करने का सोचा है. इनका कहना है कि वो धीरे-धीरे कच्चा माल भी मोरबी में ही बनाना चाहते हैं.



ये भी पढ़ें : चीन की चाल में बुरा फंसा पाकिस्तान, जानिए कैसे चीनी कंपनियों ने पाक में फैलाया भ्रष्टाचार का जाल
शुरू की तैयारी- उद्योग और आंतरिक व्यापार को बढ़ावा देने वाला विभाग DPIIT के द्वारा चीन में बनने वाले निम्न-गुणवत्ता वाले आयातों की लिस्ट तैयार करने के बाद मोरबी के इन उत्पादकों ने एलजी, सैमसंग और सिमेंस जैसी वाइट गुड्स बनाने वाली कम्पनियों के साथ व्यापार सम्बन्धित बात करना शुरू कर दिया है. जिससे की चीन से आयात होने वाला कच्चा मालमोरबी के उत्पादक उन्हें दे सकें.

चीन से आयात होने वाले प्रोडक्ट में ये हैं शामिल- चीन से जिन प्रोडक्ट का आयात किया जाता है उनमें सिगरेट, तंबाकू, पेंट और वार्निश, प्रिंटिंग स्याही, मेकअप का सामान, शैम्पू, हेयर डाई, कांच के आइटम, घड़ी, इंजेक्शन की शीशी शामिल है. DPIIT ने 300 सामन की लिस्ट तैयार की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज