होम /न्यूज /व्यवसाय /क्रिप्टोकरेंसी: इस साल हैकर्स ने किए बड़े-बड़े अटैक, अब तक चुराए 3 अरब डॉलर

क्रिप्टोकरेंसी: इस साल हैकर्स ने किए बड़े-बड़े अटैक, अब तक चुराए 3 अरब डॉलर

साइबर अपराधियों ने इस साल 125 हैक्स को अंजाम दिया.

साइबर अपराधियों ने इस साल 125 हैक्स को अंजाम दिया.

साइबर अपराधियों ने इस साल 125 हैक्स को अंजाम दिया. इन हैक्स में अब तक 3 बिलियन अथवा 3 अरब डॉलर से अधिक की चोरी की गई है ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

Chainalysis ने कहा- अक्टूबर के महीने में इस साल के सबसे अधिक हैक.
2021 में, हैकर्स ने 2.1 बिलियन डॉलर की हेराफेरी की गई थी.
क्रॉस-चेन ब्रिज पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहे हैं हैकर.

नई दिल्ली. ब्लॉकचैन एनालिटिक्स फर्म Chainalysis ने हाल ही में खुलासा किया कि साइबर अपराधियों ने इस साल 125 हैक्स को अंजाम दिया. इन हैक्स में क्रिप्टोकरेंसी में 3 बिलियन डॉलर से अधिक की चोरी की गई है. एक ट्विटर थ्रेड में, Chainalysis ने कहा कि अक्टूबर में 3 बिलियन डॉलर की चपत लगाई है. इस महीने ही 11 अलग-अलग हैक के जरिए लगभग 718 मिलियन डॉलर चुरा लिए गए हैं.

कंपनी ने ट्वीट किया, “अक्टूबर अब हैकिंग गतिविधि के लिए इस साल का अब तक का सबसे बड़ा महीना बन गया है. यह तब है, जबकि अभी लगभग आधा महीना बाकी है.”

ये भी पढ़ें – कैसे बनाएं अच्छा पोर्टफोलियो? म्यूचुअल फंड्स में ‘अंधाधुंध निवेश’ कितना सही?

हैकर्स ने बदला हमले का तरीका
Chainalysis ने कहा कि 2021 में, हैकर्स ने 2.1 बिलियन डॉलर की हेराफेरी की गई थी. पिछले कुछ वर्षों में, हैकर्स ने क्रिप्टो एक्सचेंजों पर हमला किया है, लेकिन अब, उन कंपनियों ने अपनी सुरक्षा को मजबूत कर लिया है, इसलिए साइबर अपराधियों ने अपना ध्यान “क्रॉस-चेन ब्रिज” पर केंद्रित किया है, जो निवेशकों को डिजिटल एसेट्स और डेटा को विभिन्न ब्लॉकचेन में स्थानांतरित करने की अनुमति देता है. बताया गया है कि ये ब्रिज बहुत सारी क्रिप्टोकरेंसी को स्टोर करते हैं.

Chainalysis ने ट्वीट किया, “क्रॉस-चेन ब्रिज, फिलहाल हैकर्स के लिए मुख्य लक्ष्य बने हुए हैं, इस महीने 3 ब्रिज टूटे हैं और लगभग 60 करोड़ डॉलर चोरी हो गए हैं.” सीबीएस न्यूज़ की एक रिपोर्ट के अनुसार, हैकर्स ने शुरुआत में बिनांस को क्रिप्टोकरेंसी में 570 मिलियन डॉलर का नुकसान पहुंचाया था, लेकिन नुकसान को कम करके 100 मिलियन डॉलर के अंदर ला दिया गया. बिनांस के CEO ने पिछले हफ्ते ऐसा बयान दिया था.

साइबर अपराधियों ने अगस्त में नोमाड (Nomad) पर भी अटैक किया और कथित तौर पर लगभग 200 मिलियन डॉलर चुरा लिए. रिपोर्ट में कहा गया है कि बिनांस और नोमाड दोनों हमलों पर हैकर्स ने क्रॉस-चेन ब्रिज ट्रांजेक्शन प्रोटोकॉल के भीतर सुरक्षा खामियों का फायदा उठाया.

Tags: Business news, Business news in hindi, Crypto, Cryptocurrency, Cyber Attack

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें