Happiest Minds Technologies का IPO खुला, जानिए आपके लिए पैसा लगाना सही या नहीं?

Happiest Minds Technologies का IPO खुला, जानिए आपके लिए पैसा लगाना सही या नहीं?
आज खुलेगा Happiest Minds Technologies, जानिए आपको खरीदना चाहिए की नहीं?

आईटी सेवाएं देने वाली कंपनी हैपिएस्ट माइंड्स टेक्नॉलजीज (Happiest Minds Technologies) का आईपीओ (IPO) आज सब्सक्रिप्शन के लिए खुल रहा है. कंपनी का इश्यू के जरिए 700 करोड़ से ज्यादा जुटाने का प्लान है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2020, 12:24 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आईटी सेवाएं देने वाली कंपनी हैपिएस्ट माइंड्स टेक्नॉलाजीज (Happiest Minds Technologies) का आईपीओ (IPO) आज सब्सक्रिप्शन के लिए खुल गया है. कंपनी का इश्यू के जरिए 700 करोड़ से ज्यादा जुटाने का प्लान है. बता दें कि इस इश्यू को सब्सक्राइब करने का मौका 9 सितंबर तक होगा. इस इश्यू का प्राइस बैंड 165 से 166 रुपये के बीच रखा गया है. इस आईपीओ को लेकर ग्रे मार्केट में काफी चर्चा थी. ग्रे मार्केट में यह शेयर 75 पर्सेंट प्रीमियम पर चल रहा था.

क्या करती हैं कंपनी?
Happiest Minds Technologies बेंगलुरु की IT कंपनी है जिसकी स्थापना 2011 में की गई. कंपनी का फोकस डिजिटल IT सुविधा देने पर है. कंपनी US, यूके ऑस्ट्रेलिया और मिडिल ईस्ट में कारोबार करती है.

वर्तमान में कंपनी के पास पूरी दुनिया में 148 ग्राहक हैं. कंपनी Retail, Edutech, Industrial, BFSI, Hi-Tech और Engineering सेक्टर को अपनी सेवाएं देती है. वित्त वर्ष 2020 में कंपनी की बिक्री 714 करोड़ रुपये रही थी जो वित्त वर्ष 2019 में 601 करोड़ रुपये रही थी. वित्त वर्ष 2020 में कंपनी का मुनाफा 71 करोड़ रुपये रहा था जो वित्त वर्ष 2019 में 14.2 करोड़ रुपये रहा था.
IPO के जरिए 702 करोड़ रुपये जुटाने की योजना


इस IPO से कंपनी की 702 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है. IPO की रकम का इस्तेमाल वर्किंग कैपिटल और सामान्य जरूरतों के लिए किया जाएगा. 702 करोड़ रुपये के कुल IPO साइज में 110 करोड़ रुपये का फ्रेश इश्यू होगा जबकि 592 करोड़ रुपये का ऑफर फॉर सेल होगा. IPO का मार्केट लॉट 90 शेयर का है.

कंपनी की आगे की योजना
बिक्री ऑफर से आने से मिलने वाली रकम बिक्री शेयरहोल्डर्स को मिलेगी जबकि फ्रेश इश्यू की बिक्री से मिली रकम को कंपनी लॉन्ग टर्म के लिए यूज करेगी और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों को पूरा करने के लिए किया जाएगा. कंपनी ने 31 मार्च को समाप्त वर्ष में 71.70 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट कमाया था, जबकि पिछले साल यह आंकड़ा 17.36 करोड़ रुपये का था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज