शिव नादर ने HCL Tech के मैनेजिंग डायरेक्टर का पद छोड़ा, अब संभालेंगे ये जिम्मेदारी

HCL की 60 फीसदी हिस्सेदारी शिव नाडर के पास है

शिव नादर कंप्यूटिंग और IT इंडस्ट्री के जानेमाने नाम हैं. 1976 में उन्होंने HCL Group शुरू किया था. इस कंपनी को देश का पहला स्टार्टअप माना जाता है. कंपनी के CEO सी विजयकुमार अब कंपनी के नए मैनेजिंग डायरेक्टर हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सोमवार को सुबह जहां एचसीएल टेक ने 30 जून 2021 के खत्म हुए वित्त वर्ष 2021-22 के पहली तिमाही के नतीजे पेश हुए तो वहीं शाम को कंपनी के को-फाउंडर शिव नादर ने  कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया. हालांकि इस बात का एचसीएल टेक के नतीजों से कोई लेना देना नहीं है क्योंकि उन्होंने 76 साल पूरा होने पर मैनेजिंग डायरेक्टर और कंपनी के डायरेक्टर पद से इस्तीफा दिया है और अब वे वह कंपनी के चेयरमैन एमिरेट्स और बोर्ड के स्ट्रैटेजिक एडवाइजर होंगे. मालूम हो नादर सहित 7 लोगों ने मिलकर 1976 में HCL Group शुरू किया था. BSE को दी गई जानकारी में कंपनी ने बताया, " कंपनी के चीफ सट्रैटेजी ऑफिसर और मैनेजिंग डायरेक्टर शिव नादर की उम्र 76 साल पूरा होने पर मैनेजिंग डायरेक्टर और कंपनी के डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया है. कंपनी के CEO सी विजयकुमार अब कंपनी के नए मैनेजिंग डायरेक्टर हैं. पिछले साल शिव नादर की बेटी रश्मी नादर मल्होत्रा को कंपनी का चेयरपर्सन नियुक्त किया था.

    HCL की 60 फीसदी हिस्सेदारी शिव नाडर के पास है

    शिव नादर कंप्यूटिंग और IT इंडस्ट्री के जानेमाने नाम हैं. 1976 में उन्होंने HCL Group शुरू किया था. इस कंपनी को देश का पहला स्टार्टअप माना जाता है. शिव नाडर की लीडरशिप में पिछले 45 साल के भीतर कंपनी ने स्टार्टअप से ग्लोबल IT कंपनी का रुतबा हासिल कर लिया है.फिस्कल ईयर 2021 में कंपनी की आमदनी 10 अरब डॉलर पहुंच गई. HCL की 60 फीसदी हिस्सेदारी शिव नाडर के पास है. कंपनी के सारे अहम फैसले चेयरपर्सन रोशनी नादर लेंगी.

    ये भी पढ़ें - नए नियम: जानिए सातवें वेतन आयोग के तहत सरकारी कर्मचारी की मौत के बाद परिवार को मिलेगी कितनी पेंशन?

    HCL Tech Q1 में मुनाफा 3,214 करोड़ रुपए

    सोमवार को ही कंपनी ने 30 जून 2021 के खत्म हुए वित्त वर्ष 2021-22 के पहली तिमाही के नतीजे पेश किए जिसमें इस अवधि में कंपनी का कंसोलिडेटड प्रॉफिट वित्त वर्ष 2020-21 के चौथी तिमाही के 1100 करोड़ रुपए से बढ़कर 3210 करोड़ रूपए पर आ गया है. इस अवधि में कंपनी की कंसो आय  पिछली तिमाही के 19,640 करोड़ रुपए से बढ़कर 20,070 करोड़ रुपए पर रही है. बता दें कि एनलिस्ट को कंपनी के आय के 20303 करोड़ रुपए पर और मुनाफे के 3253 करोड़ रुपए पर रहने का अनुमान था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.