रिटायरमेंट से पहले आदित्य पुरी ने HDFC Bank में 74 लाख से ज्यादा शेयर्स बेचे, 843 करोड़ रुपये जुटाया

रिटायरमेंट से पहले आदित्य पुरी ने HDFC Bank में 74 लाख से ज्यादा शेयर्स बेचे, 843 करोड़ रुपये जुटाया
एचडीएफसी बैंक के CEO व MD आदि​त्य पुरी

प्राइवेट सेक्टर HDFC Bank के CEO व MD आदित्य पुरी ने बीते दिनों 74.20 लाख शेयर्स बेचकर 842.87 करोड़ रुपये जुटाए हैं. पुरी वित्त वर्ष 2019-20 में सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले बैंकर हैं. अब उनके पास केवल 3.76 लाख शेयर्स ही बचे हैं.

  • Share this:
मुंबई. प्राइवेट सेक्टर के प्रमुख अग्रणी बैंक HDFC Bank के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक आदित्य पुरी (Aditya Puri) ने बैंक के 74 लाख से अधिक शेयर बेचकर 842.87 करोड़ रुपये जुटा लिये. शेयर बाजार को दी जानकारी के मुताबिक शेयरों की बिक्री 21-23 जुलाई के बीच हुई और इसके बाद पुरी की एचडीएफसी बैंक में हिस्सेदारी घटकर मात्र 0.01 फीसदी रह गई है. यह बिक्री पुरी के बैंक से सेवानिवृत्त होने के कुछ महीनों पहले की गई. पुरी का कार्यकाल अक्टूबर में खत्म होने वाला है.

पुरी के पास अब बचे केवल 3.76 लाख शेयर्स
उनके कार्यकाल में एचडीएफसी बैंक संपत्ति के लिहाज से निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा (Largest Private Bank in India) और सभी बैंकों में दूसरा बड़ा बैंक बन गया. उन्होंने बैंक के 77.96 लाख शेयरों में से 74.20 लाख शेयर बेच दिये और अब पुरी के पास बैंक के 3.76 लाख शेयर बचे हैं. शेयर बाजार के सप्ताहांत कारोबारी दिवस के बंद भाव के मुताबिक बचे हुए शेयरों की कीमत 42 करोड़ रुपये है.

बैंक के एक प्रवक्ता ने बताया कि पुरी को ये शेयर अलग-अलग समय पर दिए गए थे और ये शेयरों के अंकित मूल्य पर उन्हें जारी नहीं किए गए थे. उन्होंने कहा, ‘‘जितना बताया जा रहा है, पुरी द्वारा अर्जित किया गया शुद्ध मूल्य उतना नहीं है. इसमें शेयरों के अधिग्रहण की लागत और लेनदेन पर दिए गए कर को भी समायोजित करना होगा.’’
यह भी पढ़ें: महंगाई काबू करने के लिए फिर ब्याज दरें घटा सकता है RBI, लोन रिस्ट्रक्चरिंग की भी मांग



पिछले साल सबसे ज्यादा कमाई करने वाले बैंक हैं पुरी
पुरी वित्त वर्ष 2019-20 में सबसे ज्यादा कमाई करने वाले भारतीय बैंकर (Highest Earning Indian Banker) के रूप में उभरे थे और उनका कुल वेतन 20 फीसदी के साथ 18.92 करोड़ रुपये था. उन्होंने वर्ष के दौरान 161.56 करोड़ रुपये की अतिरिक्त कमाई भी की. वहीं 2018-19 में उनहोंने शेयर विकल्प का लाभ उठाते हुये 42.20 करोड़ रुपये हासिल किये.

कोरोना काल में 46 फीसदी बढ़ा एचडीएफसी बैंक शेयर भाव
एचडीएफसी बैंक का शेयर मूल्य कोविड-19 के दौरान 24 मार्च को 765 रुपये (HDFC Bank Share Price) का निचला स्तर छूने के बाद से 46 फीसदी चढ़ चुका है. गत शुक्रवार को BSE में बैंक का शेयर मूल्य 1,118.80 रुपये प्रति शेयर रहा था.

यह भी पढ़ें: होम लोन पर कर सकते हैं लाखों रुपये की बचत, जानिए क्या है तरीका

प्राप्त जानकारी के मुताबिक कर्मचारी शेयर स्वामित्व योजना के तहत 2019-20 में पुरी को बैंक के 6.82 लाख शेयर दिये गये थे. उन्होंने बैंक की अनुषंगी एचडीबी फाइनेंसियल सविर्सिज में 2019- 20 के दौरान 200 करोड़ रुपये के शेयर बेच दिये थे. पुरी अक्टूबर में 70 साल की आयु होने पर बैंक से सेवानिवृत हो जायेंगे. इंडसइंड बैंक के रोमेश सोब्ती के बाद वह दूसरे मुख्य कार्यकारी अधिकारी होंगे जो इस साल सेवानिवृत होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading