Home /News /business /

hdfc bank hikes fd interest rates get the latest rates here ssnd

HDFC Bank ने ब्याज दरों में किया इजाफा, अब FD पर मिलेगा ज्यादा रिटर्न

एचडीएफसी बैंक ने 2 करोड़ रुपये से कम की सावधि जमा पर ब्याज दरें बढ़ा दी हैं.

एचडीएफसी बैंक ने 2 करोड़ रुपये से कम की सावधि जमा पर ब्याज दरें बढ़ा दी हैं.

एचडीएफसी बैंक ने अपनी एक साल की एफडी की ब्याज दर को 5 फीसदी से 10 बेसिस प्वाइंट बढ़ाकर 5.10 फीसदी कर दिया है. नई दरें 6 अप्रैल से प्रभावी हो गई हैं.

नई दिल्ली : प्राइवेट सेक्टर के बड़े बैंक एचडीएफसी बैंक ने ब्याज दरों में बदलाव किया है. बैंक ने फिक्स्ड डिपॉजिट में जमा राशि पर ज्यादा रिटर्न देने का फैसला किया है. एचडीएफसी बैंक ने 2 करोड़ रुपये से कम की सावधि जमा पर ब्याज दरें बढ़ा दी हैं. नई दरें 6 अप्रैल से प्रभावी हो गई हैं.

बैंक की वेबसाइट के मुताबिक, एचडीएफसी बैंक ने अपनी एक साल की एफडी की ब्याज दर को 5 फीसदी से 10 बेसिस प्वाइंट बढ़ाकर 5.10 फीसदी कर दिया है. एक साल एक दिन से दो साल की अवधि वाली एफडी को भी 10 बेसिस प्वाइंट बढ़ाकर 5.10 फीसदी कर दिया गया है.

बैंक ने कहा है कि वह पांच साल की अवधि के लिए 5 करोड़ रुपये से कम के सावधि जमा वाले सीनियर सिटिजन को 25 आधार अंक प्रीमियम का भुगतान करता रहेगा. यह ऑफर नियमित 50 बेसिस प्वाइंट प्रीमियम के अतिरिक्त दिया जाएगा और यह नई सावधि जमा के साथ-साथ पुरानी एफडी के रिन्यू के लिए भी मान्य होगा.

यह भी पढ़ें- IPO में निवेश करने वालों के लिए गुड न्यूज़! UPI से कर सकते हैं 5 लाख तक का भुगतान

फरवरी में बैंक ने 1 साल की FD की ब्याज दर को 4.9 प्रतिशत से बढ़ाकर 5 परसेंट और 3 साल से 5 साल की FD की ब्याज़ दर को 5 बेसिस प्वाइंट इजाफे के साथ 5.40 प्रतिशत से बढ़ाकर 5.45 प्रतिशत कर दिया.

आरबीआई जारी करेगा नई मौद्रिक नीति
भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) 8 अप्रैल को घोषित होने वाली अपनी मौद्रिक नीति समीक्षा में नवीनतम रेपो और रिवर्स रेपो जारी करेगा. नए वित्त वर्ष की पहली 2 दिवसीय मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक आज से शुरू हो रही है. इस बैठक के बाद आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास नए वित्तीय वर्ष की पहली मॉनिटरी पॉलिसी का अनावरण शुक्रवार, 8 अप्रैल को करेंगे.

इस मामले से जुड़े जानकारों का मानना ​​है कि आरबीआई की नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं होगा. केंद्रीय बैंक ने अपनी पिछली बैठक में भी ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया था. रेपो रेट 4 फीसदी और रिवर्स रेपो रेट 3.5 फीसदी पर अपरिवर्तित रह सकता है.

पिछली 10 बैठकों में दरों में नहीं किया बदलाव
RBI ने पिछले 10 बैठकों में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है. पिछले वित्त वर्ष में पहले कोविड और अंत में रूस-यूक्रेन युद्ध ने पूरी दुनिया को बुरी तरह से प्रभावित किया. इसलिए, विशेषज्ञ उम्मीद कर रहे हैं कि इस बैठक में भी कोई दरों में कोई बदलाव नहीं होगा, जैसा कि इससे पहले की 10 बैठकों में भी दरों को अपरिवर्तित रखा गया था.

Tags: Bank rates, Business news, Hdfc bank

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर