• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • खुशखबरी: HDFC ने फ्री की ये सेवाएं, होगी बचत!

खुशखबरी: HDFC ने फ्री की ये सेवाएं, होगी बचत!

मार्केट कैप के आधार देश के टॉप 10 बैंकों की लिस्ट

1.HDFC बैंक                       5.04 लाख करोड़ रुपए

2.कोटक महिंद्रा बैंक             2.23 लाख करोड़ रुपए

एसबीआई 2.22 लाख करोड़ रुपए
ICICI बैंक 1.85 लाख करोड़ रुपए
एक्सिस बैंक 1.37 लाख करोड़ रुपए
इंड्सइंड बैंक 1.12 लाख करोड़ रुपए
यस बैंक 71 हजार करोड़ रुपए
बैंक ऑफ बड़ौदा 40 हजार करोड़ रुपए
पीएनबी 27 हजार करोड़ रुपए
10. आरबीएल बैंक‍                21 हजार करोड़ रुपए

मार्केट कैप के आधार देश के टॉप 10 बैंकों की लिस्ट 1.HDFC बैंक                       5.04 लाख करोड़ रुपए 2.कोटक महिंद्रा बैंक             2.23 लाख करोड़ रुपए एसबीआई 2.22 लाख करोड़ रुपए ICICI बैंक 1.85 लाख करोड़ रुपए एक्सिस बैंक 1.37 लाख करोड़ रुपए इंड्सइंड बैंक 1.12 लाख करोड़ रुपए यस बैंक 71 हजार करोड़ रुपए बैंक ऑफ बड़ौदा 40 हजार करोड़ रुपए पीएनबी 27 हजार करोड़ रुपए 10. आरबीएल बैंक‍                21 हजार करोड़ रुपए

प्राइवेट बैंक HDFC ने अपनी ऑनलाइन RTGS-NEFT ट्रांजैक्‍शन सर्विस को फ्री कर दिया है. बैंक ने ये सर्विस 1 नवंबर फ्री कर दी है.

  • Share this:
    प्राइवेट बैंक HDFC ने अपनी ऑनलाइन RTGS-NEFT ट्रांजैक्‍शन सर्विस को फ्री कर दिया है. बैंक ने ये सर्विस 1 नवंबर से फ्री कर दी हैं. बैंक का कहना है कि इस कदम को उठाने का उदेश्य डिजिटल बैंकिंग को बढ़ावा देना है. बैंक ने चेकबुक देने में चार्ज बदलने की घोषणा की है, जिसके चलते अब कस्टमर्स को एक साल में एक ही चेकबुक मिलेगी और दूसरी चेकबुक लेने पर चार्ज वसूला जाएगा.

    सिर्फ 1 चेकबुक होगी फ्री
    बैंक ने कहा है कि ग्राहकों को एक साल में 25 पन्नों की सिर्फ एक चेकबुक फ्री में दी जाएगी. इसके बाद अगर और चेक बुक की डिमांड आती है तो 25 पन्नों के लिए 75 रुपए लिए जाएंगे.

    चेक बाउंस होने पर बढ़ा पैनल्टी चार्ज
    HDFC ने चेक बाउंस होने की स्थिति में पैनल्टी चार्ज भी बढ़ा दिया है. बैंक ने चेक बाउंस होने पर 500 रुपए की पैनल्टी कर दी है. वहीं चेक भुगतान हुए बिना ही लौटने पर शुल्क राशि को 100 रुपए से बढ़ाकर 200 रुपए कर दिया गया है.

    अभी तक चुकानी होती थी इतनी फीस
    अभी आपको आरटीजीएस के जरिए 2-5 लाख रुपए तक का ट्रांजैक्शन करने पर 25 रुपए शुल्क देना होता है. जबकि एनईएफटी से 5 लाख रुपए से अधिक का ट्रांजैक्शन करने पर 50 रुपए की फीस चुकानी होती है. कंपनी ने अपने कस्टमर्स के लिए अब इसे फ्री कर दिया है. अब बिना किसी चार्ज के आप कितना भी ट्रांजैक्शन कर सकते हैं.

    ये भी पढ़ें:
    बेहद आसान हुआ छोटी बचत योजनाओं में इन्वेस्ट करना
    Yes Bank ने 2500 कर्मचारियों को कहा ‘No’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज