अपना शहर चुनें

States

HDFC बैंक ने शुरू किए CSC! अब लोन की किस्‍त जमा करने के लिए नहीं जाना होगा ब्रांच, जानें इस बारे में सबकुछ

HDFC बैंक ने ग्रामीण और देश के अंदरूनी इलाकों तक वित्‍तीय सेवाओं का विस्‍तार करने के लिए नई सुविधा शुरू की है.
HDFC बैंक ने ग्रामीण और देश के अंदरूनी इलाकों तक वित्‍तीय सेवाओं का विस्‍तार करने के लिए नई सुविधा शुरू की है.

देश के सबसे बड़े निजी क्षेत्र के कर्जदाता एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) ने कॉमन सर्विस सेंटर ई-गवर्नेंस सर्विसेस इंडिया लिमिटेड के साथ मिलकर ईएमआई कलेक्‍शन सर्विस (EMI Collection Services) शुरू कर दी है. ग्राहकों को वेरिफिकेशन के लिए विलेज लेवल एंटरप्रेन्‍योर (VLE) के साथ अपनी जानकारी साझा करनी होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2021, 8:15 PM IST
  • Share this:


नई दिल्‍ली. देश के सबसे बड़े निजी क्षेत्र के कर्जदाता एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) ने अपने ग्राहकों की सुविधा के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) की सुविधा शुरू की है. इससे बैंक के कर्जदारों (Borrowers) को लोन की किस्‍त जमा (Depositing EMI) करने के लिए शाखा के चक्‍कर नहीं लगाने पड़ेंगे. आसान शब्‍दों में समझें तो अब ग्राहक नजदीकी सेंटर पर ही लोन की किस्त जमा कर सकेंगे. एचडीएफसी बैंक और सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विसेस इंडिया लिमिटेड ने देश में अपने बिजनेस कॉरेस्‍पान्‍डेंट्स के लिए ईएमआई कलेक्शन सर्विसेस (EMI Collection Services) लॉन्च की हैं.

कर्जदारों को वीएलई के साथ साझा करनी होंगी कुछ जानकारियां
कॉमन सर्विस सेंटर पर किस्त जमा करने के लिए ग्राहकों को विलेज लेवल एंटरप्रेन्योर (VLE) के साथ अपनी कुछ जानकारियां साझा करनी होंगी ताकि उनका वेरिफिकेशन हो सके. इनमें ग्राहकों को लोन नंबर, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, पैन, जन्मतिथि जैसी कुछ जानकारियां वीएलई को उपलब्‍ध करानी होंगी. इसके बाद वीएलई लोन अकाउंट (Loan Account) का मिलान ग्राहक के रजिस्टर्ड फोन नंबर से करके सिस्टम पर देय राशि की जांच कर सकेंगे. इसके बाद वीएलई जमा की गई राशि की रसीद बैंक ग्राहक को देगा. इसके बाद वह ये राशि बैंक में जमा करा देगा.
ये भी पढ़ें- Budget 2020: विशेषज्ञों ने बताया- वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण इनकम टैक्‍स में क्‍यों नहीं देंगी बड़ी राहत



ग्रामीण और अंदरूनी इलाकों तक होगा वित्‍तीय सेवाओं का विस्‍तार
सीएससी के जरिये कलेक्शन फैसिलिटी शुरू होने से ग्राहकों को बैंक शाखा जाने की जरूरत नहीं होगी. इससे ग्रामीण और दूरदराज के इलाकों में वित्तीय सेवाओं का विस्तार होगा. एचडीएफसी बैंक के मुताबिक, इस अभियान के तहत सीएससी और एचडीएफसी बैंक लोन की नियमित ईएमआाई कलेक्ट करने के लिए बिजनेस कॉरेस्‍पॉडेंट्स की ओर से दी जाने वाली सेवाओं का इस्तेमाल करेंगे. ये ऑटो लोन, पर्सनल लोन, बिजनेस लोन के लिए डिपॉजिट प्वॉइंट का काम करेंगे. बता दें कि सीएससी के साथ एचडीएफसी बैंक की साझेदारी 1 लाख से ज्यादा वीएलई के जरिये बैंकिंग व वित्तीय सेवाओं को दूरदराज के इलाकों में लोगों के दरवाजे तक ले जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज