अपना शहर चुनें

States

HDFC बैंक को तीसरी तिमाही में 8,758 करोड़ का लाभ हुआ, इंटरेस्ट से इनकम 15% बढ़ा

एचडीएफसी बैंक ने तीसरी तिमाही के आंकड़े पेश किए.
एचडीएफसी बैंक ने तीसरी तिमाही के आंकड़े पेश किए.

HDFC Bank का FY2021 के Q3 में बैंक को कुल रेवेन्यू 23,760.8 करोड़ रुपये प्राप्त हुआ. वहीं, बैंक का टोटल बैलेंस शीट बढ़कर 16,54,338 करोड़ रुपये तक पहुंच गया. बैंक में जमा होने वाली राशि में 19.1% की बढ़ोतरी हुई और दिसंबर तिमाही में यह 12,71,124 करोड़ रुपये रहा.

  • Share this:
नई दिल्ली. वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही (Q3) में देश के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) ने शानदार प्रदर्शन किया है. शनिवार को HDFC Bank ने दिसंबर तिमाही ने नतीजे जारी किए. बैंक को FY2021 के Q3 में 8,758.3 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट हुआ है. जबकि, पिछले पिछले साल की समान अवधि में बैंक को 7,416.48 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था. यानी दिसंबर तिमाही में बैंक का नेट प्रॉफिट 18.1% बढ़ा है. वहीं, FY2021 के Q3 में HDFC को इंटरेस्ट से होने वाली कमाई में 15.1% का इजाफा हुआ है और यह 16,317.6 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है. जबकि वित्त वर्ष 2019-20 की दिसंबर तिमाही में यह 14,172.9 करोड़ रुपये था.
करेंट और सेविंग्स अकाउंट रेशियो बढ़ा- HDFC Bank ने बताया कि FY2021 के Q3 में बैंक को कुल रेवेन्यू 23,760.8 करोड़ रुपये प्राप्त हुआ. वहीं, बैंक का टोटल बैलेंस शीट बढ़कर 16,54,338 करोड़ रुपये तक पहुंच गया. बैंक में जमा होने वाली राशि में 19.1% की बढ़ोतरी हुई और दिसंबर तिमाही में यह 12,71,124 करोड़ रुपये रहा. वहीं, बैंक का करेंट एंड सेविंग्स अकाउंट रेशियो (CASA Ratio) 43% रहा, जो सितंबर तिमाही में 41.6% और पिछले साल दिसंबर तिमाही में केवल 39.5% था. बैंक का लिक्विडिटी कवरेज रेशियो 146% रहा. बैंक के नए सीईओ शशिधर जगदीशन की अगुवाई में यह HDFC Bank का पहला तिमाही नतीजा है.



यह भी पढ़ें: शक्तिकांत दास बोले- RBI की पॉलिसी की वजह से कोविड-19 के आर्थिक प्रभाव को कम करने में मिली मदद
लोन बुक 16% बढ़कर 10.8 लाख करोड़ रुपये पहुंचा - HDFC Bank का दूसरे श्रोतों से इनकम 7,443.2 करोड़ रुपये रहा. बैंक को फीस और कमीशन से 4,974.9 करोड़ रुपये, फॉरेन एक्सचेंज और डेरिवेटिव्स रेवेन्यू 562.2 करोड़ रुपये, इंवेस्टमेंट्स के सेल या रीवैल्यूएशन से 1,109 करोड़ रुपये और बैंक का miscellaneous income 797.1 करोड़ रुपये रहा. HDFC Bank का लोन बुक भी 16% बढ़कर 10.8 लाख करोड़ रुपये हो गया है. डोमेस्टिक रिटेल लोन में 5.2% की तेजी आई. वहीं, होलसेल लोन 25.5% बढ़ा. बैंक की एसेट क्वालिटी में भी सुधार हुआ है और NPA में 27 बेसिक प्वाइंट्स की कमी आई है. बैंक का NPA दिसंबर तिमाही में 0.09% कम हुआ है, जबकि सितंबर तिमाही में इसमें 0.17% की कमी आई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज