HDFC Bank में शिफ्ट होगा मुंबई पुलिस के 50 हजार कर्मचारियों का सैलरी अकाउंट, जानिए क्या है कारण

एचडीएफसी बैंक
एचडीएफसी बैंक

मुंबई पुलिस (Mumbai Police) अपने 50 हजार कर्मचारियों की सैलरी को एक्सिस बैंक से एचडीएफसी बैंक में ट्रांसफर कर रही है. इस संबंध में एक सरकारी सर्कुलर भी जारी कर दिया गया है. इन कर्मचारियों को एचडीएफसी बैंक की तरफ से कई लाभ मिलेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2020, 1:42 PM IST
  • Share this:
मुंबई. मुंबई पुलिस (Mumbai Police) में काम करने वाले कर्मचारियों की सैलरी अब एक्सिस बैंक (Axis Bank) के अकाउंट में नहीं आएगी. इन सभी कर्मचारियों का सैलरी अकाउंट प्राइवेट सेक्टर के ही एक अन्य बैंक यानी एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) में शिफ्ट किया जा रहा है. मुंबई पुलिस के अधिकारी ने इस बारे में जानकारी दी है. इस संबंध में एक सरकारी सर्कुलर भी जारी कर दिया गया है. बता दें कि मुंबई पुलिस में देश की सबसे बड़ी पुलिस फोर्स में से एक हैं. इसमें करीब 50 हजार कर्मचारी काम करते हैं.

ऐसे में अब इन सभी कर्मचारियों की सैलरी अकाउंट को एचडीएफसी बैंक में ट्रांसफर किया जाएगा. दरअसल, मुंबई ​पुलिस और एक्सिस बैंक के बीच सभी कर्मचारियों की सैलरी अकाउंट के लिए समझौता ज्ञापन (MoU) की अवधि 31 जुलाई 2020 को ही समाप्त हो चुकी है.

यह भी पढ़ें: किसानों के लिए बड़ी खबर- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 अक्टूबर को शुरू करेंगे ‘किसान सूर्योदय योजना’, जानिए सबकुछ




मुंबई पुलिस ने एचडीएफसी बैंक को ही क्यों चुना?
इसके बाद से ही मुंबई पुलिस दूसरे बैंक की तलाश में थी, जो उनके कर्मचारियों को एक्सिस बैंक से ज्यादा सुविधाएं दे सके. सर्कुलर में बताया गया कि कई बैंकों ने इसके लिए प्रस्ताव भेजा था, जिसमें से मुंबई पुलिस ने एचडीएफसी बैंक को चुना. इसके लिए एचडीएफसी बैंक और मुंबई पुलिस के बीच एक नया समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया.

यह भी पढ़ें: दिवाली के बाद और तेजी से गिर सकते हैं काजू-बादाम और किशमिश के दाम

मुंबई पुलिस कर्मचारियों को मिलेंगे ये फायदे
सर्कुलर में दी गई जानकारी के मुताबिक, मुंबई पुलिस के कर्मचारी की मौत प्राकृतिक तौर पर या कोविड-19 की वजह से मौत होने पर 10 लाख रुपये तक का लाइफ इंश्योरेंस कवर (Life Insurance Cover) मिलेगा. इसके अलावा मुंबई पुलिस में काम करने वाले कर्मचारियों को 90 लाख रुपये का एक्सिडेंटल डेथ कवर (Accidental Death Cover) मिलेगा. स्थायी आधा विकलांगता की स्थिति में 50 लाख रुपये का कवर मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज