• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • SBI को देख अब इस बैंक ने घटाई होम लोन की ब्याज दरें, आज से घट जाएगी आपकी EMI

SBI को देख अब इस बैंक ने घटाई होम लोन की ब्याज दरें, आज से घट जाएगी आपकी EMI

SBI को देख अब इस बैंक ने घटाई होम लोन की ब्याज दरें, आज से घट जाएगी आपकी EMI

SBI को देख अब इस बैंक ने घटाई होम लोन की ब्याज दरें, आज से घट जाएगी आपकी EMI

Housing Development Finance Corporation (HDFC) ने आज शुक्रवार (12 जून) से अपने खुदरा प्रधान ऋण दर (retail prime lending rate) में 20 आधार अंकों की कटौती कर दी है. इस दर के घटने से सभी मौजूदा एचडीएफसी (HDFC) रिटेल होम लोन और गैर-होम लोन ग्राहकों को फायदा होगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. Housing Development Finance Corporation (HDFC) ने आज शुक्रवार (12 जून) से अपने खुदरा प्रधान ऋण दर (retail prime lending rate) में 20 आधार अंकों की कटौती कर दी है. कटौती के बाद ये रेट 16.20% कर दिया गया है. इस दर के घटने से एचडीएफसी (HDFC) के सभी मौजूदा रिटेल होम लोन और गैर-होम लोन ग्राहकों को फायदा होगा.

    ये होंगी नई ब्याज दरें
    प्राइम लेंडिंग रेट वह दर है जिस पर वाणिज्यिक बैंक अपने सबसे भरोसेमंद और क्रेडिट योग्य ग्राहकों को उधार देते हैं. ब्याज दर में 20 बीपीएस की कमी के बाद, एचडीएफसी की नई दरें अब 7.5-8.5% के बीच होंगी.

    ये भी पढ़ें:- बढ़ रहा नकली नोटों का कारोबार! ऐसे पहचानें 2000 और 500 का नोट असली है या नकली?

    SBI द्वारा कर्ज घटाने के बाद लिया गया ये फैसला
    यह कदम भारतीय स्टेट बैंक (SBI) को देखकर लिया गया है. बता दें कि SBI ने एमसीएलआर में लगातार 13वीं बार कटौती का ऐलान किया है. इससे एसबीआई का लोन और सस्ता हो जाएगा. इस बार बैंक ने एमसीएलआर में 0.25 प्रतिशत की कटौती करने का फैसला किया है. बैंक ने जारी विज्ञप्ति में बताया है कि इससे होम लोन वालों को कितना फायदा होगा.

    SBI ने अब 7% किया MCLR
    बैंक की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि एक साल की अवधि की एमसीएलआर को 7.25 प्रतिशत से घटाकर 7 प्रतिशत कर दिया गया है. उसने कहा है कि नया फैसला 10 जून से लागू हो जाएगा. स्टेट बैंक इससे पहले बाहरी बेंचमार्क से जुड़ी ऋण दर (EBR) के साथ ही रेपो रेट से जुड़ी कर्ज की ब्याज दर (RLLR) में 1 जुलाई से 0.40 प्रतिशत कटौती की घोषणा कर चुका है. बैंक ने ईबीआर को जहां 7.05 प्रतिशत से घटाकर 6.65 प्रतिशत सालाना कर दिया है, वहीं रेपो रेट से जुड़ी ब्याज दर को 6.65 प्रतिशत से घटाकर 6.25 प्रतिशत कर दिया गया है.

    ये भी पढ़ें:- Fact Check: क्या 5 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को नौकरी से निकालने वाली है सरकार?

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज