खुशखबरी! ऑनलाइन ग्रॉसरी खरीदने पर अब आपको मिलेगा भारी डिस्काउंट

ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिप्कार्ट अब अमेजन का मुकाबला करने के लिए 'सुपरमार्ट' ग्रॉसरी स्टोर लॉन्च करने वाली है. फ्लिप्कार्ट के ऐसा करने से ग्रॉसरी मार्केट में कॉम्पटिशन बढ़ेगा.

News18Hindi
Updated: August 12, 2018, 9:50 AM IST
खुशखबरी! ऑनलाइन ग्रॉसरी खरीदने पर अब आपको मिलेगा भारी डिस्काउंट
ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिप्कार्ट अब अमेजन का मुकाबला करने के लिए 'सुपरमार्ट' ग्रॉसरी स्टोर लॉन्च करने वाली है. फ्लिप्कार्ट के ऐसा करने से ग्रॉसरी मार्केट में कॉम्पटिशन बढ़ेगा.
News18Hindi
Updated: August 12, 2018, 9:50 AM IST
ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट अब अमेजन का मुकाबला करने के लिए 'सुपरमार्ट' ग्रॉसरी स्टोर लॉन्च करने वाली है. फ्लिप्कार्ट के इस कदम से ग्रॉसरी मार्केट में कॉम्पटिशन बढ़ने की उम्मीद है. इससे ग्राहकों को जल्द ही ग्रॉसरी पर भारी डिस्काउंट मिलने की उम्मीद है. फ्लिपकार्ट अपने ग्रॉसरी बिजनेस में अगले तीन साल में $26.4 करोड़ (करीब 18 अरब रुपये) के निवेश की योजना बना रही है.

अलीबाबा के निवेश वाली ई-कॉमर्स कंपनी बिगबास्केट, सॉफ्टबैंक के निवेश वाली कंपनी ग्रोफर्स पर भी इसका असर होगा, क्योंकि अभी तक ऑनलाइन ग्रॉसरी मार्केट में इनका ही कब्ज़ा है.

कुल कार्ट वैल्यू पर भारी डिस्काउंट दिया जाएगा: फ्लिप्कार्ट
फ्लिपकार्ट के ग्रॉसरी हेड मनीष कुमार कहते हैं कि ग्रॉसरी खरीदते वक्त लोग अधिक से अधिक बचत करना चाहते हैं, क्योंकि इसकी खरीदारी बार-बार करनी पड़ती है. हालांकि, अभी उन्होंने ने ये नहीं बताया कि इस बिजनस में कंपनी कितना पैसा लगाने जा रही है. कुमार ने बताया कि ग्राहकों की बचत की ख्वाहिश को देखते हुए कुल कार्ट वैल्यू पर डिस्काउंट दिया जाएगा.

आपके पड़ोस वाला Post Office देता है फ्री में ये बैंकिंग सर्विस, घर पर मिलेगी जमा-निकासी की सुविधा



उन्होंने बताया कि कुछ महीने पहले कंपनी ने बेंगलुरु में ग्रॉसरी सर्विस का सॉफ्ट लॉन्च किया था. शहर से कंपनी को जितना बिजनस मिलता है, उसमें ग्रॉसरी की हिस्सेदारी अभी ही बढ़कर 25-30 पर्सेंट हो गई है. कंपनी इस साल के अंत तक इसे हैदराबाद, चेन्नई और दिल्ली में ले जाना चाहती है.

फ्लिप्कार्ट-वॉलमार्ट डील के बाद से ही शुरू है ग्रॉसरी मार्केट में आने की तैयारी
फ्लिपकार्ट-वॉलमार्ट के बीच $16 अरब (11 खरब रुपये) की डील के बाद से ही फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी बिजनस के आक्रामक तरीके से विस्तार की योजना बना रही है. कंपनी रोजाना डिस्काउंट, फास्ट डिलीवरी, बेहतर शॉपिंग एक्सपीरियंस और प्राइवेट लेबल ऑफरिंग्स के दम से ऑनलाइन ग्रॉसरी सेगमेंट में बड़ा हिस्सा हथियाना चाहती है. बेंगलुरु में कंपनी के पास ग्रॉसरी के लिए डेढ़ लाख एकड़ का फुलफिलमेंट सेंटर है. इसके साथ उसके पास 10,000 एसकेयू (स्टॉक कीपिंग यूनिट्स) भी हैं. फ्लिपकार्ट ने इसी कैटिगरी में 'फ्लिपकार्ट सुपरमार्ट सिलेक्ट' को प्राइवेट लेबल के तौर पर लॉन्च किया है.

ये भी पढ़ें: चंद मिनटों में आपके अकाउंट में आ जाएंगे 10 हजार, बस करना होगा ये काम

इन कंपनियों से अब फ्लिपकार्ट की टक्कर
ऑनलाइन ग्रॉसरी सेगमेंट में कड़ी टक्कर है. बिगबास्केट, अमेजन और ग्रोफर्स ने पहले ही इसमें अपने पैर जमा लिए हैं. फ्लिपकार्ट इसमें देरी से एंट्री कर रहा है. मार्च में ग्रोफर्स ने सॉफ्टबैंक से $6 करोड़ (करीब 4 अरब रुपये) जुटाए थे. वहीं, बिगबास्केट ने अलीबाबा से $22 करोड़ (15 अरब रुपये) का फंड जुटाया था. बिगबास्केट भी पेटीएम मॉल के साथ तालमेल में काम कर रहा है. वहीं, ऐमजॉन ने भारत में अपने फूड रिटेलिंग वेंचर में $50 करोड़ (34 अरब रुपये) निवेश करने का वादा किया था.

ग्रॉसरी मार्केट के एक्सपर्ट्स के मुताबिक, देश में ग्रॉसरी का बाजार 400 अरब डॉलर का है, जिसमें ऑनलाइन कंपनियों की हिस्सेदारी बहुत कम है. उनका कहना है कि इन कंपनियों के लिए जगह बनाना आसान नहीं होगा. इस सेगमेंट में हार या जीत कस्टमर एक्सपीरियंस से तय होता है.

(ये भी पढ़ें: SBI ग्राहक अब चंद मिनटों में ट्रांसफर कर पाएंगे पैसे, शुरू हो चुकी हैं ये सुविधा)

(ये भी पढ़ें: यहां FD कराने पर आपको मिलेगा सबसे ज्यादा रिटर्नजानें कितना होगा फायदा)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर