इस आईपीओ में पैसे लगाने से एक ही दिन में निवेशकों की हो गई चांदी, 44 प्रतिशत का मिला रिटर्न

निवेशकों को हेरंबा के शेयरों की लिस्टिंग के साथ ही प्रति शेयर 273 रुपए मुनाफा हुआ है.

निवेशकों को हेरंबा के शेयरों की लिस्टिंग के साथ ही प्रति शेयर 273 रुपए मुनाफा हुआ है.

हेरंबा इंडस्ट्रीज (Heranba Industries) के शेयर आज लिस्ट हुए. लिस्टिंग के साथ ही एनएसई पर इसके शेयर 44 फीसदी उछल गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 5, 2021, 12:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बाजार में शुक्रवार को एक और शेयर की लिस्टिंग हुई है. हेरंबा इंडस्ट्रीज (Heranba Industries) के शेयर एनएसई (NSE)पर 44 फीसदी के साथ 900 रुपए के स्तर पर लिस्ट हुए हैं. यानी निवेशकों को आईपीओ (IPO) की लिस्टिंग के साथ ही प्रति शेयर 273 रुपए मुनाफा हुआ है. बीएसई (BSE) पर भी शेयरों की लिस्टिंग 900 रुपए के भाव पर ही हुई है.
हेरंबा का आईपीओ 23 फरवरी को ओपन हुआ था और 25 फरवरी को बंद हुआ था. कंपनी ने इश्यू का प्राइस बैंड 626-627 रुपए रखा था. एक लॉट 23 शेयरों का रखा गया. यानी एक निवेशक ने कम से कम 14421 रुपए का निवेश किया. इस इश्यू के जरिए कंपनी ने 625 करोड़ रुपए जुटाए हैं. कंपनी इस इश्यू से मिले पैसे का इस्तेमाल अपनी वर्किंग कैपिटल जरूरतों को पूरा करने में करेगी.
यह भी पढ़ें : अदाणी पोर्ट्स आंध्र के दूसरे सबसे बड़े बंदरगाह में खरीदेगी हिस्सेदारी, मार्केट शेयर बढ़कर 30 प्रतिशत होगा

मुनाफा और मार्जिन बरकरार रखने की कोशिश करेगी कंपनी
लिस्टिंग पर बात करते हुए कंपनी के Managing Director रघुराम शेट्टी ने कहा कि आगे मुनाफा और मार्जिन बरकरार रखने की कोशिश रहेगी. पिछले 2-3 साल में कारोबार बेहतर हुआ है. US और यूरोप में कंपनी के रजिस्ट्रेशन का काम जारी है. एक्सपोर्ट मार्केट पर फोकस कर रहे हैं. हम अपने ग्रोथ प्लान के साथ आगे बढ़ रहे हैं.
यह भी पढ़ें : अब एक्सिस बैंक ने भी वाट्सएप से मिलाया हाथ, जानिए बैंक ऐसा क्यों कर रहे हैं



कंपनी के प्रमोटर्स ने बेचे हैं अपने शेयर
कंपनी के इश्यू में प्रमोटर्स सदाशिव के शेट्टी ने 58,50,000 शेयर और रघुराम के शेट्टी ने 22,72,038 शेयर बेचे हैं. इसके अलावा Sams Industries ने 812962 शेयर, Babu K Shetty ने 40,000 शेयर और Vittala K Bhandary ने 40,000 शेयर बेचे हैं. सदाशिव के शेट्टी, रघुराम के शेट्टी, बाबू के शेट्टी और विट्ठल के भंडारी कंपनी के प्रोमोटरों में शामिल हैं. 10 फरवरी तक कंपनी में इनकी कुल हिस्सेदारी 98.85 फीसदी थी.
यह भी पढ़ें : बदलती तस्वीर : 77% महिलाओं का भराेसा म्युच्युल फंड पर, एफडी सिर्फ 31% को पसंद

क्या काम करती है कंपनी
हेरंबा गुजरात स्थित कंपनी है जो फसल सुरक्षा के काम आने वाले कीटनाशक (insecticides),फंगीनाशक (fungicides) और खरपतवारनाशक (herbicides) बनाती है. कंपनी ने वित्त वर्ष 2020 में लैटिन अमेरिका, सीईएस, मिडिल ईस्ट, अफ्रीका, एशिया और दक्षिण-पूर्व एशिया के 60 से ज्यादा देशों को एक्सपोर्ट किया है. Heranba का भारत में काफी बड़ा डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क है जिसमें देश भर के 16 राज्यों और 1 केंद्रशासित क्षेत्र के 9,400 से ज्यादा डीलर जुड़े हुए हैं. देश भर में कंपनी के 21 भंडारण केंद्र भी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज