• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • इस सेविंग स्कीम में मिल रहा 8.3 फीसदी ब्याज, हर महीने खाते में आएंगे 10 हजार रुपये

इस सेविंग स्कीम में मिल रहा 8.3 फीसदी ब्याज, हर महीने खाते में आएंगे 10 हजार रुपये

एक स्कीम के तहत 8.3 फीसदी तक ब्याज मिल सकता है.

RBI द्वारा ब्याज दरों में कटौती के बाद सभी तरह की सेविंग्स पर ब्याज दरें घट चुकी है. ऐसे में Senior Citizens के पास एक विकल्प है, जिसके जरिये उन्हें 8.3 फीसदी की दर से ब्याज मिल सकता है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा नीतिगत ब्याज दरों में कटौती के बाद बैंकों और वित्तीय संस्थानों ने भी ब्याज दरों में घटाने का ऐलान कर दिया है. RBI ने रेपो रेट में 75 आधार अंक की कटौती की है, जिसके बाद यह 4.4 फीसदी के स्तर पर आ गया. वहीं, रिवर्स रेपो रेट में 90 आधार अंकों की कटौती की गई है. रिवर्स रेपो रेट इसके बाद घटकर 4 फीसदी के स्तर पर आ गया है. आरबीआई ने यह कदम इसलिए उठाया है कि ​कोरोना वायरस महामारी की वजह से देशभर में लगे लॉकडाउन के बीच लोगों के हाथ में पर्याप्त नकदी उपलब्ध हो.

    स्मॉल सेविंग्स स्कीम पर भी घटा ब्याज
    भारतीय स्टेट बैंक (SBI) द्वारा लेंडिंग रेट में कटौती के बाद केंद्र सरकार ने भी स्मॉल सेविंग्स स्कीम (Small Savings Schemes) पर मिलने वाले ब्याज को घटा दिया है. इनमें 1.2 फीसदी की कटौती की गई है, जिसके बाद अब सीनियर सिटीजनन सेविंग्स स्कीम (SCSS) पर सालाना 7.4 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है.

    यह भी पढ़ें: रतन टाटा के नाम पर वायरल हो रहा था ये फेक मैसेज, अब उन्होंने दिया ये जवाब

    रेग्युलर इनकम की बढ़ी परेशानी
    रेग्युलर इनकम नहीं होने की वजह से वरिष्ठ नागरिकों के लिए इस स्कीम पर ब्याज दर घटने से झटका लगा है. खासतौर से एक ऐसे समय में जब महंगाई में इजाफा हुआ है. ऐसे में इनके पास अभी भी एक स्कीम के तहत 8.3 फीसदी तक ब्याज पाने का विकल्प है.

    मिल सकता है 8.3 फीसदी ब्याज
    प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना (PMVVY) के तहत वरिष्ठ नागरिकों को 10 साल के लिए 8.3 फीसदी की दर से ब्याज मिल सकता है. इस स्कीम में सरकार की तरफ से गारंटी मिलती है. इस स्कीम के तहत निवेशकों को सालाना, छमाही, तिमाही या मासिक पेआउट का विकल्प भी मिलता है. मासिक स्तर पर इसके लिए ब्याज दर 8 फीसदी, तिमाती के लिए 8.05 फीसदी, छमाही के लिए 8.13 फीसदी और सालान के लिए 8.3 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है.

    यह भी पढ़ें: सैलरी कटने या नौकरी जाने पर मिलेगा इंश्योरेंस कवर, जानिए इस पॉलिसी के बारे में

    मिल सकता है हर महीने 10,000 रुपये
    ऐसे में हर अगर किसी वरिष्ठ नाग​रिक को सालाना कम से कम 12,000 रुपये का पेंशन चाहिए तो वो मिनिमम 1,44,578 रुपये इन्वेस्ट कर सकता है. इस स्कीम के तहत अधिकतम 15 लाख रुपये तक का निवेश किया जाता है. 15 लाख रुपये के​ इन्वेस्टमेंट पर अधिकतम 10,000 रुपये प्रतिमाह की पेंशन मिलेगी. प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना का लाभ भारतीय जीवन बीमा निगम के जरिये लिया जा सकता है.

    यह भी पढ़ें: मोदी सरकार की खास बीमा स्कीम! 342 रुपये में मिलेगा​ ट्रिपल इंश्योरेंस कवर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज