• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • उत्पादन बढ़ाने व क्षमता विस्तार के लिए जरूरी कदम उठा रही है हिंदुस्तान कॉपर

उत्पादन बढ़ाने व क्षमता विस्तार के लिए जरूरी कदम उठा रही है हिंदुस्तान कॉपर

Hindustan Copper

Hindustan Copper

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी हिंदुस्तान कॉपर अपनी खानों से उत्पादन बढ़ाने के लिए जरूरी कदम उठा रही है. इसके अलावा कंपनी विस्तार परियोजनाओं के जरिये अपनी खनन क्षमता को भी बढ़ा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली . सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी हिंदुस्तान कॉपर अपनी खानों से उत्पादन बढ़ाने के लिए जरूरी कदम उठा रही है. इसके अलावा कंपनी विस्तार परियोजनाओं के जरिये अपनी खनन क्षमता को भी बढ़ा रही है.

    कंपनी ने 2010-11 में अपनी खान उत्पादन क्षमता को 34 लाख टन सालाना से बढ़ाकर 1.22 करोड़ टन सालाना करने का लक्ष्य रखा था. बाद में इस लक्ष्य को बढ़ाकर 20.2 करोड़ टन सालाना कर दिया गया. कंपनी ने आयात पर निर्भरता को कम करने और तांबा धातु का घरेलू उत्पादन बढ़ाने के लिए यह लक्ष्य बढ़ाया है.

    पहले चरण में 1.22 करोड़ टन की क्षमता हासिल करने का लक्ष्य 
    हिंदुस्तान कॉपर ने अपनी 2020-21 की वार्षिक रिपोर्ट में कहा है, ‘‘विस्तार योजना का कार्यान्वयन चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा. पहले चरण में 1.22 करोड़ टन की क्षमता हासिल करने का लक्ष्य है. दूसरे चरण में इसे बढ़ाकर 20.2 करोड़ टन किया जाएगा.’’

    रिपोर्ट में कहा गया है कि खानों से उत्पादन बढ़ाने के लिए कंपनी जरूरी कार्रवाई कर रही है. इसके अलावा कंपनी मौजूदा खान विस्तार परियोजनाओं के जरिये भी खनन क्षमता को बढ़ाने की प्रक्रिया में है.

    यह भी पढ़ें- Cash Management: सेलरी वालों के लिए कैश को मैनेज करना बेहद जरूरी, जानिए सबसे कारगर तरीके

    रिपोर्ट में कहा गया है कि चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अरुण कुमार शुक्ला के नेतृत्व में बृहस्पतिवार को हिंदुस्तान कॉपर की 10 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री की प्रक्रिया की शुरुआत काफी अच्छी रही. संस्थागत निवेशकों ने 700 करोड़ रुपये से अधिक के शेयरों के लिए बोलियां लगाई हैं.

    एनएसई के आंकड़ों के अनुसार, 4.35 करोड़ शेयरों की पेशकश पर संस्थागत निवेशकों ने 6.14 करोड़ शेयरों के लिए बोली लगाई है. बीते वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनी का कारोबार 119 प्रतिशत बढ़कर 1,760.84 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. इससे पिछले वित्त वर्ष में यह 803.17 करोड़ रुपये रहा था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज