Home /News /business /

Hindustan Copper का ऑफर फॉर सेल खुला, सरकार 10% स्टेक बेचकर 1100 करोड़ जुटाएगी

Hindustan Copper का ऑफर फॉर सेल खुला, सरकार 10% स्टेक बेचकर 1100 करोड़ जुटाएगी

 हिंदुस्तान कॉपर के ऑफर फॉर सेल का इश्यू प्राइस 116 रुपए तय किया गया है.

हिंदुस्तान कॉपर के ऑफर फॉर सेल का इश्यू प्राइस 116 रुपए तय किया गया है.

सरकार हिंदुस्तान कॉपर में 10 फीसदी हिस्सेदारी ऑफर फॉर सेल के जरिए बेचेगी. इसमें 5% ग्रीन शू ऑप्शन है. हिंदुस्तान कॉपर का ऑफर फॉर सेल्स आज यानी 16 सितंबर को खुलेगा. रिटेल इनवेस्टर्स शुक्रवार को बोली लगा सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    मुंबई . Hindustan Copper का ऑफर फॉर सेल आज खुल गया है. सरकार ने हिंदुस्तान कॉपर (Hindustan Copper) में 10% हिस्सेदारी बेचने की तैयारी की है. सरकार यह स्टेक 1122 करोड़ रुपए में बेचेगी.

    डिपार्टमेंट ऑफ इनवेस्टेमंट एंड पब्लिक एसेट मैनेजमेंट सेक्रेटरी तुहीन कांत पांडे ने बुधवार को ट्वीट करके कहा है, “सरकार हिंदुस्तान कॉपर में 10 फीसदी हिस्सेदारी ऑफर फॉर सेल के जरिए बेचेगी. इसमें 5% ग्रीन शू ऑप्शन है. हिंदुस्तान कॉपर का ऑफर फॉर सेल्स आज यानी 16 सितंबर को खुलेगा. रिटेल इनवेस्टर्स शुक्रवार को बोली लगा सकते हैं.”

    इश्यू प्राइस 116 रुपए  
    हिंदुस्तान कॉपर के ऑफर फॉर सेल का इश्यू प्राइस 116 रुपए तय किया गया है. बुधवार को हिंदुस्तान कॉपर के शेयर 1.27% गिरकर 124.5 रुपए बंद हुए हैं. फिस्कल ईयर 2021 में हिंदुस्तान कॉपर का नेट प्रॉफिट 110 करोड़ रुपए रहा जबकि इससे पहले फिस्कल ईयर 2020 में 598 करोड़ रुपए का लॉस हुआ था.

    यह भी पढ़ें – फाइनेंशियल फ्रॉड के हो जाएंगे शिकार, अगर करेंगे इस तरह की गलतियां, जानिए कैसे बचें?
     2020 में कंपनी की आमदनी 888.81 करोड़ रुपए 
    सेंट्रल पब्लिक सेक्टर एंटरप्राइज (CPSE) की कुल आमदनी फिस्कल ईयर 2021 में 1822 करोड़ रुपए रही. जबकि फिस्कल 2020 में कंपनी की आमदनी 888.81 करोड़ रुपए थी. सरकार ने फिस्कल ईयर 2022 में विनिवेश से 1.75 लाख करोड़ रुपए जुटाने का टारगेट रखा है. हालांकि सरकार अभी तक सिर्फ 8369 करोड़ रुपए ही जुटा पाई है.

    सरकार ने एक्सिस बैंक में अपनी पूरी हिस्सेदारी बेच दी है. सरकार ने यह हिस्सेदारी SUUTI (pecified Undertaking of the Unit Trust of India) के जरिए बेची थी. एक्सिस बैंक में हिस्सेदारी बेचकर सरकार ने 3994 करोड़ रुपए जुटाए हैं. जबकि NMDC में हिस्सेदारी बेचकर 3654 करोड़ रुपए जुटाए थे. वहीं Hudco में स्टेक बेचकर सरकार ने 720 करोड़ रुपए जुटाए हैं.

    एयर इंडिया का विनिवेश
    निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) ने सूचना दी है कि एयर इंडिया विनिवेश के लिए लेन-देन सलाहकार (Transaction Adviser) को वित्तीय बोलियां प्राप्त हुई है. यह प्रक्रिया अब अंतिम चरण में है. इस बारे में जल्द ही घोषणा की जाएगी.

    ज्ञात हों कि एयर इंडिया में विनिवेश के लिए बोली लगाने के लिए आज 15 सितंबर को अंतिम तिथि के रूप में रखा गया है, और केन्द्रीय विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि इस तिथि को किसी भी परिस्थिति में आगे नहीं बढ़ाया जाएगा. एयर इंडिया के सूत्रों से प्राप्त सूचना के अनुसार इस बारइस डील को पूरा कर लिया जाएगा.

    ज्ञात हो कि इससे पूर्व वर्ष 2018 में सरकार ने एयर इंडिया में 76 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने की तैयारी की थी, लेकिन सरकार के तमाम प्रयास के बाद एयर इंडिया के लिए कोई खरीदार ही नहीं मिला था. इसके बाद सरकार ने फ़ैसला किया कि वह एयर इंडिया को पूरी तरह (100%) से बेच देगी.

    Tags: Business news, Business news in hindi, Disinvestment, Share market

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर