वाणिज्य सचिव बोले- TRIPS समझौते में ढील पर WTO का फैसला जल्द आने की उम्मीद

वैक्‍सीन

वैक्‍सीन

ट्रिप्स (TRIPS) समझौता कॉपीराइट, औद्योगिक डिजाइन, अघोषित सूचना या व्यापार संबंधी गोपनीय जानकारी की सुरक्षा जैसे बौद्धिक संपदा अधिकारों को लेकर किया गया बहुपक्षीय समझौता है.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत ने उम्मीद जताई है कि कोविड-19 (Covid-19) की वैक्सीन और दवाओं के मैन्युफैक्चरिंग का लाइसेंस खुला करने के लिए वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (World Trade Organization) में बौद्धिक संपदा के व्यापार संबंधी पहलुओं पर समझौते (Trade-Related Aspects of Intellectual Property Rights/TRIPS) में ढील की मांग वाले उसके और दक्षिण अफ्रीका के प्रस्ताव पर जल्द ही फैसला आ जाएगा.

गौरतलब है कि भारत और दक्षिण अफ्रीका ने अक्टूबर 2020 में कोविड-19 संक्रमण के इलाज, उसकी रोकथाम के संदर्भ में टेक्नोलॉजी के उपयोग को लेकर डब्ल्यूटीओ के सभी सदस्य देशों को ट्रिप्स समझौते के कुछ प्रावधानों से छूट दिए जाने का एक प्रस्ताव रखा है.

जनवरी 1995 में लागू हुआ था TRIP समझौता

ट्रिप्स समझौता जनवरी 1995 में लागू हुआ था. यह कॉपीराइट, औद्योगिक डिजाइन, अघोषित सूचना या व्यापार संबंधी गोपनीय जानकारी की सुरक्षा जैसे बौद्धिक संपदा अधिकारों को लेकर किया गया बहुपक्षीय समझौता है.
ये भी पढ़ें- Gold Price Today: अक्षय तृतीया पर सस्ता हुआ सोना! कीमतों में लगातार गिरावट, फटाफट चेक करें लेटेस्ट रेट्स

वाणिज्य सचिव अनूप वधावन ने कहा कि प्रस्ताव को कई देशों का समर्थन मिला है. उन्होंने शुक्रवार को कहा, ''मुझे उम्मीद है कि डब्ल्यूटीओ में जल्द ही कोई फैसला आ जाएगा. मुझे उम्मीद है कि इसे लेकर जल्द ही कोई नतीजा मिलेगा.'' वधावन ने कहा कि इस कदम से कोविड-19 से लड़ने के लिए टीके और दूसरे आवश्यक उत्पादों का उत्पादन बढ़ाने में मदद मिलेगी.

ये भी पढ़ें- FD रेट्स में इस बैंक ने किया बदलाव, आप भी ज्यादा ब्याज दर का उठा सकते हैं फायदा, जानें सबकुछ



देश में कोविड-19 के 3.43 लाख नये मामले, चार हजार मरीजों की मौत

उल्लेखनीय है कि देश में एक दिन में 3,43,144 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के बाद कोविड-19 के मामले बढ़कर 2,40,46,809 हो गए हैं जबकि 4,000 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 2,62,317 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 37,04,893 हो गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का 15.41 प्रतिशत है जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 83.50 प्रतिशत हो गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज