लाइव टीवी

कभी सिर्फ 2 रुपए में बिक गई थी ये कंपनी, अब निवेशक और प्रमोटर्स को किया मालामाल

News18Hindi
Updated: July 9, 2017, 5:17 PM IST
कभी सिर्फ 2 रुपए में बिक गई थी ये कंपनी, अब निवेशक और प्रमोटर्स को किया मालामाल
स्पाइसजेट की तरफ से जिस दिन से यह डायरेक्ट फ्लाइट शुरू हो रही है. उसी दिन श‍िर्डी एयरपोर्ट को बने हुए एक साल पूरा होगा. पिछले साल 1 अक्टूबर, 2017 को ही यह एयरपोर्ट ऑपरेशनल हुआ था.

अजय सिंह ने जब स्पाइसजेट का अधिग्रहण किया था तो उसके आर्थिक हालात बहुत खराब थे.

  • Share this:
एविएशन सेक्टर की बड़ी कंपनी किंगफिशर के हाल से तो सभी लोग वाकिफ है, लेकिन सन 2015 में स्पाइसजेट भी किंगफिशर की राह पर चलने लगी थी. कंपनी पर कर्ज का बोझ बढ़कर 1200 करोड़ रुपए हो गया था.

बीएसई पर कंपनी के शेयर में लगातार गिरावट आने से कंपनी की कीमत गिर गई थी. हालांकि, लगातार दो साल से निवेशकों और प्रमोटर्स और निवेशकों को बड़ा मुनाफा हो रहा है, मतलब साफ है कि पिछले 9 महीने में कंपनी के शेयर का भाव दोगुना हो गया है.

निवेशक और प्रमोटर्स हुए मालामाल

3 जुलाई 2015 को बीएसई का कंपनी का शेयर का भाव 19 रुपए था, जो कि अब बढ़कर 124.8 रुपए (6 जुलाई 2017) हो चुका है. मतलब साफ है कि अगर आपने 2 साल पहले शेयर में 5 हजार रुपए का निवेश किया होता तो आपको 263 शेयर मिलते. जिनकी कीमत अब 33 हजार रुपए हो जाती. फिलहाल कंपनी में प्रमोटर्स का हिस्सा 58.46 फीसदी है, इसकी वैल्यू करीब 4,400 करोड़ रुपए तक पहुंच चुकी है.

महज 2 रुपए में बिक गई थी स्पाइसजेट

दिल्ली हाइकोर्ट में स्पाइसजेट से जुड़े एक मामले में दिए गए हलफनामे से पता चला है कि कंपनी के को-फाउंडर अजय सिंह ने जनवरी 2015 के दौरान सिर्फ 2 रुपए में कलानिधि मारन और उनकी इनवेस्टमेंट कंपनी कल एयरवेज प्राइवेट लिमिटेड से स्पाइसजेट की 58.46 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी.

कर्ज के बोझ तले दबी थी स्पाइसजेटअजय सिंह ने जब स्पाइसजेट का अधिग्रहण किया था तो उसके आर्थिक हालात बहुत खराब थे, वित्तवर्ष 2014-15 के दौरान स्पाइसजेट को 687 करोड़ रुपए का घाटा उठाना पड़ा था और कंपनी नेट वर्थ निगेटिव 1,329 करोड़ रुपए रह गई थी. उस साल कंपनी पर कुल कर्ज 1,418 करोड़ रुपए हो गया था और कंपनी पर शॉर्ट टर्म देनदारी करीब 2,000 करोड़ रुपये की थी.

ऐसे हालात में अजय सिंह ने स्पाइसजेट पर दांव लगाया और न सिर्फ कंपनी को कर्जे से उबारा बल्कि अपने लिए मोटा मुनाफा भी कमाया. आपको बता दें कि अजय सिंह के बड़े कदम उठाने के बाद एक साल के दौरान ही कंपनी का कर्ज करीब 1,200 करोड़ रुपए घटाकर 800 करोड़ रुपए पर आ गया था.

ये भी पढ़ें

इस स्टॉक से लोगों ने 1 लाख से बनाए 15 लाख रुपये, अब भी है मौका

एविएशन सेक्टर दो साल में देगा 3000 लोगों को नौकरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2017, 10:11 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर