Ration Card: जानें राशन कार्ड बनवाने का ऑफ लाइन और Online तरीका, कुछ राज्यों ने बदले नियम

Ration Card: जानें राशन कार्ड बनवाने का ऑफ लाइन और Online तरीका, कुछ राज्यों ने बदले नियम
हर राज्य सरकारें अलग-अलग तरीके से राशन कार्ड बनाती हैं.

One Nation One Ration Card: भारत में आम तौर पर तीन प्रकार से राशन कार्ड (Ration Card) बनते हैं. गरीबी रेखा के ऊपर रहने वाले लोगों को एपीएल (APL), गरीबी रेखा के नीचे रहने वालों के लिए बीपीएल (BPL) और सबसे गरीब परिवारों के लिए अन्‍त्योदय (Antyodaya). राज्य सरकारें अपने नागरिकों को राशन कार्ड जारी करती हैं, जो एक पहचान पत्र का भी काम करता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2020, 8:29 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पिछले छह महीने से मोदी सरकार (Modi Government) की अगर किसी योजना की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है तो वह है मुफ्त खाद्यान्न योजना की. कोरोना काल में 81 करोड़ से ज्यादा राशन कार्डधारकों को भारत सरकार ने इस योजना की मदद से राशन पहुंचाई जा रही है. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान को भी आदमी भूखा न सोए इसके लिए मोदी सरकार ने मार्च महीने से ही राशन कार्डधारकों को 5 किलो अनाज (गेहूं, चावल और दाल) मुफ्त दे रही है. सरकार की यह स्कीम नवंबर तक जारी रहेगी. सरकार की इस योजना में राशन कार्ड (Ration Card) की बड़ी भूमिका है. राशन कार्ड  भारत सरकार (Central Gov.) की एक मान्यताप्राप्त सरकारी डॉक्यूमेंट (Official Document) है. राशन कार्ड की सहायता से लोग सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) के तहत उचित दर की दुकानों से खाद्यान्न बाजार मूल्य से बेहद कम दाम पर खरीद सकते हैं. आइए जानते हैं कि इस योजना से किन-किन लोगों को फायदा पहुंचता है और राशन कार्ड आप कैसे बना सकते हैं?

राशन कार्ड क्यों आपके लिए जरूरी है
भारत में आम तौर पर तीन प्रकार से राशन कार्ड बनते हैं. गरीबी रेखा के ऊपर रहने वाले लोगों को एपीएल (APL), गरीबी रेखा के नीचे रहने वालों के लिए बीपीएल (BPL) और सबसे गरीब परिवारों के लिए अन्‍त्योदय (Antyodaya). राज्य सरकारें अपने नागरिकों को राशन कार्ड जारी करती हैं, जो एक पहचान पत्र का भी काम करता है. राशन कार्ड बनवाने के लिए कुछ शर्तों को पूरा करना अनिवार्य होता है. गरीबी रेखा से नीचे या अंत्योदय योजना का राशन कार्ड बनवाने के लिए आपको कुछ दस्तावेज जमा करने होते हैं. भारत सरकार के फूड सिक्योरिटी एक्ट नए राशन कार्ड बनाने के लिए कुछ शर्त बनाए गए हैं.

how to get new ration card, how to add wife name in ration card, pds, Central Government, without ration cards get ration, without ration card get ration, One Nation One Ration card, ration cards online registration, PM Garib Kalyan Ann Yojana, business news in hindi, business newshttps://www.pdsportal.nic.in, https://www.pdsportal.nic.in, राशनकार्ड में नाम कैसे जुड़वाएं, पत्नी का नाम राशनकार्ड में कैसे जुड़वाएं, नए बच्चे का राशनकार्ड में नाम कैसे जुड़वाएं, राशनकार्ड के लिए कहां अप्लाई करें, वन नेशन वन राशन कार्ड, राशन कार्ड ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन बिना राशन कार्ड, बिना राशन कार्ड वालों को कैसे मिलेगा राशन, मुफ्त राशन, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, उत्तराखंड सरकार, राशन कार्ड गुम होने पर कैसे बनता है, राशनकार्ड गुम होने पर क्या करें, राशन कार्ड आधार से लिंक नहीं है तो क्या करें, अगर आपका राशन कार्ड बाढ़ में गुम हो जाए तो क्या करें, बारिश में बह जाए तो क्या करें, राशन कार्ड ऐसे बनाएं दोबारा,
भारत में आम तौर पर तीन प्रकार से राशन कार्ड बनते हैं.

कौन बना सकता राशन कार्ड


भारत का नागरिक ही राशन कार्ड बना सकता है.
नया राशन कार्ड बनाने के लिए पुराना राशन कार्ड नहीं होना चाहिए. एक आदमी को दो राशन कार्ड नहीं बन सकता. यह एक अपराध है.
जिसके नाम पर राशन कार्ड बनेगा, उसकी उम्र 18 साल से अघिक होनी चाहिए.
18 साल से कम उम्र के बच्चों का नाम माता-पिता के राशन कार्ड में ही शामिल किया जाता है.
परिवार के मुखिया के नाम पर ही राशन कार्ड बनता है.
राशन कार्ड में नाम शामिल होने के लिए परिवार के मुखिया से नजदीकी संबंध होना जरूरी.

कहां और कैसे बनता है राशन कार्ड
देश की हर राज्य सरकारें के खाद्यान्न विभाग का नए राशन कार्ड बनवाने की जिम्मेवारी है. राज्य सरकारें ही राशन कार्ड बनाती हैं. इसलिए हर राज्य सरकारों ने राशन कार्ड बनाने के लिए अलग-अलग नियम तय कर रखी हैं. हर राज्यों की आवेदन जमा करने की प्रक्रिया भी अलग-अलग है. कहीं इसके लिए ऑफलाइन आवेदन लिए जाते हैं तो कहीं ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से आवेदन करने की सुविधा है. उदाहरण के तौर पर अगर आप बिहार के रहने वाले हैं तो सबसे पहले आपको बिहार सरकार के आधिकारिक पोर्टल http://epds.bihar.gov.in/Default.aspx से आपको फॉर्म डाउनलोड करना पड़ेगा. आप पंचायतों से भी फॉर्म ले सकते हैं. फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी सही से भरना पड़ेगा. आप अपना और परिवार के सभी सदस्यों का नाम भरें. सभी सदस्यों के फोटो लगाएं. मोबाइल नंबर और बैंक खाते की जानकारी दें. फॉर्म के अंतिम चरण में शपथ पत्र भरना नहीं भूलें.

Ration Card, Applicability, Eligibility and required documents, how to apply for ration card, PDS, food security act, rashan card, Ration Card fraud case, ration card online, How to apply for Ration Card, One nation one ration card scheme, wrong documents in ration card, APL, BPL, ration card, ration card offline, How to get a new Ration Card, Ration Card, one nation one ration card, Ration card, ration card kaise banwaye, राशन कार्ड, भारत सरकार, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, गरीबी रेखा के नीचे रहने वालों के लिए, अन्‍त्योदय, सबसे गरीब परिवारों के लिए राशन कार्ड, गलत डॉक्यूमेंट्स के साथ राशन कार्ड बनाना अपराध, फूड सिक्योरिरटी एक्ट, फर्जी राशन कार्ड, पांच साल की सजा, राशन कार्ड, सस्ता अनाज, सस्ता गेहूं—चावल, सस्ता राशन, कोरोना लॉकडाउन, कोविड19, राशन कार्ड कौन बनवा सकता है, राशन कार्ड कैसे बनता हैदेश की हर राज्य सरकारें के खाद्यान्न विभाग का नए राशन कार्ड बनवाने की जिम्मेवारी है.
देश की हर राज्य सरकारें के खाद्यान्न विभाग का नए राशन कार्ड बनवाने की जिम्मेवारी है.


बिहार में फ्री बन रहे राशन कार्ड
बता दें कि बीते अप्रैल महीने से ही बिहार सरकार ने नए तरीके से राशन कार्ड बनाने की शुरुआत की है. बिहार सरकार ने इसके लिए एक अघिसूचना जारी की थी. इस अधिसूचना में बिहार में फ्री में ही राशन कार्ड बनाए जा रहे हैं. साथ ही आवेदकों को सात दिनों के अंदर ही राशन कार्ड बनाकर दे दिया जा रहा है.

इन दस्तावेजों की राशन कार्ड बनाने में जरूरत पड़ती है
राशन कार्ड बनाने के लिए आईडी प्रूफ के तौर पर आधार कार्ड, सरकारी बैंक में खाता, वोटर आई कार्ड, पासपोर्ट, सरकार के द्वारा जारी किया गया कोई अन्य आई कार्ड, हेल्थ कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस में कोई एक हो तो आप राशन कार्ड बना सकते हैं. इसके साथ ही अगर आपके पास पैन कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, आय प्रमाण पत्र, पते के प्रमाण के तौर पर बिजली बिल, गैस कनेक्शन बुक, टेलिफोन बिल, बैंक स्टेटमेंट या पासबुक, रेंटल एग्रीमेंट जैसे डॉक्युमेंट भी लगेंगे.

Ration Card, Applicability, Eligibility and required documents, how to apply for ration card, PDS, food security act, rashan card, Ration Card fraud case, ration card online, How to apply for Ration Card, One nation one ration card scheme, wrong documents in ration card, APL, BPL, ration card, ration card offline, How to get a new Ration Card, Ration Card, one nation one ration card, Ration card, ration card kaise banwaye, राशन कार्ड, भारत सरकार, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, गरीबी रेखा के नीचे रहने वालों के लिए, अन्‍त्योदय, सबसे गरीब परिवारों के लिए राशन कार्ड, गलत डॉक्यूमेंट्स के साथ राशन कार्ड बनाना अपराध, फूड सिक्योरिरटी एक्ट, फर्जी राशन कार्ड, पांच साल की सजा, राशन कार्ड, सस्ता अनाज, सस्ता गेहूं—चावल, सस्ता राशन, कोरोना लॉकडाउन, कोविड19, राशन कार्ड कौन बनवा सकता है, राशन कार्ड कैसे बनता हैहर राज्यों ने राशन कार्ड बनाने के लिए अलग-अलग नियम बना रखे हैं.
हर राज्यों ने राशन कार्ड बनाने के लिए अलग-अलग नियम बना रखे हैं.


कुछ राज्यों ने तरीका बदल दिया
हर राज्य सरकारें अलग-अलग तरीके से राशन कार्ड बनाती हैं. कुछ राज्यों में बनाने के लिए फीस लिए जाते हैं तो कुछ राज्यों में फ्री में बनाए जाते हैं. अलग-अलग वर्गों के लिए राशन कार्ड के फीस अलग-अलग होते हैं. जैसे, दिल्ली में अगर आप राशन कार्ड बनाते हैं तो इसके लिए आपको 5 रुपये से लेकर 45 रुपये तक फीस देने पड़ेंगे. राशन कार्ड बनाने के लिए सभी प्रकार की वेरिफिकेशन प्रक्रिया के बाद अमूमन 30 दिन लग जाते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज