Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    PM Kisan Scheme: कैसे करा सकते हैं पीएम किसान मानधन योजना में रजिस्ट्रेशन? जानिए यहां, बहुत आसान है प्रोसेस

    पीएम किसान मानधन योजना
    पीएम किसान मानधन योजना

    प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Mann Dhan Yojana) में आप अभी भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. बता दें अब तक कुल 21 लाख किसानों ने इस योजना में रजिस्ट्रेशन कराया है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 19, 2020, 10:04 AM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली: मोदी सरकार ने देश के किसानों को प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Mann Dhan Yojana) का तोहफा दिया था, लोकिन अगर अभी तक आपने इस स्कीम में रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है तो अब भी करा सकते हैं. केंद्र सरकार की इस स्कीम में किसानों को 3 हजार रुपए पेंशन की सुविधा मिलती है. बता दें अब तक कुल 21 लाख किसानों ने इस योजना में रजिस्ट्रेशन कराया है. पीएम किसान मानधन योजना के तहत 18 से 40 की उम्र के बीच का कोई भी किसान भाग ले सकता है. उसे 60 की उम्र तक आंशिक रूप से योगदान करना होता है. आइए आपको बतात हैं कि आप कैसे रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं-

    किस तरह करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन?
    पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए किसान को कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड और खसरा-खतौनी की नकल ले जानी होगी. रजिस्ट्रेशन के लिए 2 फोटो और बैंक की पासबुक की भी जरूरत होगी. रजिस्ट्रेशन के लिए किसान को अलग से कोई भी फीस नहीं देनी होगी. रजिस्ट्रेशन के दौरान किसान का किसान पेंशन यूनिक नंबर और पेंशन कार्ड बनाया जाएगा. आवेदनकर्ता के पास बचत बैंक खाता या पीएम किसान खाता होना जरूरी है.

    यह भी पढ़ें: EPFO पेंशनर्स के लिए जरूरी खबर, अगर आपका भी खो गया है PPO नंबर, तो घर बैठे दोबारा करें हासिल
    कौन कर सकता है इस स्कीम में आवेदन?


    >> 18 से 40 की उम्र का कोई भी किसान आवेदन कर सकता है.
    >> स्कीम में आवेदक किसान को 55 रुपये से 200 रुपये के बीच हर महीने 60 साल की उम्र तक योगदान करना होता है.
    >> 60 की उम्र के बाद किसानों को योजना के तहत कम से कम 3 हजार रुपये महीना पेंशन दी जाती है.
    >> इस पेंशन कोष का प्रबंधन भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) करती है.
    >> इस स्कीम में वही किसान आवेदन कर सकते हैं, जिनके पास अधिकतम 2 हेक्टेयर तक ही खेती योग्य जमीन हो.

    किसको कितना करना होगा अंशदान?
    सरकार की इस स्कीम में किसानों को 55 रुपये से 200 रुपये तक मासिक अंशदान करना होता है, जो किसान की उम्र पर निर्भर है. अगर 18 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो मासिक अंशदान 55 रुपये हर महीने होगा. वहीं अगर 30 साल की उम्र में इस योजना से जुड़ते हैं तो 110 रुपये हर महीने अंशदान करना होगा. इसी तरह अगर आप 40 की उम्र में जुड़ते हैं तो 200 रुपये महीना योगदान करना होगा.

    सरकार भी करती है बराबर का योगदान
    आपको बता दें इस स्कीम में सरकार की तरफ से भी योगदान किया जाता है. पीएम किसान मानधन में जितना योगदान किसान का होगा, उसी के बराबर योगदान सरकार भी पीएम किसान खाते में करेगी.

    किसान की मृत्यु हो जाने पर क्या होगा?
    अगर किसान की मृत्यु हो जाती है, तो किसान की पत्नी को पारिवारिक पेंशन के रूप में 50% पेंशन दी जाती है.

    क्या है यह स्कीम?
    पीएम किसान मानधन छोटे और सीमांत किसानों को मंथली पेंशन देने की योजना है, जिसमें 60 की उम्र के बाद हर महीने 3 हजार रुपए पेंशन दी जाती है. अगर पीएम किसान सम्मान निधि में आपका अकाउंट नहीं है तो इस पेंशन योजना के लिए हर महीने सब्सक्राइबर को अपनी उम्र के हिसाब से (18 साल-40 साल) योगदान देना होता है. लेकिन पीएम किसान में खाता है तो उसके तहत मिलने वाली किस्त में से ही हर महीने के हिसाब से साल भर का अंशदान करने का विकल्‍प है.

    यह भी पढ़ें: जानिए कब-कौन और कैसे उठा सकता है टैक्स छूट वाली विवाद से विश्वास स्कीम का फायदा

    किन लोगों को नहीं मिलेगा स्कीम का फायदा?
    बता दें नेशनल पेंशन स्कीम, कर्मचारी राज्य बीमा निगम, स्कीम, कर्मचारी भविष्य निधि स्कीम जैसी किसी अन्य सामाजिक सुरक्षा स्कीम के दायरे में शामिल लघु और सीमांत किसान को नहीं मिलता है. वे किसान जिन्होंने श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा संचालित प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना के लिए विकल्प चुना है. वे किसान जिन्होंने श्रम और रोजगार मंत्रालय दवारा संचालित प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मान-धन योजना के लिए विकल्प चुना है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज