• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Payment Card कितने तरह के होते हैं, जानिए इनसे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें और इनके फायदें

Payment Card कितने तरह के होते हैं, जानिए इनसे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें और इनके फायदें

 payment cards

payment cards

मार्केट में कई तरह के पेमेंट कार्ड होते है. इनको लेकर उपभोक्ता अक्सर क्न्फ्यूज होते हैं. हम इन कार्डों के बारे में विस्तार से आपको बता रहे हैं. मुख्यत: चार प्रकार के पेमेंट कार्ड (payment card) होते हैं, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, प्रीपेड कार्ड और इलेक्ट्रॉनिक कार्ड.

  • Share this:
    मुंबई . मार्केट में कई तरह के पेमेंट कार्ड होते है. इनको लेकर उपभोक्ता अक्सर क्न्फ्यूज होते हैं. हम इन कार्डों के बारे में विस्तार से आपको बता रहे हैं. मुख्यत: चार प्रकार के पेमेंट कार्ड (payment card) होते हैं, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, प्रीपेड कार्ड और इलेक्ट्रॉनिक कार्ड.



    इनके फायदे, उपयोग और विभिन्न आधार पर उन्हें अलग अलग समझते हैं. पेमेंट के मामले में ये सभी कार्ड अलग अलग इस्तेमाल होते हैं. कुछ सीधे कार्डधारक के बचत बैंक खाते से जुड़े होते हैं, तो कुछ आपके क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं.

    डेबिट कार्ड (Debit Card)



    अगर आपके पास कोई बचत बैंक खाता है, तो बैंक ने आपको एक डेबिट कार्ड जरूर इश्यू किया होगा. यह कार्ड आपके बचत खाते से लिंक्ड होता है. डेबिट कार्ड आमतौर पर वीजा या मास्टरकार्ड जैसे क्रेडिट नेटवर्क के साथ जुड़े होते हैं. कार्ड्स पर इन क्रेडिट नेटवर्क्स के प्रिंट होने का मतलब है कि उस कार्ड से विभिन्न देशों और स्थानों पर भुगतान किया जा सकता है. हालांकि, डेबिट कार्ड का उपयोग करने से आपका क्रेडिट स्कोर मजबूत नहीं होता है. आप अपने डेबिट कार्ड का उपयोग कर एटीएम से पैसा निकाल सकते हैं.

    यह भी पढ़ें - EPFO: PF के निवेश पर पैरेंट्स को भी मिलती है पेंशन, जानिए कब और कैसे निकालें सकते हैं EPS का पैसा?



    क्रेडिट कार्ड (Credit Card)

    कई बैंक और गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थान (NBFCs) क्रेडिट कार्ड जारी करते हैं. दूसरी अधिकृत कंपनियां भी क्रेडिट कार्ड जारी कर सकती हैं. क्रेडिट कार्ड के जरिए कार्डधारक पीओएस टर्मिनल या ई-कॉमर्स वेबसाइट से वस्तु या सेवा के बदले भुगतान कर सकते हैं. अगर आप समय पर बिलों का भुगतान करते हैं, तो क्रेडिट कार्ड आपका क्रेडिट स्कोर मजबूत करने में मदद करता है. इन क्रेडिट कार्ड का उपयोग विदेशों में भी किया जा सकता है. क्रेडिट कार्ड का उपयोग एटीएम से पैसा निकालने के लिए भी किया जा सकता है, लेकिन इसमें निकासी की राशि के आधार पर शुल्क कटता है.

    यह भी पढ़ें - SBI: अगर आपने भी कराई एसबीआई में FD, तो घर बैठे ऐसे डाउनलोड करें इंटरेस्ट सर्टिफिकेट



    प्रीपेड कार्ड (Prepaid Card)

    कई बैंक और कंपनियां प्रीपेड कार्ड जारी करती हैं. कार्डधारक द्वारा एडवांस में भुगतान की गई राशि के अगेंस्ट प्रीपेड कार्ड जारी होता है. यह राशि प्रीपेड कार्ड में स्टोर होती है. इस कार्ड का उपयोग वॉलेट के रूप में किया जा सकता है. प्रीपेड कार्ड के नियम कार्ड जारीकर्ता पर निर्भर करते हैं. इन कार्ड का उपयोग एटीएम से निकासी करने और पीओएस टर्मिनलय/ई कॉमर्स से खरीदारी करने में किया जा सकता है. आप इस कार्ड से फंड ट्रांसफर भी कर सकते हैं, लेकिन यह दी गई लिमिट और शर्तों पर निर्भर करता है.

    इलेक्ट्रॉनिक कार्ड (Elctronic Cards)

    ये कार्ड पर्सनल लोन जैसे विशेष ओवरड्राफ्ट अकाउंट में जारी किये जाते हैं. ये डेबिट कार्ड की तरह ही होते हैं. ओवरड्राफ्ट अकाउंट वाले ग्राहकों को बैंक घरेलू डिजिटल ट्रांजेक्शंस के लिए इलेक्ट्रॉनिक कार्ड देना है. सुरक्षा, मर्चेंट डिस्काउंट रेट (MDR) और एएफए (AFA) जैसे सभी उद्देश्यों के लिए डेबिट कार्ड से संबंधित निर्देश ही इलेक्ट्रॉनिक कार्ड पर लागू होते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज