होम /न्यूज /व्यवसाय /

कैसे पकड़ा गया दुनिया का सबसे पावरफुल गोल्ड ट्रेडर? हिला दी पूरी मेटल मार्केट

कैसे पकड़ा गया दुनिया का सबसे पावरफुल गोल्ड ट्रेडर? हिला दी पूरी मेटल मार्केट

नोवाक और स्मिथ के खिलाफ मामले में कीमतों को दबाने के लिए एक व्यवस्थित साजिश का कोई आरोप नहीं लगाया गया.

नोवाक और स्मिथ के खिलाफ मामले में कीमतों को दबाने के लिए एक व्यवस्थित साजिश का कोई आरोप नहीं लगाया गया.

शेयर बाजार हो या बुलियन मार्केट, हर जगह ऐसे लोग मिलते हैं, जो कीमतों में हेरफेर करने के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाते हैं. दुनिया के सबसे बड़े बुलियन बैंक जेपी मॉर्गन के कुछ कर्मचारी ऐसी ही धोखाधड़ी में लिप्त पाए गए.

हाइलाइट्स

जेपी मॉर्गन के ट्रेडर्स, नोवाक और ग्रेग स्मिथ ने बाजार को कथित तौर पर मैनिपुलेट (Manipulate) किया.
इन्होंने अपने सहयोगी ट्रेडर्स के साथ मिलकर, बाजार में बहुत तेजी से फर्जी ऑर्डर लगाए.
पिछले सप्ताह दुनियाभर के गोल्ड ट्रेडर्स की नजर इसी केस पर रही.

नई दिल्ली. बात 2018 की है. यूनाइटेड स्टेटट के फ्लोरिडा स्थिक फोर्ट लॉडरडेल हवाई अड्डे (Fort Lauderdale airport) पर एक व्यक्ति को पकड़ा गया. उसकी उम्र लगभग 30-32 साल की रही होगी. उसे एक कमरे में ले जाया गया, जहां पर फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टीगेशन (FBI) के दो एजेंट उसका इंतजार कर रहे थे. पकड़ा गया व्यक्ति डरा हुआ था. डर इस बात का था कि उसका एक सहयोगी पहले ही पकड़ा जा चुका था और वह अपने अपराध स्वीकार चुका था. इसलिए, इसे मालूम था कि वह भी पकड़ा जा सकता है.

इस व्यक्ति का नाम था क्रिश्चियन ट्रंज. वह सोने (Gold) का एक मिड-लेवल ट्रेडर था, न कि कोई ड्रग तस्कर या आतंकवादी. वह अपने हनीमून से लौटते समय पकड़ा गया था. ट्रंज सबसे बड़े बुलियन बैंक जेपी मॉर्गन चेस एंड कंपनी (JPMorgan) का कर्मचारी भी था.

ये भी पढ़ें – Gold Price Weekly: सोना-चांदी हुआ महंगा, जानें पूरे हफ्ते के सर्राफा बाजार का हाल

इस तरह सुलझी पूरी गुत्थी
इसी व्यक्ति ने बाद में बताया कि FBI की एयरपोर्ट पर की गई कार्रवाई, जेपी मॉर्गन के प्रीशियस मेटल डेस्क (Precious metals desk) के अमेरिकी अभियोजकों (US Prosecutors) द्वारा उठाया गया महत्वपूर्ण कदम था. इसी के आधार पर मामले की गुत्थी सुलझती चली गई. इसी कार्रवाई के आधार पर इसी डेस्क के पूर्व ग्लोबल हेड माइकल नोवाक (Michael Nowak) तक पहुंचा जा सका, जो इस मार्केट में सबसे पावरफुल पॉजिशन पर था.

पिछले सप्ताह दुनियाभर के गोल्ड ट्रेडर्स की नजर इसी केस पर रही. उन्होंने देखा कि किस तरह जेपी मॉर्गन के ट्रेडर्स, नोवाक और बैंक के लंबे समय से लीड गोल्ड ट्रेडर ग्रेग स्मिथ (Gregg Smith) समेत कुछ अन्य लोगों ने कैसे बाजार को कथित तौर पर मैनिपुलेट (Manipulate) किया. इन्होंने अपने अन्य सहभागियों (मुख्य रूप से एल्गोरिथम ट्रेडर्स) के साथ मिलकर, बाजार में बहुत तेजी से फर्जी ऑर्डर लगाए. माइकल नोवाक वित्तीय संकट के बाद से अमेरिका में दोषी ठहराए जाने वाले सबसे सीनियर बैंकरों में से एक बन गया है, और दशकों तक जेल में रहने की संभावना का सामना कर रहा है, हालांकि इसके चांस काफी कम हैं.

लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, नोवाक के वकीलों का तर्क है कि नोवाक “आपराधिक मास्टरमाइंड” नहीं था और उन्होंने कहा कि वे “अदालत में उसके अधिकारों की मांग करना जारी रखेंगे.” स्मिथ के एक वकील ने पिछले महीने दलील करते हुए कहा कि उनके मुवक्किल (नोवाक) के ऑर्डर वैध थे, और ग्राहकों की ओर से एक ही समय में फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट्स खरीदने और बेचने के लिए अन्य स्पष्टीकरण भी उपलब्ध हैं. सरकार को नोवाक और स्मिथ के अपराध की जूरी द्वारा मनाने के लिए अदालत में तीन सप्ताह लग गए. एक सेल्समैन जेफरी रफो (Jeffrey Ruffo) पर भी मुकदमा चला, लेकिन उसे बरी कर दिया गया.

ये भी पढ़ें – यह App बताएगा कितना शुद्ध और खरा है आपका सोना, जानिए इस्‍तेमाल का तरीका

एक दशक पहले शुरू हुई थी सुगबुगाहट
इस धोखाधड़ी की फुसफुसाहट कम से कम एक दशक से थी. एल्गोरिथम ट्रेडिंग फर्म के प्रमुख एलेक्स गेरको (Alex Gerko) ने 2012 की शुरुआत में CME ग्रुप इंक (CME Group Inc.) को सोने के बाजार में स्मिथ की गतिविधि के बारे में शिकायत की थी. परंतु स्मिथ और नोवाक 2019 तक बैंक में काम करते रहे, जब तक कि अमेरिका ने उन पर लगे आरोपों का पिटारा खोल नहीं दिया. गेरको ने पिछले महीने ट्वीट किया, “न्याय का पहिये चल रहे हैं, लेकिन बहुत धीमी गति से.”

बता दें कि इस मामले में काफी डेटा रिसर्च के बाद यह समझ में आया कि वास्तव में ऐसा किया गया था. मार्केट मैनिपुलेट करने वालों के पैटर्न समझने के लिए डेटा खंगालने हेतु सलाहकारों की नियुक्ति की गई. डेटा के आधार पर ही ट्रंज और उसके एक पूर्व सहकर्मी जॉन एडमंड्स (John Edmonds) को अपनी ही गलतियों के लिए अपराधी पाया गया और दोनों डेस्क के बॉस के खिलाफ बोलने को तैयार हुए.

नोवाक की गिरफ्तारी से हिला मेटल जगत
नोवाक को सितंबर 2019 में गिरफ्तार किया गया. इसके बाद मेटल जगत एक तरह से हिल गया. लेकिन इसके आई कोरोना की महामारी के चलते ट्रायल पूरा होने में और तीन साल का वक्त लग गया. अपनी गवाही में, एडमंड्स, जिन्होंने जेपी मॉर्गन में एक ऑपरेशन्स के रोल में शुरुआत की थी, ने डेस्क पर स्पूफिंग को एक दैनिक घटना के रूप में वर्णित किया और कहा कि वह भाग लेने के लिए बाध्य थे, क्योंकि यह सामान्य रणनीति का हिस्सा था.

नोवाक और स्मिथ के खिलाफ मामले में कीमतों को दबाने के लिए एक व्यवस्थित साजिश का कोई आरोप नहीं लगाया, इसके बजाय यह तर्क दिया कि उन्होंने जेपी मॉर्गन के सबसे महत्वपूर्ण हेज फंड ग्राहकों को लाभ पहुंचाने के लिए बहुत ही कम समय में और दोनों दिशाओं में बाजारों को धोखा दिया.

Tags: Business news, Business news in hindi, Gold, Gold price, Stock market

अगली ख़बर