Aadhaar में मोबाइल नंबर अपडेट कराने के नहीं चाहिए कोई डॉक्युमेंट, UIDAI ने आसान किया प्रोसेस

 नंबर अपडेट करने के क्या है फायदे
नंबर अपडेट करने के क्या है फायदे

आइए आपको बताते हैं आधार में मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए कौनसे डॉक्यूमेंट जरूरी है और नंबर अपडेट करने के क्या फायदे हैं..

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 17, 2019, 7:59 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आधार कार्ड (Aadhaar Card) धारकों को डिटेल्स अपडेट (करेक्शन/बदलवाना) कराने की सुविधा देता है. इनमें से कई डिटेल्स के अपडेशन के लिए प्रूफ के तौर पर वैलिड डॉक्युमेंट (Valid Document) की जरूरत होती है. अगर आपका मोबाइल नंबर आधार (Aadhaar-Mobile Number Update) में अपडेट नहीं है तो ये करना आपके लिए बहुत जरूरी है. आधार में मोबाइल नंबर अपडेट कराने के लिए आपको केवल अपने आधार कार्ड के साथ निकटतम आधार सेंटर जाना होगा. आइए आपको बताते हैं आधार में मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए कौनसे डॉक्यूमेंट जरूरी हैं और नंबर अपडेट करने के क्या फायदे हैं..

आधार के साथ मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करने के फायदे और नुकसान 
(1) Aadhaar के साथ मोबाइल नंबर नहीं जुड़ेगा तो आधार बेस्ड ऑनलाइन सर्विस का फायदा नहीं मिल पाएगा. क्योंकि, ऐसी सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP भेजा जाता है.

(2) मोबाइल रजिस्टर्ड नहीं होने पर ऑनलाइन एड्रेस अपडेट, नाम में बदलाव जैसी सर्विस का फायदा नहीं उठाया जा सकता.
ये भी पढ़ें- यहां लगाएं पैसा मिलेगा 8.60 फीसदी से ज्यादा ब्याज, बचें हैं बस 15 दिन



(3) जिन सर्विसेज में आधार ऑथेंटिकेशन- जैसे ITR वेरिफिकेशन और OPD अपॉइंटमेंट की जरूरत होती है उन सेवाओं का फायदा नहीं उठाया जा सकता.

(4) mAadhaar को मोबाइल आधार कहते हैं जो आपके फोन में रहता है. इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए आधार के साथ मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होना जरूरी है. ये UIDAI की मोबाइल ऐप आधारित सेवा है.

ऐसे करें अपने आधार नंबर के साथ मोबाइल को रजिस्टर्ड
अगर आपने भी आधार से मोबाइल नंबर को लिंक नहीं किया है तो जल्द करवा लें. यह काम ऑनलाइन संभव नहीं है. इसके लिए आधार सेंटर जाना होगा. बायोमेट्रिक पहचान के बाद आपका आधार डेटा खुलता है. यहां आपका मोबाइल नंबर रजिस्टर करना होगा. यह चार्जेबल सर्विस है जिसकी फीस 50 रुपये है...

ये भी पढ़ें- करोड़ों किसानों को मिला किसान क्रेडिट कार्ड, जानिए आप ऐसे कर सकते है अप्लाई

(1) आईवीआरएस के जरिये आप अपने मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कर सकते हैं. इसके लिए यूआईडीएआई ने 14546 टोल फ्री नंबर जारी किया है. आप इस नंबर पर कॉल करके आसानी से अपना मोबाइल नंबर आधार से लिंक कर सकते हैं.



(2) इसके लिए आपको जिस मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करना है, उससे टोल फ्री नंबर 14546 पर कॉल करना होगा. इस पर कॉल करने के बाद आप से आधार नंबर पूछा जाएगा.

(3) आपको अपना आधार नंबर एंटर करना है. जैसे ही आप अपना आधार नंबर यहां एंटर करेंगे, आधार के साथ आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर 'वन टाइम पासवर्ड' आएगा.

(4) आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा, वैसे ही इसे एंटर कर दीजिए. ओटीपी एंटर करते ही आपका मोबाइल नंबर आधार से लिंक हो जाएगा.

(5) जानकारी दर्ज करते वक्त यह ध्यान जरूर रखें कि आप सही-सही जानकारी दें क्योंक‍ि जैसे ही आप अपनी आधार डिटेल यहां एंटर करेंगे, वैसे ही यूआईडीएआई का सिस्टम इसे वेरीफाई करेगा. जानकारी सही होने के बाद ही आपका नंबर लिंक होगा.

ये भी पढ़ें- आज से 24 घंटे फ्री में NEFT से भेज सकेंगे पैसा, RBI ने लागू किया ये नियम

ये डिटेल्स भी बिना डॉक्युमेंट होती है अपडेट
आधार कार्ड में मोबाइल नंबर के अलावा फोटो, बायोमेट्रिक्स (फिंगरप्रिंट व आंख की पुतली का स्कैन), जेंडर यानी लिंग और ईमेल ID भी बिना किसी डॉक्युमेंट प्रूफ के अपडेट हो जाती है. केवल नाम (आधार धारक का नाम/पिता का नाम/पति का नाम/सरनेम), जन्मतिथि और पता अपडेट कराने के लिए संबंधित डॉक्युमेंट प्रूफ की जरूरत होती है. इन्हें UIDAI वेबसाइट पर मौजूद वैलिड डॉक्युमेंट लिस्ट से पता किया जा सकता है. यह लिस्ट ‘माय आधार’ सेक्शन में ‘डाउनलोड्स’ में जाकर मिलेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज