लाइव टीवी

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आपको सस्ता होम लोन मिलेगा या नहीं! ऐसे करें अपना नाम चेक

News18Hindi
Updated: June 18, 2019, 5:16 AM IST
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आपको सस्ता होम लोन मिलेगा या नहीं! ऐसे करें अपना नाम चेक
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आपको सस्ता होम लोन मिलेगा या नहीं! ऐसे करें अपना नाम चेक

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत मिलने वाली छूट को साल 2020 तक बढ़ा दिया है. मतलब साफ है कि कमजोर आय वर्ग (ईडब्ल्यूएस या EWS) और लोअर इनकम ग्रुप (एलआईजी या LIG) को मिलने वाली क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (ब्याज सब्सिडी) का फायदा अगले मार्च 2020 तक उठाया जा सकता है.

  • Share this:
प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत मिलने वाली छूट को साल 2020 तक बढ़ा दिया है. मतलब साफ है कि कमजोर आय वर्ग (ईडब्ल्यूएस या EWS) और लोअर इनकम ग्रुप (एलआईजी या LIG) को मिलने वाली क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (ब्याज सब्सिडी) का फायदा अगले मार्च 2020 तक उठाया जा सकता है. इस स्कीम (PMAY) के तहत अपना पहला घर बनाने या खरीदने वालों को होम लोन (Home Loan) पर ब्याज सब्सिडी का फायदा दिया जाता है. होम लोन (Home Loan) के ब्याज पर 2.60 लाख रुपये का फायदा कमजोर आय वर्ग के लोग उठा सकते हैं.

आइए जानें इससे जुड़ी सभी काम की बातें...

(1) जिन लोगों की आमदनी तीन लाख रुपये सालाना से कम है वे EWS कैटेगरी में आते हैं. छह लाख रुपये सालाना तक कमाने वाले लोग LIG में आते हैं.

(2) इन दोनों कैटेगरी में PMAY के तहत छह लाख रुपये तक के लोन पर 6.5 फीसदी तक ब्याज सब्सिडी का फायदा उठाया जा सकता है.

भी पढ़ें: मोदी सरकार का तोहफा! किसानों के लिए लाएगी कैशबैक स्कीम

(3) मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी योजना सबके लिए घर-2022 के तहत सरकार ने CLSS शुरू की थी. बाद में इसे बढ़ाकर छह लाख से 12 लाख रुपये सालाना और 12 से 18 लाख रुपये सालाना तक की आमदनी वाले लोगों तक भी कर दिया गया था.


Loading...

(4) क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (CLSS) में मध्यम आय वर्ग के ऐसे लोगों को जिनकी सालाना आय 6 लाख से 12 लाख रुपए के बीच है, उन्हें 9 लाख रुपये के 20 साल अवधि वाले होम लोन (Home Loan) पर 4 फीसदी की ब्याज सब्सिडी मिलेगी.

(5) होम लोन (Home Loan) पर ब्याज की दर 9 फीसदी है तो आपको PMAY के तहत यह 5 फीसदी ही चुकानी होगी. 12 लाख से 18 लाख रुपये की सालाना आय वाले लोगों को 4 फीसदी की ब्याज सब्सिडी मिलेगी.

(6) कहां से उठा सकते हैं फायदा बैंक, हाउसिंग फाइनेंस कंपनी, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, स्माल फाइनेंस बैंक और बहुत से संस्थान इस योजना का लाभ ग्राहकों को उपलब्ध करा रहे हैं. नेशनल हाउसिंग बैंक (NHB) और हुडको (HUDCO) भी इस योजना में शामिल हैं.

अप्लाई करने के बाद ऐसे चेक करें अपना नाम

अगर आप घर बनाने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (PMAY-G) में होम लोन के लिए आवेदन कर दिया है. अगर हां तो हम आपको बता रहे हैं कि लाभार्थियों की लिस्ट में अपना नाम चेक करने की प्रक्रिया क्या है?

(1) PMAY-G के तहत आवेदन करने के बाद केंद्र सरकार लाभार्थियों का चुनाव करती है. योजना के लाभार्थियों के चुनाव के बाद फाइनल लिस्ट वेबसाइट पर डाल दी जाती है.

(2) अगर आपने PMAY-G के तहत होम लोन के लिए आवेदन किया है और अपना नाम सूची में चेक करना चाहते हैं तो यह प्रक्रिया अपना सकते हैं.



 

(3) सबसे पहले आप PMAY की वेबसाइट पर जायें.आप इस लिंक पर भी क्लिक कर सकते हैं: https://pmaymis.gov.in/

(4) इसके बाद ऊपर के टैब में सर्च बेनिफिशियरी टैब पर माउस ले जायें. यहां आपको नाम से लाभार्थी खोजें (सर्च बाय नेम) दिख जायेगा.इस पर क्लिक करें. इसके बाद यह पेज खुलेगा.

(5) इसके बाद आपके सामने जो पेज खुलेगा उसमें इस नाम के सभी लोगों की सूची दिखेगी. आप अपने नाम पर क्लिक कर इस बारे में पूरी जानकारी ले सकते हैं.

ये भी पढ़ें- सावधान! मोदी सरकार ने आज से लागू किया इनकम टैक्स का सख्त कानून, अब जुर्माना देकर भी नहीं बच पाएगा टैक्स चोर

(6) PMAY-G में आप छह लाख रुपये का लोन सालाना छह फीसदी तक की ब्याज दर पर ले सकते हैं. अगर आपको घर बनाने के लिए इससे ज्यादा रकम चाहिए तो आपको उस अतिरिक्त रकम पर आम ब्याज दर से लोन लेना होगा. अब जब ऑनलाइन वेबसाइट पर कई कैलकुलेटर मौजूद हैं, आप भी अपने होम लोन की रकम और ब्याज दर के हिसाब से मासिक किस्त की गणना कर सकते हैं.

(7) अगर आप सब्सिडी रकम कैलकुलेटर पेज पर जाना चाहते हैं तो आप सीधे इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं: https://nhb.org.in/government-scheme/pradhan-mantri-awas-yojana-credit-linked-subsidy-scheme/ews-lig-new-loan-sanctioned-on-or-after-01-01-2017/

(8) यहां आप इस टैब पर क्लिक करें. यहां आपको लोन की रकम, लोन की अवधि, ब्याज दर आदि डालने पर सब्सिडी की रकम के बारे में पता चल जायेगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 18, 2019, 5:16 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...