अब देश के हवाई अड्डे होंगे हाईटेक! खतरे को तुरंत भांपकर करेंगे सिक्योरिटी को अलर्ट

News18Hindi
Updated: September 3, 2019, 7:00 PM IST

भारतीय हवाईअड्डों की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार एजेंसी BCAS अब एक ऐसा सिस्टम लगाने की तैयारी है, जिससे किसी के चेहरे के हाव-भाव और चाल-ढाल को देखकर ही खतरे का अंदाजा लगाया जा सकेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 3, 2019, 7:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हवाईअड्डों (Airports) पर आपके व्यवहार (Behaviour) की खासतौर पर निगरानी की जाने वाली है. भारतीय हवाईअड्डों की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार एजेंसी BCAS अब एक ऐसा सिस्टम लगाने की तैयारी है, जिससे किसी के चेहरे के हाव-भाव और चाल-ढाल को देखकर ही खतरे का अंदाजा लगाया जा सकेगा. सिक्योरिटी एजेंसी (Security Agency) ने इंग्लैंड और अमेरिका से ह्यूमन बिहेवियर डिटेक्शन ट्रेनिंग मॉड्यूल (Human Behavior Detection Training Module) के लिए संपर्क किया है. इसके बाद भारत खुद अपना ट्रेनिंग मॉड्यूल बनाएगा. अगर कोई संदिग्ध अपने साथ विस्फोटक या कोई हथियार लेकर आया है तो उसके हावभाव कैसे होंगे, एयरपोर्ट में एंट्री के समय उसकी चाल और बॉडी लैंग्वेज किस तरह की होगी. अमेरिका का ट्रांसपोर्ट सिक्योरिटी एडमिनिस्ट्रेशन (TSA) इस तकनीक को अपना रहा है.

क्या है बिहेवियर डिटेक्शन तकनीक?
बिहेवियर डिटेक्शन तकनीक व्यक्ति के संकेतों को पहचानने की तकनीक है. किसी भी तरह का ऐसा व्यवहार जो खतरनाक हो सकता है तुरंत सुरक्षाकर्मियों को अलर्ट कर देगा. इसके लिए एक तरफ जहां CISF के जवानो को इस तकनीक में प्रशिक्षित किया जा रहा है. वहीं दूसरी तरफ एयरपोर्ट के कैमरे को खास सॉफ्टवेयर से जोड़ा जाएगा. हजारों की भीड़ में भी ये कैमरे संदिग्ध की पहचान कर सकेंगे. अगर किसी व्यक्ति का क्रिमिनल इतिहास रहा है तो ऐसे व्यक्तियों का खास तौर पर बिहेवियर डिटेक्शन होगा.

ये भी पढ़ें: FD नियमों को लेकर बड़े बदलाव की तैयारी कर रही है सरकार, मिलेगा ये फायदा

एक्सपर्ट्स की माने तो यह तकनीक आंतकवाद के अलावा ड्रग्स स्मगलिंग, मनी लाउंडरिंग, फर्जी पहचान वालों को पकड़ने में कारगर है. दरअसल, किसी भी तरह के अपराध को करने की मंशा रखने वालों का व्यवहार खास तौर पर बदल जाता है. बिहेवियर डिटेक्शन इस बदवाल को पहचानने की प्रक्रिया है. इजराइल ने खास तौर पर तेल अविव खी फ्लाइट्स पर चढ़ने वाले यात्रियों के बिहेवियर डिटेक्शन की मांग की है.

प्वाइंटर्स-
> भारतीय हवाई अड्डों बिहेवियर डिटेक्शन की तैयारी
Loading...

>> चुनिंदा एयरपोर्ट्स पर BCAS अपनाने जा रही है बिहेवियर डिटेक्शन तकनीक
>> चेहरे के हावभाव ऑर बॉडी लैंगवेज देखकर ही खतरे का अंदाजा लगाया जा सकेगा
>> भारत बिहेवियर डिटेक्शन का ट्रेनिंग मॉड्यूल बनाएगा
>> संदिग्ध के हावभाव, चाल और बॉडी लैंग्वेज पर नजर
>> अमेरिका का ट्रांसपोर्ट सिक्योरिटी एडमिनिस्ट्रेशन (TSA) इस तकनीक को अपना रहा है
>> बिहेवियर डिटेक्शन व्यक्ति के संकेतों को पहचानने की तकनीक
>> खतरनाक व्यवहार का अलर्ट तुरंत सुरक्षाकर्मियों को
>> एयरपोर्ट कै कैमरे को खास सॉफ्टवेयर से जोड़ा जाएगा
>> हजारों की भीड़ कैमरे संदिग्ध की पहचान कर सकेंगे
>> क्रिमिनल इतिहास रखने वालों का खास तौर पर बिहेवियर डिटेक्शन
>> आंतकवाद , ड्रग्स स्मगलिंग, मनी लाउंडरिंग, फर्जी पहचान वालों को पकड़ने में कारगर
>> इजराइल ने खास तौर पर तेल अविव की फ्लाइट्स के यात्रियोॆ के बिहेवियर डिटेक्शन की मांग की है.

ये भी पढ़ें: लंबी कतारों से छुटकारा, अब घर बैठे बदल सकेंगे Aadhaar में घर का पता और फोन नंबर

(रोहन सिंह, संवाददाता- CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 6:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...