Home /News /business /

hydration and immunity nodvkj

हाइड्रेशन और इम्युनिटी

पानी और इलेक्ट्रोलाइट्स को एक साथ लाना किसी ड्रीम टीम के जैसा है.

पानी और इलेक्ट्रोलाइट्स को एक साथ लाना किसी ड्रीम टीम के जैसा है.

हमारे शरीर का ज्यादातर हिस्सा पानी से बना है- लगभग 60%. शरीर की हर कोशिका, ऊतक और अंगों को सही तरीके से काम करने के लिए पानी की जरूरत होती है. हाइड्रेट रहने के लिए सिर्फ पानी की ही जरूरत नहीं होती है- आपको इलेक्ट्रोलाइट्स भी चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

आपने कई बार सुना होगा कि हमारे शरीर को ठीक तरह से चलने के लिए पानी की जरूरत होती है. यह एक आम बात है, जो हम अक्सर ही सुनते-पढ़ते रहते हैं. सही हाइड्रेशन की वजह से शरीर में अच्छे बदलाव भी आपने महसूस किए होंगे. जब आप सही तरीके से हाइड्रेट होते हैं, तो शरीर में कौन से बदलाव नजर आते हैं?

कम शब्दों में कहें, तो बहुत सारे.

हाइड्रेशन शरीर के लिए क्यों जरूरी है?
हमारे शरीर का ज्यादातर हिस्सा पानी से बना है- लगभग 60%. शरीर की हर कोशिका, ऊतक और अंगों को सही तरीके से काम करने के लिए पानी की जरूरत होती है. हाइड्रेट रहने के लिए सिर्फ पानी की ही जरूरत नहीं होती है- आपको इलेक्ट्रोलाइट्स भी चाहिए. इलेक्ट्रोलाइट्स खनिज तत्व (मिनरल्स) होते हैं, जो पानी में घुलकर खनिज में बदल जाते हैं. इलेक्ट्रोलइट्स आप जो भी खाते या पीते हैं उनसे शरीर में पहुंचता है. इन खनिज तत्वों में सोडियम पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्निशियम हैं. ये खनिज तत्व आपके शरीर में घुल-मिल जाते हैं और इलेक्ट्रिकल एनर्जी के जरिए अंगों को ठीक तरह से काम करने में मदद करते हैं.

पानी और इलेक्ट्रोलाइट्स को एक साथ लाना किसी ड्रीम टीम के जैसा है. पानी की वजह से ही हमारे शरीर में लार बनता है, पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने, श्‍लेष्मली कोशिकाओं की झिल्ली को नम रखने, कोशिकाओं में आई टूट-फूट को ठीक करने, शरीर से अपशिष्ट (बेकार तत्वों) को बाहर निकालने, दिमाग को सही तरीके से काम करने में, खाद्य पदार्थों को ऊर्जा में बदलने, पूरे शरीर में ऑक्सीजन की पूर्ति, जोड़ों को मजबूत बनाने और  शरीर के तापमान को पसीने और सांस के जरिए नियंत्रित रखने के लिए ज़रूरी है. इलेक्ट्रोलाइट्स आपके शरीर में कोशिकाओं तक ज़रूरी पोषण पहुंचाने और अपशिष्ट पदार्धों को निकालने का काम करता है. इससे शरीर की कोशिकाओं में हुई टूट-फूट को दुरुस्त करने और आपकी नसों, मांसपेशियों, दिल और दिमाग की प्रक्रिया को ठीक तरह से चलने में मदद करता है.

इनमें से बहुत सारी प्रक्रियाएं आपके इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोध क्षमता) को मदद करता है. अगर आपके शरीर में पानी या फिर इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी हो, तो आपको इसका असर कई तरह से नज़र आने लगेगा. जैसे कि सिर में दर्द, चीजें भूल जाना या एकाग्र नहीं हो पाना (ब्रेन फ़ॉग) और एक कमज़ोर इम्यून सिस्टम जैसे लक्षण आपको दिखेंगे. आसान शब्दों में कहें, तो अगर आपका फ्लूएड कम है, तो आप खतरनाक स्थिति में है.

हाइड्रेशन कैसे इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करता है?
पसीना हमारे शरीर को सुरक्षित रखने का सबसे पहला और जरूरी तरीका है. जब पसीना निकलता है, तो आपके शरीर के अपशिष्ट पदार्ध भी बाहर निकल जाते हैं, पर्यावरण से आने वाले विषैले तत्व और बैक्टीरिया भी बाहर निकलते हैं. अगर आप बहुत ज़्यादा डिहाइड्रेटेड हैं और आपके शरीर से पसीना सामान्य तरीके से नहीं निकल रहा है, तो सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है. पसीने के ज़रिए शरीर से बाहर निकलने वाले तत्व शरीर में ही रह जाएं, तो खतरनाक इनफ़ेक्शन हो सकते हैं. अगली बार अगर आप बीमार पड़ें तो सबसे पहले खूब पानी पीएं. पर्याप्त मात्रा में पानी पीना इसलिए जरूरी है ताकि आपका शरीर सही तरीके से काम कर सके!

असल में, इस तथ्य की जानकारी बहुत कम ही लोगों को है कि जब हम इनफ़ेक्शन या बुखार की वजह से बीमार होते हैं, तो शरीर में फ्लूएड की मात्रा घटने लगती है. औसत तापमान से प्रति एक डिग्री ज़्यादा तापमान पर  700-1000मिली. तक फ्लूएड की कमी शरीर में होने लगती है! फ़्लूएड की कमी शरीर के हर हिस्से को प्रभावित करती है. अगर हाइड्रेशन को सही समय पर नहीं ठीक किया गया, तो इससे इम्यून सिस्टम भी बुरी तरह से प्रभावित हो सकता है.

अगर आपके शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा न हो, तो आपकी किडनी शरीर में मौजूद हानिकारक तत्वों को नहीं निकाल सकती है. एक बार आपके शरीर में हानिकारक तत्व बढ़ने लगे, तो यह आपके इम्यून सिस्टम को कमजोर बना देती है. शरीर को अलग-अलग तरह की बीमारियों और इनफ़ेक्शन से बचाने के लिए इम्यून सिस्टम का मजबूत होना जरूरी है.

जब बात हाइड्रेशन और इम्युनिटी की हो, तो इलेक्ट्रोलाइट्स और हाइड्रेशन बढ़िया संयोजन है और फ़िट रहने के लिए जरूरी भी है. अगर आप डिहाइड्रेटेड हों, खास तौर पर अगर आपको लगता है कि आप पर्याप्त मात्रा में पानी पी रहे हैं – तो यहां शायद आपके शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी है. इसे सुलझाने का सबसे आसान तरीका है कि तुरंत एक डब्ल्यूएचओ ओरल रिहाइड्रेशन सॉल्यूशन, जैसे कि इलेक्ट्रॉल पीएं. इलेक्ट्रॉल, भारत में साल 1972 से ही है. शरीर को डिहाइड्रेशन से बचाने के लिए जिन तत्वों की जरूरत होती है, उनका सही संयोजन इसमें है. साथ ही यह इम्युनिटी बढ़ाने के लिए भी उपयोगी है.

निष्कर्ष
पानी को लेकर जितनी भी बातें की जाती हैं, वह असल में जरूरी हैं. हाइड्रेशन तेल या फ़्यूल की तरह है जो आपके इम्युनिटी को मजबूत बनाता है और सही तरह से काम करने में मदद करता है. जैसे आप किसी कार को बिना फ्यूल के नहीं चला सकते हैं, वैसे ही शरीर हाइड्रेशन के बिना काम नहीं कर सकता है. इसलिए जरूरी है कि पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं और फिट रहें.

#यह पार्टनर्ड पोस्ट है.

Tags: Dehydration, Health, Hydrationforhealth

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर